Advertisement

siliguri

  • Oct 15 2019 2:32AM
Advertisement

वार्ता में बनी सहमति, आज से खुलेगा जयपुर चाय बागान

 द्विपक्षीय बैठक में बागान खोलने पर बनी सहमति

15 व 22 अक्तूबर को होगा दोनों पाक्षिक वेतन का भुगतान

जलपाईगुड़ी : बंद होने को दो दिनों के भीतर सोमवार को द्विपक्षीय बैठक के बाद जलपाईगुड़ी का जयपुर चाय बागान मंगलवार 15 अक्टूबर खुलने जा रहा है. मंगलवार को श्रमिकों का एक पाक्षिक मजदूरी का भुगतान कर दिया जायेगा. सोमवार को मालिकपक्ष एवं श्रमिक यूनियन के बीच आईटीपीए के हॉल में द्विपक्षीय बैठक में बागान खोलने का फैसला लिा गया. 12 अक्टूबर को बगान प्रबंधन ने सस्पेंशन ऑफ वर्क नोटिस जारी कर बागान में ताला लगा दिया था.

 उल्लेखनीय है कि जयपुर चाय बागान में स्थायी व अस्थायी कुल 1500 श्रमिक काम करते है. श्रमिकों के बकाया 2 पाक्षिक वेतन भूगतान की मांग पर 11 अक्टूबर को मैनेजर व सहकारी मैनेजरों का घेराव किया था. इसके बाद प्रबंधन ने सुरक्षा की कमी व आर्थिक तंगी को कारण बताते हुए देर रात बागान छोड़कर चले गये. इधर 14 अक्टूबर सोमवार को इंडियन टी प्लांटर्स एसोसिएशन (आईटीपीए) के हॉल में श्रमिक यूनियन व मालिक पक्ष में बैठक संपन्न हुई. इस बैठक में श्रमिक व कर्मचारियों का बकाया भुगतान के आश्वासन के बाद मंगलवार को बागान खोलने पर सभी सहमत हुए हैं.

 बागान मैनेजर धन्न राम चौधरी ने बताया कि बैठक में मंगलवार को बकाया भुगतान व बागान पुन: चालू करने का फैसला लिया गया है. आईटीपीए के मुख्य सलाहकार अमितांशु चक्रवर्ती ने बताया कि कुछ श्रमिकों ने अपनी गलती मान ली है. मंगलवार को बागान खोलने पर एक पाक्षिक बकाया चुका जायेगा. 22 अक्टूबर को दूसरा पाक्षिक बकाया चुकाने का वादा किया गया है. 17 अक्टूबर को कर्मचारियों का वेतन एवं दिपावली के बीच श्रमिकों के अतिरिक्त पत्ता तोड़ने का रुपए भी चुका दिया जायेगा. श्रमिकों ने प्रबंधन को शांतिपूर्ण तरीके से काम में सहयोग का आश्वासन दिया है. अमितांशु चक्रवर्ती ने बताया कि दिसंबर में अन्य समस्यायों को लेकर द्विपक्षीय बैठक बुलायी गयी है.

 
Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement