Advertisement

asansol

  • Jan 11 2019 3:40AM

बर्दवान : सर्वे के नाम पर हर घर से 20 रुपये की वसूली, जिलाशासक ने लगायी रोक, जांच के आदेश

बर्दवान :  सर्वे के नाम पर हर घर से 20 रुपये की वसूली, जिलाशासक ने लगायी रोक, जांच के आदेश
बर्दवान :  जिलाशासक अनुराग श्रीवास्तव के निर्देश पर गलसी दो नंबर प्रखंड के कुरकुबा पंचायत इलाके में चल रहे घर-घर सर्वे को बंद कर दिया गया. उन्हें शिकायत मिली थी कि सर्वे में शामिल कर्मी इसके एवज में प्रति आवास 20 रूपये की अवैध वसूली कर रहे हैं. स्थानीय निवासियों ने पंचायत प्रधान तथा प्रखंड विकास अधिकारी को पूरे मामले से अवगत कराया था.
 
निवासियों के अनुसार कुरकुबा पंचायत में चार, पांच, सात, नौ और 10 नंबर संसद इलाको में निजी संस्था के कर्मी घर-घर जाकर सर्वे कर रहे हैं. आवास में रहनेवाले सदस्यों, उनके पेशे तथा अन्य जानकारियां ली जा रही थी. 
 
इसके तहत प्रत्येक परिवार को ' क्लीन इंडिया व डिजिटल इंडिया'  का एक प्लेट दिया जा रहा था. इसके एवज में 20 रूपये की वसूली की जा रही थी. संस्था के नाम पर नौ सदस्य सक्रिय थे. उन्होंने रहने के लिए गलसी में किराये का मकान ले रखा था.
 
जिलाशासक के अनुसार वर्ष 2012 में राज्य में सर्वे का कार्य आवंटित किया गया था. उसी कार्यादेश को दिखा कर नये सिरे से सर्वे शुरु किया गया था. संस्था को फिलहाल सर्वे बंद रखने को कहा गया है. पूरे मामले की जांच के आदेश दिये गये हैं. 
 
संस्था प्रतिनिधि मनोरंजन माइती ने कहा कि पंचायत इलाकों में सर्वे का कार्य चल रहा है. संस्था के पास राज्य मुख्यालय नवान्न से जारी आदेश की प्रति है. खर्च जुटाने के लिए प्रति मकान 20 रुपये की वसूली की जा रही है. जिलाशासक ने आदेश की प्रति मांगी है. जांच प्रक्रिया पूरी होने पर सर्वे फिर से शुरू किया जायेगा.
 

Advertisement

Comments

Advertisement