Advertisement

WC_2019

  • Jul 11 2019 10:10PM
Advertisement

भारत के विश्व कप से बाहर होने से खुश हैं पूर्व पाकिस्तानी क्रिकेटर

भारत के विश्व कप से बाहर होने से खुश हैं पूर्व पाकिस्तानी क्रिकेटर
file photo

कराची : पूर्व पाकिस्तानी क्रिकेटरों ने गुरुवार को भारत के सेमीफाइनल में न्यूजीलैंड से हारकर विश्व कप से बाहर होने पर खुशी व्यक्त की. पूर्व पाकिस्तानी कप्तान और तेज गेंदबाज वकार यूनिस ने अपने ट्विटर अकाउंट पर इसकी खुशी व्यक्त करते हुए कहा कि भारत इसी का हकदार था जिससे उनका संदेह साफ झलक रहा था कि भारत ने पाकिस्तान को अंतिम चार में प्रवेश से रोकने के लिये इंग्लैंड के खिलाफ जानबूझकर लचर प्रदर्शन किया था.

 

वकार ने ट्वीट किया, क्रिकेट इतना क्रूर खेल है और बहुत जल्दी हिसाब चुकता कर देता है. जब आपको उम्मीद नहीं होती तो आपको झटका देता है. मैंने सबसे बड़ा सबक सीखा है कि कभी भी खेल के साथ खिलवाड़ मत करो. लीग चरण में भारत के इंग्लैंड से हारने के बाद पाकिस्तानी प्रशंसक और कुछ पूर्व खिलाड़ियों ने आरोप लगाया था कि उन्होंने यह जानबूझकर किया था ताकि सुनिश्चित हो सके कि पाकिस्तान सेमीफाइनल के लिये क्वालीफाई नहीं कर सके.

पूर्व टेस्ट खिलाड़ी जैसे सिकंदर बख्त, बासित अली और कुछ अन्य ने खुलेआम भारत पर यह आरोप लगाया था. बासित ने कहा, कोई भी कुछ भी कहे, मैंने पहले ही कह दिया था कि भारत जानबूझक इंग्लैंड और कुछ अन्य टीमों के खिलाफ खराब खेलेगा. यह बिलकुल ठीक इंसाफ है कि भारत आज वो मैच हार गया जो उसे आसानी से जीतना चाहिए था.

पूर्व पाकिस्तानी कप्तान राशिद लतीफ ने हालांकि कहा, एक बार सेमीफाइन दो दिन तक खिंच जाता है तो दूसरे नंबर पर बल्लेबाजी करने वाली टीम के लिये हमेशा मुश्किल हो जाती है. इसके अलावा हेनरी और बोल्ट ने कुछ खतरनाक गेंद फेंककर विकेट चटकाये.

पूर्व टेस्ट कप्तान मोईन खान को लगता है कि चौथे और पांचवें नंबर की बल्लेबाजी भारत के लिये एक समस्या बनी रही. उन्होंने कहा, मुझे लगता है कि उनकी मुख्य समस्या चौथे और पांचवें नंबर की बल्लेबाजी रही और यह सेमीफाइनल में साफ दिखी. कितनी भी अच्छी टीम हो, उसका भी बुरा दिन आता है और दुर्भाग्य से भारत का शीर्ष क्रम सेमीफाइनल के दिन ही फ्लाप हुआ.

Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement