Advertisement

vaishali

  • Jul 11 2019 11:10AM
Advertisement

सीमेंट व्यवसायी के कर्मी की मौत के बाद लोगों का फूटा गुस्सा, शव के साथ जाम की NH, लोगों ने पुलिस को खदेड़ा

सीमेंट व्यवसायी के कर्मी की मौत के बाद लोगों का फूटा गुस्सा, शव के साथ जाम की NH, लोगों ने पुलिस को खदेड़ा

अरनिया / जंदाहा (वैशाली) : जिले के जंदाहा के गांधी चौक पर अपराधियों की गोली के शिकार हुए मुकेश कुमार शुक्ला की मौत के बाद लोगों का आक्रोश गुरुवार की सुबह फूट पड़ा. आक्रोशित लोगों ने गुरुवार की सुबह मुकेश का शव बीच सड़क पर रखकर एनएच-322 जंदाहा-हाजीपुर मुख्य मार्ग को जाम कर दिया. 

मालूम हो कि जंदाहा के सर्वोदय मैदान में अज्ञात अपराधियों ने एक सीमेंट व्यवसाई के कर्मी मुकेश कुमार शुक्ला को गोलीमार जख्मी कर दिया था. घटना बुधवार की देर शाम उस वक्त हुई, जब बाजार के पटोरी रोड स्थित कन्हैया ट्रेडर्स के मालिक भरतपुर निवासी प्रमोद जायसवाल अपने कर्मी के साथ बाइक से सर्वोदय मैदान स्थित अपने घर जा रहे थे. इसी बीच अपाचे पर सवार तीन युवकों ने उन पर गोली चला दी. गोली उनके कर्मी मुकेश कुमार शुक्ला को लगी. गोली मारने के बाद अपराधी भाग निकले. बताया जाता है कि व्यवसाई का लूटने की नीयत से अपराधी दुकान से ही पीछा करते हुए आ रहे थे. सर्वोदय मैदान में आकर अपराधी ने गोली चलायी. हालांकि, वह लूटने में सफल नहीं हुआ. जख्मी कर्मी को बाजार के एक नर्सिंग होम में इलाज के लिए ले जाया गया, जहां डॉक्टर ने प्राथमिक उपचार के बाद बेहतर इलाज के लिए पटना रेफर कर दिया था. पटना ले जाने के दौरान ही मुकेश की मौत हो गयी.

मुकेश की मौत के बाद स्थानीय लोगों का गुस्सा फूट पड़ा. आक्रोशित लोगों ने मुकेश का शव गुरुवार की सुबह बीच सड़क पर रखकर एनएच-322 जंदाहा-हाजीपुर मुख्य मार्ग को जाम कर दिया. वहीं, जाम की सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस को भी आक्रोशित लोगों के गुस्से का शिकार होना पड़ा. आक्रोशित लोगों ने मौके पर पहुंची पुलिस को खदेड़ कर भगा दिया. मालूम हो कि मृत मुकेश शुक्ला की 36 वर्षीया पत्नी गायत्री देवी, 15 वर्षीय बड़ा बेटा विश्वास और 13 वर्षीय आयुष का रो-रो कर बुरा हाल है.

Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement