Advertisement

vaishali

  • Sep 19 2019 1:18AM
Advertisement

अंबेडकर की मूर्ति टूटने के विरोध में किया हंगामा, जाम की सड़क

अरनिया/जंदाहा :  बुधवार की सुबह बाया नदी पुल पर उस समय अफरातफरी मच गयी जब सैकड़ों की संख्या में पहुंचे स्थानीय लोगों ने एनएच को जाम कर वाहनों की आवाजाही ठप कर दी. आक्रोशित लोग नदी किनारे स्थित बाबा साहेब भीमराव अांबेडकर की प्रतिमा तोड़े जाने का आरोप एक विशेष संगठन पर लगाते हुए नारेबाजी कर रहे थे. 

 
 वहीं कुछ लोगों का कहना था कि दो दशक पूर्व स्थापित मूर्ति का कुछ भाग मंगलवार की रात मूसलाधार बारिश के कारण क्षतिग्रस्त हो गया है. हालांकि जनप्रतिनिधियों और प्रशासनिक पहल के बाद मामला शांत हो गया. जाम के कारण एनएच पर पांच घंटो तक वाहनों की आवाजाही ठप रही. जानकारी के अनुसार बुधवार की सुबह क्षेत्र में जंदाहा के बाया नदी किनारे स्थित भीमराव अंबेडकर की आदम कद प्रतिमा तोड़े जाने की खबर आग की तरह फैली. 
 
 आसपास के गांव के लोग बाया नदी के  किनारे पहुंच गये. मूर्ति तोड़े जाने के विरोध में लोगों ने जंदाहा-हाजीपुर एनएच-322 पर स्थित बाया नदी पुल को जाम कर दिया. वाहनों की आवाजाही ठप कर दिया. एनएच जाम की सूचना मिलते ही जंदाहा थाने की पुलिस के साथ सीओ योगेंद्र प्रसाद सिंह मौके पर पहुंचे. पदाधिकारियों के पहुंचने पर लोगों ने मूर्ति तोड़े जाने की शिकायत की और उक्त स्थल पर मूर्ति स्थापित करने की मांग करने लगे. 
 
अंचलाधिकारी ने यथाशीघ्र पहल करने और मूर्ति स्थापित कराने का आश्वासन दिया. महनार के विधायक उमेश सिंह कुशवाहा ने मूर्ति स्थापना के लिए ₹   51 हजार रुपये देने का आश्वासन दिया. इसके बाद लोग शांत हुए. इस दौरान एनएच पर पांच घंटे तक जाम रहा. हालांकि स्थानीय कुछ लोगों ने बताया कि मूर्ति को तोड़ा नहीं गया है बल्कि बहुत पुराना होने की वजह से मंगलवार की रात जोरदार वर्षा होने से मूर्ति स्वत: टूट कर गिर जाने से क्षतिग्रस्त हो गयी है.
 
Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement