Advertisement

tv

  • Aug 23 2019 9:23AM
Advertisement

KBC 11 : जन्‍म के बाद जिस बच्‍ची को डस्‍टबिन में फेंक दिया था, आज अमिताभ के सामने बैठी हैं हॉट सीट पर

KBC 11 : जन्‍म के बाद जिस बच्‍ची को डस्‍टबिन में फेंक दिया था, आज अमिताभ के सामने बैठी हैं हॉट सीट पर

'कौन बनेगा करोड़पति' की हॉट सीट पर बैठकर उन्‍नाव की रहनेवाली नुपुर ने इस जिले का नाम रोशन कर दिया. गुरुवार को महानायक अमिताभ बच्‍चन के सवालों के जवाब देकर नुपुर ने गुरुवार को 10 हजार रुपये जीते. शुक्रवार रात नौ बजे एक बार फिर नुपुर अमिताभ बच्‍चन के सवालों के जवाब देती नजर आयेंगी. नुपुर खेल में जज्‍बे के साथ आगे बढ़ती रही और बिग बी उनका उत्‍साहवर्धन करते रहे. नुपुर उन्‍नाव के बीघापुर क्षेत्र के कपूरपूर गांव की रहनेवाली हैं. उनके पिता किसान हैं.

जन्‍म के 6 महीने के बाद जब उनके माता-पिता को उसकी विकलांगता का पता चला तो उसे ठीक कराने के लिए उन्‍होंने खूब दौड़-भाग की. डॉक्‍टरों की दवा भी उसे ठीक नहीं कर पाई. वे थोड़ी बड़ी हुईं तो कानुपर के एक विकलांग स्‍कूल में उनका दाखिला करा दिया गया.

लेकिन नुपुर की काबिलियत को देखते हुए शिक्षकों ने उसे सामान्‍य स्‍कूल में दाखिला लेने की सलाह दी. इसके बाद उनका एडमिशन कॉन्वेंट स्कूल में हुआ. केबीसी में आने के लिए वे पिछले कई सालों से प्रयासरत थीं.

अमिताभ बच्‍चन को अपनी कहानी सुनाते समय नुपुर की आंखें नम हो गई. वहां मौजूद हर शख्‍स की आंखों में आंसू आ गये. नुपुर ने बताया कि, पैदा होने के बाद नर्स ने उन्हें डस्‍टबिन में फेंक दिया था. रिश्‍तेदार के पैसे देने के बाद नर्स ने उसे ड‍स्‍टबिन से निकालकर साफ किया और ठोका तो वह रोन लगी. उसके बाद 12 घंटे लगातार वे रोती ही रहीं थीं.

नुपुर ने आगे बताया कि, डॉक्‍टरों की ओर से सही इलाज ने मिल पाने की वजह से आज उसका यह हाल है. उन्‍होंने कहा, एमबीबीएस और उससे भी बड़ी डिग्री लेने के बाद जब डॉक्‍टर गंभीरता नहीं दिखाते हैं तो किसी की जिंदगी किस तरह बर्बाद होती है उसका सजीव प्रमाण वो खुद हैं.

अमिताभ के सामने हॉट सीट पर बैठीं नुपुर ने कहा कि झांसी की रानी की तरह उसका जीवन भी संघर्षों से भरा है. महिलाओं को ऐसा काम करना चाहिये कि वो उदाहरण बनें. महिलाएं अपने दम पर एक बड़ा मुकाम हासिल कर सकती हैं. 

Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement