siliguri

  • Jan 16 2020 1:01AM
Advertisement

सिलीगुड़ी के कराटे खिलाड़ी ने आर्थिक मदद की लगायी गुहार

29 जनवरी से थाइलैंड में होनेवाली इंटरनेशनल कराटे चैंपियनशिप में शामिल होना चाहते हैं पौलुश मुंडा

राष्ट्रीय स्तर पर चार स्वर्ण जीत चुके हैं पौलुश मुंडा

प्रतियोगिता में शामिल होने के लिए डेढ़ लाख की जरूरत, घर की आर्थिक हालत दयनीय

प्रेस कांफ्रेंस कर सरकार व खेल संस्थाओं से मदद की अपील की
 
सिलीगुड़ी : आर्थिक अभाव के कारण कई होनहार खिलाड़ी अपनी प्रतिभा का अंतराष्ट्रीय स्तर पर प्रदर्शन नहीं कर पाते हैं. कुछ ऐसी ही कहानी है सिलीगुड़ी के कराटे खिलाड़ी पौलुश मुंडा की. इंजीनियरिंग कॉलेज के छात्र और राष्ट्रीय स्तर पर दमदार प्रदर्शन कर चुके पौलुश मुंडा 29 जनवरी से थाइलैंड में होनेवाली इंटरनेशनल कराटे चैंपियनशिप में शामिल होना चाहते हैं. लेकिन पैसे की तंगी के कारण उनका यह सपना पूरा होता नहीं दिख रहा है. 
 
बुधवार को सिलीगुड़ी जर्नलिस्ट्स क्लब में आयोजित एक प्रेस कांफ्रेंस में पौलुश मुंडा ने कहा कि 29 जनवरी से थाईलैंड में इंटरनेशनल कराटे चैंपियनशिप का आयोजन होना है.
 
उन्होंने कहा कि उस प्रतियोगिता में शामिल होने के लिए करीब डेढ़ लाख रुपये खर्च होगे. उन्होंने अपनी आर्थिक समस्या का जिक्र करते हुए कहा कि उनके घर की स्थिति ऐसी नहीं है कि वे अपने खर्च से वहां जा सके. इसके लिए उन्होंने  विभिन्न कराटे स्कूलों में क्लास लेकर कुछ पैसे इकट्ठे किये है, लेकिन इन रुपयों से उनका इंटरनेशनल कराटे चैंपियनशिप में जाने का सपना पूरा नहीं हो सकता है.
 
उन्होंने खेल की विभिन्न संस्थाओं से आर्थिक सहायता करने की गुहार लगायी है. उन्होंने यह भी कहा कि वे मंत्री गौतम देव से मुलाकात कर आर्थिक मदद करने की अपील करेंगे. उन्होंने बताया कि इस प्रतियोगिता में करीब 54 से ज्यादा देश के कराटे खिलाड़ी शामिल होंगे. ज्ञात हो कि पौलुश मुंडा राष्ट्रीय स्तर पर चार स्वर्ण पदक जीत चुके हैं. इस बार उनका सपना इंटरनेशनल कराटे चैंपियनशिप में शामिल होना है.
 
Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement