1. home Home
  2. religion
  3. budh rashi parivartan 2021 mercury is transiting in scorpio know what will be the effect on zodiac signs tvi

Mercury transit in Scorpio: बुध का वृश्चिक राशि में हो रहा है गोचर, जानिए राशियों पर क्या होगा असर

बुध ग्रह व्यक्ति में वाणी, बुद्धि, लेखन, व्यापार, और संचार के साथ-साथ उनके बोलने की क्षमता को नियंत्रित करता है. वैदिक ज्योतिष के अनुसार बुध को राजकुमार ग्रह का दर्जा प्राप्त है. जिन लोगों की कुंडली में बुध ग्रह प्रतिकूल स्थिति में होते हैं ऐसे लोग स्वभाव में शर्मीले होते हैं.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Mercury transit in Scorpio
Mercury transit in Scorpio
social media

क्या समय रहेगा

बुध 21 नवंबर 2021 को सुबह 4:37 बजे से 10 दिसंबर 2021 को सुबह 5:53 बजे वृश्चिक राशि में गोचर करेंगे. जानिए बुध के परिवर्तन से बारह राशियों पर क्या प्रभाव पड़ेगा:-

मेष:-मेष राशि के जातकों के लिए बुध उनके आठवें भाव में गोचर कर रहा है, जो अनुसंधान, परिवर्तन और अनिश्चितता का प्रतिनिधित्व करता है और तीसरे और छठे घर पर शासन करता है. इस गोचर के दौरान, जातकों को अपने जीवन में मिले-जुले परिणाम देखने को मिलेंगे क्योंकि आपकी आर्थिक स्थिति खराब होने के कारण आपको कठिन समय का करना पड़ सकता है. व्यावसायिक रूप से, व्यवसाय में लगे जातकों को वांछित लक्ष्यों तक पहुंचने के लिए अतिरिक्त प्रयास करने होंगे.

वृषभ:-वृष राशि के जातकों के लिए बुध आपके विवाह और साझेदारी के सप्तम भाव में गोचर कर रहा है. यह गोचर आपके करियर के लिए अनुकूल रहने वाला है. आप अपने घरेलू जीवन को शांतिपूर्ण और सामंजस्यपूर्ण बनाने की ओर प्रवृत्त होंगे. इसके अलावा, अच्छी बातचीत आपके घरेलू और प्रेम जीवन में एक समझ और सार जोड़ देगी. प्रेम विवाह के लिए यह एक अच्छी अवधि है. व्यावसायिक रूप से, जैसा कि बुध व्यापार विश्लेषण पर शासन करता है, तो यह गोचर आपको व्यावसायिक पहलू में शुभ परिणाम देगा.

मिथुन :-मिथुन राशि के लिए बुध पहले और चौथे भाव का स्वामी है और छठे भाव में गोचर कर रहा है जो रोगों, शत्रुओं, बाधाओं और रुकावट का प्रतिनिधित्व करता है. इस गोचर के दौरान आपके जीवन में कुछ भावनात्मक असंतुलन हो सकता है, आपका स्वास्थ्य गिर सकता है, इसलिए आपको अपना उचित ध्यान रखने की आवश्यकता है. वाद-विवाद और विवाद मुख्य चिंता का विषय होंगे और आप उनमें शामिल रहेंगे.

कर्क:-कर्क राशि के लिए बुध तीसरे और बारहवें भाव का स्वामी है, जो संतान, विचार, बुद्धि, प्रेम और रोमांस के पंचम भाव में गोचर कर रहा है. कर्क राशि के जातकों के लिए बुध की यह स्थिति मिले-जुले परिणाम लेकर आएगी. सलाह दी जाती है कि आप अपना ध्यान अपनी नौकरी पर लगाएं. अपने पेशेवर जीवन को हल्के में न लें क्योंकि आपकी नौकरी जाने की संभावना है.

सिंह :-सिंह राशि के जातकों के लिए बुध दूसरे और एकादश भाव का स्वामी है, जो चतुर्थ भाव में गोचर कर रहा है, यह माता, भूमि, विलासिता और आराम का प्रतिनिधित्व करता है. बुध का गोचर आपके घरेलू जीवन में सुख-समृद्धि लाएगा, आप इसे घरेलू गतिविधियों पर या पारिवारिक समय को खुशनुमा बनाने में खर्च कर सकते हैं. यदि आप अपने शब्दों का सावधानी से उपयोग नहीं करते हैं, तो आपके और आपके परिवार के सदस्यों के बीच गलतफहमी और कलह होने की संभावना है.

कन्या :-कन्या राशि के जातकों के लिए बुध पहले और दशम भाव का स्वामी है, जो भाई-बहनों, साहस और यात्राओं के तीसरे भाव में गोचर कर रहा है. इस गोचर के दौरान बुध ग्रह आपके जुनून, क्रोध, दृढ़ संकल्प और संचार कौशल में वृद्धि का गवाह बनेगा. जोश के साथ, आप नौकरी में बदलाव की तलाश कर सकते हैं, हालांकि अपको भाई-बहनों और दोस्तों से भी सहायक मिलेगी लेकिन आपको उनके साथ कुछ समस्याओं का सामना भी करना पड़ सकता है.

तुला :-तुला राशि के लिए बुध नवम भाव का स्वामी है और द्वादश भाव संचित धन, बचत, परिवार और वाणी के दूसरे भाव में गोचर कर रहा है. तुला राशि के जातकों के लिए बुध का गोचर शुभ फल लाएगा क्योंकि यह आपकी सभी परेशानियों को दूर करेगा. इसके अलावा, आप प्रभावशाली भाषण भी दे सकते हैं. कई मौद्रिक लाभ के साथ-साथ विदेशी भूमि से भी लाभ मिलने की संभावना है.

वृश्चिक:-वृश्चिक चंद्र राशि के लिए बुध अष्टम और एकादश भाव का स्वामी है और इस जल राशि के जातक के व्यक्तित्व और स्वयं के प्रथम भाव में गोचर कर रहा है. इस गोचर के दौरान आपको मिले-जुले परिणाम मिलने की संभावना है, इसलिए अपनी आशाओं को ऊंचा न रखें. आपके निर्णय लेने के कौशल की एक बड़ी परीक्षा होगी और इस दौरान आप जो कुछ भी करेंगे वह भविष्य में बहुत होगा. सामाजिक समारोहों में भाग लेने की संभावना है. कुछ जातकों के लिए भाइयों और दोस्तों के साथ मुलाकात की भविष्यवाणी की जाती है.

वृश्चिक :-वृश्चिक चंद्र राशि के लिए बुध अष्टम और एकादश भाव का स्वामी है और इस जल राशि के जातक के व्यक्तित्व और स्वयं के प्रथम भाव में गोचर कर रहा है. इस गोचर के दौरान आपको मिले-जुले परिणाम मिलने की संभावना है, इसलिए अपनी आशाओं को ऊंचा न रखें. आपके निर्णय लेने के कौशल की एक बड़ी परीक्षा होगी और इस दौरान आप जो कुछ भी करेंगे वह भविष्य में बहुत महत्वपूर्ण होगा. सामाजिक समारोहों में भाग लेने की संभावना है. कुछ जातकों के लिए भाइयों और दोस्तों के साथ मुलाकात की भविष्यवाणी की जाती है.

धनु:-धनु राशि के लिए बुध सप्तम और दशम भाव का स्वामी है और व्यय और विदेशी लाभ के बारहवें भाव में गोचर कर रहा है. इस दौरान आपकी आय के साधनों में वृद्धि होगी, लेकिन साथ ही आपके ख़र्चे भी अधिक होने की संभावना है. आप पहले की तुलना में अधिक खर्च का अनुभव करेंगे. आप व्यवसाय या व्यावसायिक उद्देश्यों के लिए विदेश जा सकते हैं. स्वास्थ्य के मुद्दों से बचें नहीं क्योंकि यह गंभीर बिमारियों में तब्दील हो सकता है.

मकर :-मकर चंद्र राशि के लिए बुध छठे और नवम भाव का स्वामी है, जो एकादश भाव में गोचर कर रहा है. इस गोचर के दौरान, यह घर समग्र प्रकार के लाभ, मौद्रिक लाभ, आय, नाम और प्रसिद्धि में लाभ का शासन करता है. अतिरिक्त, यह नियंत्रित करता है, कि कौन सा पहलू आपको लाभ दिलाएगा. किराये की संपत्ति से आपको लाभ होगा, आपको विकास के कई अवसर मिलेंगे.

कुंभ :-कुंभ राशि के लिए बुध पंचम भाव और अष्टम भाव का स्वामी है और करियर, पेशे, नाम और प्रसिद्धि के दशम भाव में गोचर कर रहा है. बुध इस अवधि को आपके लिए अनुकूल बना देगा क्योंकि यह संचार और बुद्धि में बहुत वृद्धि करेगा. बुध उस भाव से गोचर करेगा जो आपके करियर को प्रभावित करता है. आर्थिक स्थिति मजबूत होगी और आपको अपने पिछले श्रम का फल भी मिलेगा. इस अवधि में आपके मान-सम्मान में भी वृद्धि हो सकती है.

मीन:-मीन राशि के लिए बुध चतुर्थ और सप्तम का स्वामी है और भाग्य, उच्च शिक्षा और आध्यात्मिकता के नवम भाव में गोचर कर रहा है. धर्म के घर में यह गोचर आपकी सभी धार्मिक प्रवृत्ति, अच्छे कर्म, धर्म, मृत्यु दर, उच्च शिक्षा को नियंत्रित करेगा. इस समय सीमा में इस राशि के छात्र शिक्षा के क्षेत्र में उत्कृष्ट परिणाम कर सकते हैं. जो छात्र उच्च शिक्षा प्राप्त करना चाहते हैं, वे इस अवधि के दौरान अपना अनुकूल समय देखेंगे.

संजीत कुमार मिश्रा

ज्योतिष एवं रत्न विशेषज्ञ

8080426594/9545290847

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें