1. home Hindi News
  2. religion
  3. akshaya tritiya 2022 upaay please lord vishnu and ancestors on this day happiness and prosperity will come in the house sry

Akshaya Tritiya पर करें भगवान विष्णु जी और पितरों को प्रसन्न, घर में आएगी सुख एवं समृद्धि

अक्षय तृतीया को बहुत शुभ दिन माना गया है. इस बार ये दिन आज यानी 3 मई 2022 को पड़ रहा है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Akshaya Tritiya 2022
Akshaya Tritiya 2022
Prabhat Khabar Graphics

Akshaya Tritiya 2022: अक्षय तृतीया का पावन दिन हर वर्ष वैशाख शुक्ल तृतीया तिथि को होता है. इस वर्ष 03 मई 2022 दिन मंगलवार को अक्षय तृतीया मनाई जाएगी, इस अवसर पर आप भगवान विष्णु जी और पितरों को प्रसन्न करके अपने घर में सुख एवं समृद्धि ला सकते हैं, इसी दिन भगवान विष्णु अवतरित हुए थे. अक्षय तृतीया के दिन भगवान विष्णु की पूजा करने का विधान है और पितरों को तृप्त करके अपनी उन्नति करने का शुभ अवसर है

अक्षया तृतीया या आखा तीज पर भगवान विष्णु जी की पूजा किस प्रकार से करें और पितरों को प्रसन्न कैसे करें

इस दिन अक्षय तृतीया पूजा का शुभ मुहूर्त प्रात: 05:39 बजे से लेकर दोपहर 12:55 बजे तक है, इस दिन पूजा अर्चना के लिए आपके पास पर्याप्त समय प्राप्त होगा, हालांकि इस दिन अबूझ मुहूर्त होता है, इसलिए आप कोई भी शुभ कार्य किसी भी समय कर सकते हैं.

अक्षय तृतीया पर भगवान विष्णु जी की पूजा विधि

  • अक्षय तृतीया के दिन प्रात: स्नान आदि के बाद नयें तथा शुद्ध

  • वस्त्र धारण करके पूजा स्थान की सफाई कर लें, उसके बाद श्री लक्ष्मी नारायण की पूजा सफेद या पीले गुलाब या फिर सफेद कमल के फूल से करें, इस दिन दो कलश लें, एक कलश को जल से भर दें और उसमें पीले फूल, सफेद जौ, चंदन और पंचामृत डालें, उसे मिट्टी के ढक्कर से ढक दें और उस पर फल रखें.

  • इसके बाद दूसरे कलश में जल भरें और उसके अंदर काले तिल, चंदन और सफेद फूल डालें, पहला कलश भगवान विष्णु के लिए और दूसरा कलश पितरों के लिए होता है, दोनों कलश की विधिपूर्वक पूजा करें, उसके बाद दोनों कलश को दान कर दें, ऐसा करने से भगवान विष्णु जी और पितर दोनों ही प्रसन्न होते हैं और उनकी कृपा प्राप्त होती है, दोनों के आशीर्वाद से परिवार में सुख एवं समृद्धि आती है.

  • केसर तथा हल्दी से देवी लक्ष्मी के पूजन से आर्थिक परेशानी दूर होती है.

  • आज के दिन दान देनेवाला सूर्य लोक को प्राप्त होता है जो यह व्रत करता है वह ऋद्धि -सिद्धि को प्राप्त करता है.

संजीत कुमार मिश्रा

ज्योतिष एवं रत्न विशेषज्ञ

8080426594/9545290847

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें