1. home Hindi News
  2. religion
  3. panchang 2021 see how many auspicious days in the year 2021 from bhoomi poojan to buying a house marriage and for business start working know vivah grih pravesh shubh muhurt 2021 hindi calendar smt

Panchang 2021: देखें साल 2021 में भूमि पूजन से लेकर घर खरीदने या विवाह तक, कुल कितने शुभ मुहूर्त

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Auspicious Days 2021, Auspicious Dates For Moving House, Hindu,  Business, Start Work, Wedding Dates, Shubh Muhurat, Panchang 2021
Auspicious Days 2021, Auspicious Dates For Moving House, Hindu, Business, Start Work, Wedding Dates, Shubh Muhurat, Panchang 2021
Prabhat Khabar Graphics

Auspicious Days 2021, Auspicious Dates For Moving House, Hindu, Business, Start Work, Wedding Dates, Shubh Muhurat, Panchang 2021: नये साल 2021 में 100 से अधिक शुभ मुहूर्त है. यदि आप भी इस साल विवाह के बंधन में बंधने की सोच रहे है या गृह प्रवेश करना चाहते अथवा भूमि पूजन व अन्य कोई मांगलिक कार्य तो इस साल कई (2021 Auspicious Days) शुभ मुहूर्त पड़ रहे है. धार्मिक मान्यताओं के अनुसार शुभ तारीखों में किया गया कार्य हमें लंबे समय तक लाभ पहुंचाता है...

वैवाहिक मुहूर्त 2021

  • 22 अप्रैल : (चैत्र शुक्ल दशमी, गुरुवार) मघा नक्षत्र में रात्रि 3.11 तक.

  • 26 अप्रैल : (चैत्र शु. चतुर्दशी, सोम) रात्रि 11.00 बजे के बाद स्वाती नक्षत्र में.

  • 28 अप्रैल : (वैशाख कृ. प्रतिपदा-द्वितीया, बुध) शाम 7.45 के बाद अनु. नक्षत्र

  • 30 अप्रैल : (वै. कृ. चतुर्थी, शुक्र) शाम 4.30 के बाद मूल नक्षत्र में.

  • 2 मई : (वै. कृ, षष्ठी, रवि) दिन में 2.00 बजे के बाद से उत्तराषाढ़ा नक्षत्र में.

  • 7 मई : (वै. कृ. एकादशी, शुक्र) दिन में 2.30 के बाद से उ. भाद्र. नक्षत्र में.

  • 8 मई : (वैशाख कृ. द्वादशी, शनि) दिवारात्रि उ. भाद्र- रेवती नक्षत्र में.

  • 12 मई : (वैशाख शुक्ल प्रति., बुध) रात्रि 1.33 के बाद रोहिणी नक्षत्र में.

  • 13 मई : (वैशाख शु. द्वितीया, गुरु) रोहिणी-मृग. नक्षत्र में (दिवारात्रि).

  • 14 मई : (वै. शु. तृतीया, शुक्र-अक्षय तृतीया) मृग. नक्षत्र में (दिवारात्रि).

  • 19 मई : (वैशाख शु. सप्तमी, बुध) मघा नक्षत्र में शाम 7.07 के बाद.

  • 21 मई : (वै. शु. नवमी-दशमी, शुक्र) दिन में 10.36 के बाद, उ.फा. नक्षत्र में.

  • 22 मई : (वै. शु. एकादशी, शनि) हस्त नक्षत्र में (दिवारात्रि).

  • 24 मई : (वै. शु. त्रयोदशी, सोम) स्वाती नक्षत्र में (दिवारात्रि).

  • 26 मई : (वै. शु. पूर्णिमा, बुध) अनु. नक्षत्र में (रात्रि 2.20 तक).

  • 27 मई : (ज्येष्ठ कृष्ण प्रतिपदा, गुरु) मूल नक्षत्र में रात्रि 12.45 के बाद.

  • 29 मई : (ज्येष्ठ कृ. तृतीया, शनि) उत्तराषाढ़ा नक्षत्र में रात्रि 10.09 के बाद.

  • 05 जून : (ज्येष्ठ कृ. दशमी, शनि) रेवती नक्षत्र में रात्रि 1.30 तक.

  • 15 जून : (ज्येष्ठ शु. पंचमी, मंगल) मघा में सायं 7.00 बजे से.

  • 18 जून : (ज्येष्ठ शु. अष्टमी, शुक्र) सायं 6.40 के बाद उ.फा- हस्त में.

  • 20 जून : (ज्येष्ठ शु. दशमी, रवि) दिन में 3.30 के बाद से स्वाती नक्षत्र में.

  • 22 जून : (ज्येष्ठ शु. द्वादशी, मंगल) दिन में 12.20 को बाद अनु. नक्षत्र में.

  • 24 जून : (ज्येष्ठ शु. पूर्णिमा, गुरु) दिन में 9.15 के बाद से मूल नक्षत्र में.

  • 26 जून : (आषाढ़ कृष्ण द्वितीया, शनि) उत्तराषाढ़ा नक्षत्र में (दिवारात्रि).

  • 01 जुलाई : (आषाढ़ कृ. सप्तमी, गुरु) उत्तराभाद्रपदा नक्षत्र में (दिवारात्रि).

  • 02 जुलाई : (आ. कृ. अष्टमी, शुक्र.) रेवती नक्षत्र में (दिवारात्रि).

  • 06 जुलाई : (आ. कृ. द्वादशी, मंगल) सायं 4.15 के बाद रोहिणी नक्षत्र में.

  • 12 जुलाई : (आ. शु., द्वितीया सोम) रात्रि 2.47 के बाद मघा नक्षत्र में.

  • 16 जुलाई : (आ. शु. सप्तमी, शुक्र) हस्त नक्षत्र में (रात्रि 12.58 तक).

  • 20 नवंबर : (मार्गशीर्ष कृ. प्रतिपदा, शनि) रोहिणी नक्षत्र में (दिवारात्रि).

  • 21 नवंबर : (मार्ग. कृ. द्वितीया, रवि) मृगशिरा नक्षत्र में (दिवारात्रि).

  • 26 नवंबर : (मार्ग. कृ. सप्तमी, शुक्र) मघा नक्षत्र में सायं 4.55 के बाद.

  • 28 नवंबर : (मार्ग. कृ नवमी, रवि) उ.फा. नक्षत्र में सायं 6.00 बजे से.

  • 29 नवंबर : (मार्ग. कृ. दशमी, सोम) उ.फा.- हस्त नक्षत्र में (दिवारात्रि).

  • 05 दिसंबर : (मार्ग. शु. प्रतिपदा, रवि) मूल नक्षत्र में दिन में 10.06 के बाद.

  • 07 दिसंबर : (मार्ग. शु. तृतीया-चतुर्थी, मंगल) उत्तराषाढ़ा नक्षत्र में.

  • 11 दिसंबर : (मार्ग. शु. अष्टमी, शनि) रात्रि 3.30 के बाद उ.भाद्र. नक्षत्र में.

  • 12 दिसंबर : (मार्ग. शु. नवमी, रवि) उ.भाद्र.- रेवती नक्षत्र में (सामान्य).

गृह प्रवेश मुहूर्त 2021

  • 07 मई : (वैशाख कृष्ण एकादशी, शुक्रवार) रात्रि 9.20 से 11.26 तक धनु लग्न में.

  • 8 मई : (वैशाख कृष्ण द्वादशी, शनि) सुबह 5.48- 7.44 तक वृष लग्न में.

  • 21 मई : (वैशाख शुक्ल नवमी, शुक्र) 1.39 से 3.52 तक कन्या लग्न में.

  • 22 मई : (वैशाख शुक्ल एकादशी, शनि) सुबह 4.54 से 6.49 तक वृष लग्न में.

  • 04 जून : (ज्येष्ठ कृष्ण नवमी, शुक्र) वृष (सुबह 4.02 से 5. 57 तक) या कन्या लग्न में.

  • 05 जून : (ज्ये. कृ. दशमी, शनि) दिन में 12.39 से 2.52 तक कन्या लग्न में.

  • 04 अगस्त : (जीर्ण- श्रावण कृ. एकादशी, बुध) सुबह 8.03 से 10.51 तक कन्या लग्न में.

  • 13 अगस्त : (जीर्ण-श्रावण शु. पंचमी, शुक्र) दिन में 8.05 से 10.18 तक कन्या लग्न में.

  • 14 अगस्त : (जीर्ण-श्रावण शु. षष्ठी, शनि) दिन में 12.34 से 2.51 तक तुला लग्न में.

  • 20 अगस्त : (जीर्ण-श्रावण शु. त्रयोदशी, शुक्र) दिन में 2.24 से 4.30 तक धनु लग्न में.

  • 29 नवंबर : (जीर्ण-मार्ग. कृ. दशमी, सोम) प्रातः 5.46 से 8.02 तक तुला लग्न में.

  • 01 दिसंबर : (जीर्ण-मार्ग. कृ. द्वादशी, बुध) प्रातः 7.53 से 9.59 तक धनु लग्न में.

  • 13 दिसंबर : (जीर्ण-मार्ग. शु. दशमी, सोम)

गृहारंभ या भूमि पूजन मुहूर्त 2021

  • 26 अप्रैल : (चैत्र शुक्ल चतुर्दशी, सोम) रात्रि 10.01 से 12.07 तक धनु लग्न में.

  • 28 अप्रैल : (वैशाख कृष्ण प्रतिपदा, बुध) रात्रि 9.54 से 12.00 तक धनु लग्न में.

  • 21 मई : (वै. शु. नवमी, शुक्र) 11.29 से 1.43

  • 22 मई : (वैशाख शुक्ल एकादशी, शनि) सुबह 4.54 से 6.59 तक वृष लग्न में.

  • 26 मई : (वैशाख शुक्ल पूर्णिमा, बुध) दिन में 11.04 से 1.18 तक सिंह लग्न में.

  • 23 जुलाई : (आषाढ़ शुक्ल चतुर्दशी, शुक्र) रात्रि 9.35 से 11.03 तक मीन लग्न में.

  • 26 जुलाई : (श्रावण कृष्ण तृतीया, सोम) दिन में 1.43 से 4.00 बजे तक तुला लग्न में.

  • 19 अगस्त : (श्रावण शुक्ल द्वादशी, गुरु)

  • 20 अगस्त : (श्रा. शु. त्रयोदशी, शुक्र) दिन में 12.07 से 2.24 तक तुला लग्न में.

  • 23 अगस्त : (भाद्र. कृ. प्रति., सोम) दिन में 2.14 से 4.20 तक धनु लग्न में.

  • 20 अक्तूबर : (आश्विन शुक्ल पूर्णिमा, बुधवार) दिन में 10.42 से 12.48 तक धनु लग्न में.

  • 20 नवंबर : (मार्गशीर्ष कृष्ण प्रतिपदा, शनिवार) रात्रि में 11.38 से 1.52 तक सिंह लग्न में.

  • 13 दिसंबर : (मार्ग. शु. दशमी, सोम) कुंभ लग्न में

(हृषीकेश पंचांग, वाराणसी पर आधारित)

Posted By: Sumit Kumar Verma

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें