Advertisement

simdega

  • Feb 4 2019 10:30PM

विहिप के जिलाध्यक्ष ने कहा, हिंदू समाज को कमजोर करने की साजिश रच रहे षडयंत्रकारी

विहिप के जिलाध्यक्ष ने कहा, हिंदू समाज को कमजोर करने की साजिश रच रहे षडयंत्रकारी

सिमडेगा : विश्व हिंदू परिषद (विहिप) सिमडेगा जिला अध्यक्ष कौशल राज सिंह देव ने कहा कि षडयंत्रकारी साम, दाम, दंड आैर भेद के जरिये हिंदू समाज को कमजोर करने में लगे हुए हैं. उन्होंने कहा कि हिंदू समाज को बरगलाकर जात-पात में बांटकर कमजोर करना चाहते हैं. लोहरा, तुरी, बड़ाइक समाज सहित अन्य समाज के लोगों को दिग्भ्रमित कर इसाई बनाने का काम किया जा रहा है. इसे समझना है, ताकि समाज में भेदभाव भुलाकर एकजुटता पर बल दिया जा सके.

इसे भी पढ़ें : जस्टिस विष्णु सदाशिव कोकजे बने विश्व हिंदू परिषद के नये अध्यक्ष

दरअसल, वे सोमवार को झारखंड के सिमडेगा जिले के बांसजोर प्रखंड स्थित कोमबाकेरा गंझुटोली में विश्व हिंदू परिषद् के एकल अभियान के तत्वावधान में आयोजित तीन दिवसीय राम कथा सह ज्ञान ज्ञग के समापन अवसर पर संबोधित कर रहे थे. इस मौके पर यशोदा कुमारी, चंद्रिका कुमारी, सुमति कुमारी, दिलेशवरी कुमारी, कोशिलया कुमारी आैर शांति कुमारी धर्म बहनों द्वारा तीन दिनों तक भगवान् श्री राम कथा के विभिन्न प्रसंगों से लोगों को अवगत कराया. सभा में मुख्य अतिथि के रूप मे विहिप जिला अध्यक्ष कोशल राज सिंह देव, सरना समिति के हरिश्चंद्र भगत, मठ प्रमुख भुनेश्वर सेनापति, नरायण दास, लहरू सिंह, कमल सेनापति सहित अन्य लोग उपस्थित थे.

सभा को भुनेश्वर सेनापति, हरिश्चंद्र भगत, नरायण दास, लहरू सिंह, कमल सेनापति सहित अन्य लोगों ने भी संबोधित किया. मंच संचालन प्रदीप सिंह व धन्यवाद ज्ञापन पहान चंद्रशेखर सिंह ने किया.  कार्यक्रम में महत्वपूर्ण योगदान अमरदीप नाग, किशन बडाईक, जगदीश सिंह, दिलबर सिंह, विजय महतो, चरण सिंह, जोगेशवर सिंह, कर्मपाल सिंह, रामलखन सिंह, हेमराज सिंह, लुईशवर सिंह, शकुंतला देवी, संध्या देवी, सावित्री देवी, आशा देवी सहित काफी संख्या में हिंदू समुदाय के लोग उपस्थित थे.

सभा में कौशल राज सिंह देव ने सभी लोगों से धर्म के मार्ग पर चलने के लिए आह्वान किया. तीन दिवसीय धार्मिक कार्यक्रम के आखरी दिन हिंदू सभा का आयोजन किया गया. उन्होंने कहा कि मुंडा समाज के अधिकतर लोग अपना धर्म आैर संस्कृति बदल चुके है. अपने आप को सरना समाज का हितैषी समझते है. उन्होंने कहा कि आने वाली हमारी पीढी को हिंदू संस्कार देने के साथ पढ़ाने पर भी ध्यान दें. सप्ताह में एक दिन चिंतन-मनन आैर सत्संग करें.

उन्होंने कहा कि कोलेबिरा के नवनिर्वाचित विधायक द्वारा सरना पर दिये गये बयान की भी कडी निंदा की. उन्होंने कहा कि हर हाल में समाज को जागरूक आैर संगठित रखें.

Advertisement

Comments

Advertisement