Advertisement

Others

  • Apr 15 2019 7:53AM
Advertisement

दुनिया के सबसे बड़े विमान ने भरी उड़ान, अंतरिक्ष तक ले जायेगा सेटेलाइट को

दुनिया के सबसे बड़े विमान ने भरी उड़ान, अंतरिक्ष तक ले जायेगा सेटेलाइट को
वाशिंगटन : दुनिया के सबसे बड़े विमान स्ट्रेटोलॉन्च ने कैलिफोर्निया में पहली बार उड़ान भरी है. दो एयरक्राफ्ट बॉडी वाले इस विमान में छह बोइंग-747 इंजन लगे हैं. शनिवार को इस बड़े विमान ने अपनी पहली यात्रा मोजावे रेगिस्तान के ऊपर की. यह विमान 15 हजार फुट की ऊंचाई तक गया और इसकी अधिकतम गति 189 मील (305 किमी) प्रति घंटा रही. इस विमान के 385 फुट लंबे पंख किसी अमेरिकी फुटबॉल मैदान के जितने बड़े हैं. 
 
अपनी पहली उड़ान के दौरान यह विमान हवा में करीब ढाई घंटे तक रहा. इस विमान का निर्माण अंतरिक्ष में रॉकेट और सेटेलाइट ले जाने और उसे वहां छोड़ने के लिए किया गया है. इस विमान का निर्माण स्केल्ड कम्पोजिट्स नाम की एक इंजीनियरिंग कंपनी ने किया है. इस कंपनी को माइक्रोसॉफ्ट के सह-संस्थापक पॉल एलन ने 2011 में बनाया था. 
 
पहली उड़ान के वक्त
 
2.5 घंटे तक हवा में रहा 
यह विमान
15 हजार फुट की ऊंचाई तक गया
305 किमी 
प्रति घंटे की 
रही रफ्तार
 
सेटेलाइट को कक्षा में पहुंचायेगा विमान
 
इस विमान को सेटेलाइट के लॉन्च पैड के रूप में तैयार किया गया है. इसका मुख्य उद्देश्य अंतरिक्ष में सैटेलाइट को छोड़ने से पहले 10 किलोमीटर तक उड़ना है. यह सेटेलाइट को अंतरिक्ष में उनकी कक्षा तक पहुंचाने में मदद करेगा. मौजूदा समय में टेकऑफ रॉकेट की मदद से सैटेलाइट को कक्षा में भेजा जाता है. अगर यह प्रोजेक्ट सफल होता है, तो अंतरिक्ष में किसी चीज को भेजना जमीन से रॉकेट से भेजने से ज्यादा सस्ता हो जायेगा.  
 
इधर, जेटलाइनर में लगेंगे फोल्डिंग विंग्स
 
बोइंग कंपनी फोल्डिंग विंग्स वाला पहला कमर्शियल प्लेन तैयार कर रही है. पिछले दिनों 777-9 एक्स जेटलाइनर के फोल्डिंग विंग्स की पहली झलक सामने आयी थी. इसके विंग्स का फैलाव 235 फीट और पांच इंच होगा. 
02 एयरक्राफ्ट बॉडी वाले इस विमान में छह बोइंग-747 इंजन लगे हैं
 
Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement