siwan

  • Apr 15 2019 1:26AM
Advertisement

39 डिग्री पर पहुंचा पारा, धूप ने बढ़ायी परेशानी

 सीवान : तापमान चरम पर पहुंच गया है. तेज धूप और गर्मी बर्दाश्त से बाहर होती जा रही है. सूर्य से निकल रही तेज किरणों की ताप आग से कम प्रतीत नहीं हो रही है. कड़ाके की धूप में लोगों का घर से बाहर निकलना भी मुश्किल हो गया है.

 
 भीषण गर्मी ने जनजीवन को बुरी तरह प्रभावित किया है. रविवार को अधिकतम तापमान 39 डिग्री दर्ज किया गया. गर्मी से बाजारों और सड़कों पर दिन भर सन्नाटा पसरा रहा.
 
 हालांकि मुश्किल परिस्थिति में भी लोग घर से बाहर तो निकल रहे हैं. हालांकि अपने रोजाना के कार्यों को निबटाने में काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. अभी तापमान में गिरावट के कोई अासार नहीं नजर आ रहे हैं. गर्मी के कारण सीजनल बीमारियां भी बढ़ रही हैं.
 
 गर्मी शुरू होते ही बाजारों में शीतल पेय पदार्थ, कोल्ड ड्रिंक, खीरा, सत्तू, आइसक्रीम आदि की बिक्री बढ़ गयी है. लस्सी और सत्तू की दुकानों पर अच्छी भीड़ दिख रही है. लोग गर्मी से राहत पाने के लिए ठंडे पेय पदार्थ का सेवन कर रहे हैं.
 
सड़कों पर खड़ा रहना हुआ मुश्किल : इतनी तेज धूप में सड़कों पर खड़ा रहना काफी मुश्किल हो रहा है. सुबह आठ बजे से ही काफी तेज धूप निकल जा रही है, जिससे राहगीरों का चलना भी दूभर हो गया है. रविवार को दिन के 12 से चार बजे के बीच तापमान 36 से 39 डिग्री के आसपास रहा. दोपहर के समय सड़कों पर सन्नाटा छाया रहा. 
 
प्रायः सभी बाजारों में ग्राहकों की भारी कमी देखी गयी. गर्मी से राहत पाने के लिए सुबह और शाम के समय पार्कों व सड़कों पर चहल-पहल बढ़ रही है, लेकिन दिन के समय फिलहाल गर्मी से राहत मिलना मुश्किल नजर आ रहा है.
 
जल स्तर में भी आयी है कमी : तापमान के बढ़ने से लोगों को गर्मी का असर झेलना पड़ रहा है. वहीं जल स्तर में आयी गिरावट से पेयजल की समस्या भी उत्पन्न हो रही है. शहर एवं गांव में जलापूर्ति विभाग द्वारा लगाये गये चापाकल भीषण गर्मी में सूखने लगे हैं. 
 
 वहीं, जिन जगहों पर पाइपलाइन से वाटर सप्लाइ की जाती है, वहां भी नियमित आपूर्ति बाधित हो रही है. नगर निगम द्वारा सुबह और शाम पेयजल की आपूर्ति की जा रही है. लेकिन जिन मुहल्लों में अब तक पाइपलाइन से आपूर्ति शुरू नहीं हुई है या जहां पाइपलाइन बिछाने का काम जारी है, वहां के लोगों को पानी की किल्लत उठानी पड़ रही है. 
 
गर्मी से स्वास्थ्य पर भी पड़ रहा असर, बचाव जरूरी : तापमान जैसे-जैसे बढ़ रहा है, लोग गर्मी से बेहाल हो रहे हैं. गर्मी और चिलचिलाती धूप के कारण स्वास्थ्य पर भी कुप्रभाव पड़ रहा है. लोगों में कई प्रकार की सीजनल बीमारियां भी हो रही हैं. ऐसे में यदि पुराने घरेलू नुस्खे व उपचारों का सहारा लिया जाये, तो गर्मी और लू से काफी हद तक बचाव संभव है. 
 
 ताजा फलों के सेवन, खाने में हरी सब्जियों का प्रयोग, सादा भोजन, खस का रस आदि के प्रयोग से गर्मी के असर को कम तो किया ही जा सकता है साथ ही इस सीजन में होने वाली बीमारियों से भी बचा जा सकता है. 
 
इस संदर्भ में आयुर्वेद चिकित्सक डॉ राजेश रंजन ने बताया कि गर्म हवाओं और तेज धूप के कारण अक्सर लोग बीमार पड़ जाते हैं और घबरा जाते हैं. ऐसे में यदि घरेलू तरीके से प्राथमिक उपचार किया गया, तो लू का असर काफी कम किया जा सकता है.
 
गर्मी और धूप से बचने के कुछ उपाय 
घर से निकलते समय शरीर को अच्छी तरह ढक लें
खस का शरबत पीएं
घर से निकलते समय पानी पीकर निकलें
हल्का भोजन लें
तरल चीजों का प्रयोग ज्यादा करें
ताजे फलों का सेवन करें 
रविवार का तापमान
सुबह 9 बजे- 33 डिग्री
दोपहर 3 बजे- 39 डिग्री
शाम 5 बजे- 38 डिग्री
अधिकतम- 39 डिग्री
न्यूनतम- 26 डिग्री
 
Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement