siliguri

  • Dec 11 2019 2:02AM
Advertisement

रिहायशी इलाके में घुसा गैंडा, लोगों में आतंक

 हमले में एक गाय की मौत

मयनागुड़ी : रिहायसी इलाके में गैंडे के आगमन से गोरुमारा जंगल के समीप मयनागुड़ी ब्लॉक के रामशाई बाजार इलाके में हलचल मच गया. गैंडे के आक्रमण से एक गर्भवती गाय की मौत हो गयी. जबकि कई स्थानीय निवासियों की जान बाल बाल बची. वन कर्मी मौके पर पहुंचकर गैंडे को जंगल लौटाया. वन विभाग ने क्षतिग्रस्त को उचित मुआबजा देने का आश्वासन दिया है.
 
स्थानीय लोगों का कहना है कि सोमवार रात को ही एक वयस्क नर गैंडा गोरुमारा जंगल से जलढाका नदी पार कर रामशाई बांध के पास चला गया था. वहां पूरी रात तक घूमने के बाद तड़के रामशाई बाजार पहुंच गया. स्थानीय निवासी निशिबाला राय के घर के पीछे थोड़ी दूरी पर एक झाड़ी के बीच गैंडा छीपा रहा. सुबह लगभग 6 बजे स्थानीय निवासी धीरेन राय मैदान में अपनी गाय बांधने गया. अचानक गैंडा उसके सामने चला गया.
 
धीरेन राय सहित खेत में काम कर रहे कुछ लोगों ने किसी तरह से भागकर अपनी जान बचायी. स्थानीय लोग गैंडा देखकर शोर मचाने लगे. इससे गैंडा घबराकर भटक गया व पास के खेत में चर रही गर्भवती गाय पर आक्रमण कर दिया. रस्सी से बंधी होने के कारण गाय भाग नहीं पायी. गैंडे ने अपने सिंग से उसपर वार कर दिया. गाय की मालकिन निशिबाला राय ने बताया की उसके आंखो के सामने उसकी गर्भवती गाय को गैंडे ने छिन्न भिन्न कर दिया.
 
 घटना की खबर गोरुमारा वन्यप्राणी विभाग के रामशाई मोबाइल स्क्वाड के रेंजर विश्वज्योती दे व बुधुराम बीट के बीट ऑफिसर स्मृति राय सहित वनकर्मी मौके पर पहुंचे. वनकर्मियों ने पटाखा फोरकर उसे जंगल लौटाया. रेंजर ने बताया कि खबर मिलते ही घटनास्थल पर पहुंचकर गैंडे को खदेरा गया है. गैंडे के हमले एक गाय की मौत हुई है. बुधुराम बीट ऑफिसर ने बताया कि गैंडे की गतिविधि पर निगरानी रखा जा रहा है. प्रशिक्षत हाथी की मदद से पर्यवेक्षण किया जा रहा है. वन विभाग के नियमानुसार क्षतिग्रस्त को मुआबजा दे दिया जायेगा. 
 
Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement