1. home Hindi News
  2. religion
  3. surya grahan 10 june 2021 date and time in india timings kab hai pregnancy par prabhav kab lagega grahan samay pregnant women must do this small work at the time of solar eclipse there will be no harm to the baby rdy

Surya Grahan 2021 Pregnancy: सूर्य ग्रहण के समय गर्भवती महिलाएं जरूर करें ये छोटा सा काम, नहीं होगा शिशु को कोई नुकसान

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Surya Grahan 2021 Pregnancy
Surya Grahan 2021 Pregnancy
Prabhat khabar

Surya Grahan 10 June 2021 Date and Time in India, Timings Kab Hai, Kab Lagega Samay: 10 जून दिन गुरुवार को इस साल का पहला सूर्य ग्रहण लग रहा है. ज्योतिष शास्त्र के अनुसार यह ग्रहण भारत में नहीं दिखाई देगा. इसलिए भारत में सूर्य ग्रहण के दौरान धार्मिक कार्यों पर कोई भी मनाही नहीं है. इसके बावजूद सूर्य ग्रहण के दौरान कुछ लोगों के लिए कुछ कार्य वर्जित होते हैं, खासकर गर्भवती महिलाओं के लिए. मान जा रहा है कि इस ग्रहण का बुरा प्रभाव गर्भवती महिलाओं के शिशु पर पड़ सकता है.

पंचांग अनुसार ये ग्रहण ज्येष्ठ महीने की अमावस्या को वृषभ राशि और मृगशिरा नक्षत्र में लगने जा रहा है. इस दिन वट सावित्री व्रत और शनि जयंती भी है. इस साल का पहला सूर्य ग्रहण उत्तरी अमेरिका के उत्तरी भाग, यूरोप और एशिया में आंशिक रूप में दिखाई देगा. वहीं उत्तरी कनाडा, ग्रीनलैंड और रुस में पूर्ण चंद्र ग्रहण का नजारा देखने को मिलेगा. ग्रहण की शुरुआत दोपहर 1 बजकर 42 मिनट से हो जाएगी. इसकी समाप्ति शाम 6 बजकर 41 मिनट पर होगी.

ग्रहण के समय गर्भवती महिलाएं बरतें सावधानी

ग्रहण के दौरान गर्भवती महिलाओं को विशेष सावधानी रखनी होती है. ग्रहण काल के समय गर्भवती महिलाओं को घर के अंदर रहना चाहिए, क्योंकि गर्भ पर ग्रहण की छाया पड़ना अशुभ माना जाता है. ग्रहण काल के समय गर्भवती महिलाओं को सूई, कैंची, चाकू आदि नहीं चलाना चाहिए. इसका असर शीशु पर पड़ता है.

  • गर्भवती महिलाओं को अपने बच्चे को सुरक्षित रखने के लिए 'महा मृत्युंजय मंत्र' या 'संतान गोपाल मंत्र' या 'सूर्य मंत्र' या 'विष्णु मंत्र' का जाप करना चाहिये.

  • गर्भवती महिलाओं को ग्रहण को खुली आंखों से नहीं देखना चाहिए. क्योंकि यह हानिकारक हो सकता है. इसका सीधा प्रभाव आंख और शीशु पर पड़ता है.

  • सूर्य ग्रहण के दौरान, गर्भवती महिलाओं को सोना नहीं चाहिए. उसे फर्श पर फैली घास पर बैठना चाहिए.

  • ग्रहण के दौरान भोजन, पानी ग्रहण नहीं करना चाहिए.

  • ग्रहण के समय प्रेगनेंट महिला और शिशु के स्‍वास्‍थ्‍य को नुकसान पहुंचाता है, लेकिन धार्मिक मान्‍यताओं के अनुसार ग्रहण गर्भवती महिलाओं के लिए अशुभ होता है. इसलिए ग्रहण के समय में गर्भवती महिलाओं को घर से बाहर निकलने से मना किया जाता है, ताकि ग्रहण के अशुभ प्रभाव से बचा जा सके.

सूर्य ग्रहण में गर्भवती को क्या करना चाहिए

घर के अंदर रहें और आराम करें। ग्रहण काल के दौराल शरीर को ज्‍यादा थकाएं नहीं. नुकीली चीजों का इस्‍तेमाल करने से बचें. ग्रहण में कुछ भी खाने और पीने के लिए मना किया जाता है, लेकिन अगर आपसे ऐसा नहीं हो पा रहा है तो बच्‍चे की सेहत का ध्‍यान रखते हुए आप कुछ खा सकती हैं. प्रेगनेंट महिलाओं को नंगी आंखों से ग्रहण को देखने के लिए मना किया जाता है.

Posted by: Radheshyam Kushwaha

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें