1. home Hindi News
  2. religion
  3. budh vakri 2021 date 30 may dhanu vrishchik kumbh meen benefited from reverse movement of mercury retrograde trouble increase for mithun kark singh rashifal see budh ki ulti chal ke upay smt

Budh Vakri 2021: बुध ने चली उल्टी चाल, आज से धनु, वृश्चिक, कुंभ, मीन समेत इन्हें होगा फायदा, मिथुन, कर्क, सिंह की बढ़ेंगी परेशानियां, जानें बचाव के उपाय

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Budh Vakri 2021 Date, Rashifal, Mercury Retrograde Effects, Upay
Budh Vakri 2021 Date, Rashifal, Mercury Retrograde Effects, Upay
Prabhat Khabar Graphics

Budh Vakri 2021 Date, Rashifal, Mercury Retrograde Effects, Upay: ग्रहों की राजकुमार माने जाने वाले बुध ग्रह 26 मई को अपनी ही राशि मिथुन में विराजमान हो चुके हैं. जहां वे 3 जून तक रहेंगे. इस बीच 30 मई को बुध वक्री भी हो चुके हैं अर्थात अपनी उल्टी चाल चल चुके हैं. जिससे वह वापस वृषभ राशि में आ जाएंगे. हालांकि, फिर मिथुन राशि में चले जाएंगे. वहीं, मिथुन राशि में पहले से ही मंगल ग्रह विराजमान है. ऐसे में आइये जानते हैं कि बुध के उल्टी व सीधी चाल से किन राशियों पर कैसा प्रभाव पड़ने वाला है…

मेष राशि

बुध मेष राशि के तीसरे स्थान पर गोचर हैं. ऐसे में आपके लिए समय कामयाबी वाला रहेगा. इस दौरान आप कुछ साहसिक कार्य कर सकते हैं. करियर में तरक्की मिलने की संभावना है. सगे संबंधियों से संबंध अच्छे होंगे. हालांकि, परिवार के किसी सदस्य से मतभेद भी होने की संभावना है. इस दौरान आप आर्थिक रूप से खुद को मजबूत महसूस करेंगे.

वृषभ राशि

बुध वृषभ की राशि से दूसरे स्थान पर गोचर है. ऐसे में आप इस दौरान कुछ नए कीमती सामग्रियों की खरीदारी कर सकते हैं. यह समय निवेश के लिए भी अच्छा है. इस दौरान व्यापार, करियर में भी आपको लाभ होगा. हालांकि, ऑफिस के राजनीति से बचने की कोशिश करें. लव-लाइफ और जीवन साथी के साथ आपके संबंध मधुर रहेंगे. परिवार के साथ खुशियों वाला समय बीतेगा.

मिथुन राशि

बुध की मिथुन राशि के पहले स्थान या लग्न भाव में गोचर है. ऐसे में आपकी मानसिक स्थिति काफी मजबूत होगी. मनोबल भी उच्च कोटि का रहेगा. बुराइयों से लड़ने में आपको साहस मिलेगा. व्यापारियों को इस दौरान लाभ होने की संभावना है. किसी तरह की राजनीति से दूर रहने की कोशिश करें और अपने स्वास्थ्य पर ध्यान दें. लोगों को आपके विचार पसंद आ सकते हैं.

कर्क राशि

बुद्ध आपकी राशि के 12वें स्थान में गोचर है. इस दौरान आप खुद को समाज से अलग पाएंगे. कई चीजों को लेकर आपको परेशानियां हो सकती है. किसी से बहसबाजी या वाद-विवाद करने से बचें. इस दौरान कैरियर और व्यापार को लेकर नई योजनाएं बना सकते हैं. फिजूल खर्चों में कंट्रोल करें. जॉब में परिवर्तन होने की संभावना है.

सिंह राशि

बुध सिंह के 11वें भाव में गोचर है. ऐसे में आपकी निजी रिश्तो में कुछ समस्याएं उत्पन्न हो सकती है. परिवार के किसी सदस्य से वाद-विवाद भी होने की संभावना है. अपनी ओर से किसी को सलाह देने की कोशिश ना करें. पुराने किसी दोस्त से मुलाकात हो सकती है. इस समय आपके कार्य की प्रगति धीमी पड़ सकती है. आपको आर्थिक स्थिति सुधारने के लिए भागदौड़ भी करनी पड़ सकती है.

कन्या राशि

बुध आपकी राशि के दसवें स्थान में गोचर है. आपको बता दें कि इस इस दौरान आप करियर में प्रगति की ओर बढ़ेंगे. सरकारी रुके हुए कार्य आसानी से पूर्ण होंगे. अधिकारियों से रिश्ते अच्छे बने रहने के कारण भी कई काम संपन्न हो सकते हैं. जीवनसाथी का भी भरपूर सहयोग मिलेगा. हर क्षेत्र में इस दौरान आपको तरक्की मिलने की पूरी संभावना है.

तुला राशि

बुध तुला राशि के नौवें स्थान पर गोचर है. इस दौरान आप सामाजिक कार्य या दान पुण्य में हिस्सा लेंगे. अध्यात्म की ओर भी आपकी रूचि बढ़ेगी. कुछ कठिन निर्णय लेने पड़ सकते है. बाद में यह फैसला सही साबित होगा. जीवनसाथी के साथ किसी प्रकार का मनमुटाव होने की संभावना है. बेहतर होगा एक दूसरे की भावनाओं को समझें व सम्मान करें. स्वास्थ्य इस दौरान बेहतर रहेगा. लगातार परिश्रम से करियर में तरक्की मिलेगी.

वृश्चिक राशि

बुध आपकी राशि के आठवें स्थान पर गोचर है. इस दौरान आपको आय के नए नए स्रोत मिलेंगे. लेकिन लालच बढ़ने से नुकसान हो सकता है. आर्थिक रूप से यह समय अनुकूल है. अपने साथ पूरे परिवार के स्वास्थ्य को लेकर चिंतित रहेंगे. हालांकि स्वास्थ्य इस समय अनुकूल रहने की संभावना है. लेन-देन के मामलों में सावधानी बरतें.

धनु राशि

बुध धनु राशि के सातवें स्थान में गोचर कर चुके हैं. ऐसे में इस दौरान मेहनत का आपको फल मिलेगा. यदि नौकरी पेशा है तो प्रमोशन मिलने की पूरी संभावना है. जीवनसाथी के साथ रोमांटिक समय व्यतीत होगा. घर के सभी सदस्यों से संबंध अच्छे रहेंगे. इस दौरान निवेश करना आपके लिए लाभकारी हो सकता है.

मकर राशि

बुद्ध आपकी राशि के छठे स्थान पर गोचर है. इस दौरान आपके कार्यक्षेत्र संबंधित समस्याएं दूर होंगी. अधिकारियों से संबंध अच्छे बनने के कारण आपको प्रमोशन भी मिल सकता है. विद्यार्थियों के लिए समय अनुकूल होगा. किसी प्रकार की धन संपत्ति में निवेश करना आपके लिए लाभकारी होगा.

कुंभ राशि

बुद्ध आपकी राशि के पांचवे स्थान में गोचर है. ऐसे में आपके लिए बेहद रोमांटिक समय आने वाला है. आपके आय में वृद्धि होगी. निवेश करना इस दौरान आपके लिए लाभकारी होगा. हालांकि, स्वास्थ्य को लेकर विशेष ख्याल रखने की जरूरत है. घर परिवार में खुशहाली वाला माहौल रहेगा.

मीन राशि

बुध आपकी राशि के चौथे स्थान में गोचर है. ऐसे में आपका घरेलू जीवन आनंदमय होगा. परिवार के सभी सदस्यों का स्वास्थ्य ठीक रहेगा. हालांकि, इस दौरान आपको आलस्य त्यागने की आवश्यकता होगी अन्यथा व्यापार आदि में हानि हो सकती है. साथ ही साथ फिजूल खर्चों को भी कम करना होगा. आप किसी जरूरतमंद की मदद करने के लिए आगे आ सकते हैं.

बुध वक्री के उपाय

  • इस दौरान भगवान की उपासना करें. 108 बार बुध बीज मंत्र का जाप करें.

  • प्रतिदिन विष्णु सहस्रनाम का पाठ करने से भी लाभ होगा.

  • हर बुधवार भगवान गणेश की उपासना करें, उन्हें बूंदी के लड्डू अर्पित करें.

  • नकारात्मक, अनचाहे विचार या तनाव न हो इसलिए हर सुबह और रात भगवान का ध्यान लगाएं

  • बुध जिस दिन वक्री हो रहे हैं उस दिन पन्ना, ग्रीन कार्नेलियन या हरा गोमेद पहनें. इससे आत्मविश्वास बढ़ेगा.

  • दान-पुण्य करने से भी इसके प्रभाव को कम किया जा सकता है.

Posted By: Sumit Kumar Verma

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें