Advertisement

singhbhum east

  • May 18 2017 6:05AM

बच्चा चोर के संदेह में फिर दो विक्षिप्तों की पिटाई

 जादूगोड़ा : अफवाह फैलने वालों समेत दो विक्षिप्त की हत्या के मामले में 40 नामजद लोगों पर मामला दर्ज

गालूडीह/जादूगोड़ा : जादूगोड़ा में बच्चा चोर का मामला  थमने का नाम ही नहीं ले रहा है. बुधवार को जादूगोड़ा के लिपिघुटु में एवं गालूडीह थाना क्षेत्र के कोदर के पास एक विक्षिप्त व्यक्ति को ग्रामीणों ने बच्चा चोर समझ कर पकड़ पिटाई कर दी. वहीं पिछले दिनों बच्चा चोर के संदेह में पीट-पीट कर दो विक्षिप्तों की हत्या करने के मामले में जादूगोड़ा थाना में  नामजद समेत सैकड़ों अज्ञात लोगों पर मामला दर्ज किया गया है. इसके अलावा दो एेसे  युवकों पर भी मामला दर्ज किया गया है,
 
जो सोशल मीडिया में बच्चा चोर की अफवाह फैलाने का आरोप है. दोनों घटनाओं में नामजद 40 और 650 अज्ञात लोगों  के नाम पर मामला दर्ज किया है. सभी पर हत्या का मामला दर्ज किया गया है. जानकारी अनुसार कोदर के पास बुधवार सुबह में एक विक्षिप्त व्यक्ति को ग्रामीणों ने बच्चा चोर समझ कर पकड़ पिटाई कर दी. बाद में ग्रामीणों ने उसे पकड़ कर थाना पहुंचाया. वह साउथ का रहने वाला था. उसकी भाषा कोई समझ नहीं पा रहा था. वह मानसिक रूप से विक्षिप्त था और मांग कर गुजारा करता है. पुलिस ने उसे स्टेशन लाकर किसी ट्रेन में बैठा कर भेज दिया. मंगलवार को भी बेड़ाहातू गांव के पास ग्रामीणों ने एक विक्षिप्त युवक को पकड़ा था. हालांकि मुखिया और पुलिस की तत्परता से उसकी जान बच गयी. इसके पूर्व पुतड़ू में एक विक्षिप्त की पिटाई हुई थी.
 
बच्चा चोर का शोर, दिग्भ्रमित हो रहे ग्रामीण: थाना क्षेत्र में पिछले सप्ताह भर से बच्चा चोर का शोर है. तीन मामले सामने आ  चुके हैं. विक्षिप्त, भिखारियों व फेरी करने वालों को बच्चा चोर के नाम पर निशाना बनाया जा रहा है. फेरी करने वाले भय से गांव नहीं जा रहे हैं. दिन और रात गांव में कई टोलियों में बंट कर ग्रामीण लाठी-डंडा लेकर पहरेदारी कर रहे हैं. 
 
लिपीगुटू में विक्षिप्त की पिटाई : लिपीगुटू में एक विक्षिप्त व्यक्ति को बच्च चोर समझ कर ग्रामीणों ने धुलाई कर दी. मौके पर पहुंचे अन्य ग्रामीणों की मदद से उसे बचा लिया गया. बाद में उसे राखा माइंस रेलवे स्टेशन ले जाया गया, जहां किसी लोकल ट्रेन में बैठ दिया गया. जहां विक्षिप्त  व्यक्ति की जमकर धुलाई कर दी गयी.   
 
अफवाह फैलाने वालों की हुई पहचान : सोशल मीडिया पर अफवाह फैलने वालों की भी पहचान कर ली गयी है दोनों आसनबनी क्षेत्र के रहने वाले हैं. इसमें मदन दास और लखी दास हैं. इनके द्वारा ही बच्चा चोर की अफवाह सोशल मीडिया पर फैलायी गयी है. 
 
गुर्रा नदी की घटना में 23 नामजद व 150-200 अज्ञात पर  मामला दर्ज : 10  मई ईचड़ा के गुर्रा नदी पार में पिटाई से हुई विक्षिप्त की मौत के मामले  में हुई राखा माइंस रेलवे स्टेशन के रोहित साहु, सूरज महुरी, रामलाल महुरी,  कुलडीहा के शशि विराम, गुणा साव, गाजुलुम सिंह, पिथि कुमार, नाबू पातर,  पोगर हो, तुलसी सिंह, दुडकू का शोशो गोप, भवानीडीह के बुढा वारी, रंजीत  वारी,  जीतेन भकत, ईचड़ा का संजय भकत, मंजीत सिंह, तुलसी भकत, आसनबनी के  कृष्णा पातर, नवरंग मार्केट अशोक विश्वकर्मा, सदीप उर्फ रोहित सिंह समेत  150–200 अज्ञात मामला दर्ज किया गया है.
 
आसबनी हत्या मामले में 17 नामदर्ज और 400 से 450 अज्ञात पर मामला दर्ज : दूसरे दिन आसनबनी में विक्षिप्त की मौत के मामले में मदन दास, लखी दास, सुंदर दास, वनडीह  के मानिक बारिक, सोलेन बारिक, सूरज भकत, कालापाथर के रोमन भकत, तारा पदो  भकत, हिमाशु भकत, खोकन भकत, विनोद भकत जलाधर भकत, सुभाष भकत, पतरी के  मदुलोचन भकत, मुकुनदेव भकत, राकेश भकत, कालापाथर के भरकाडीह गांव से  गोपेश्वर भकत समेत अज्ञात में 400 से 450 लोगों पर मामला दर्ज किया गया है.  
 
Advertisement

Comments