Advertisement

siliguri

  • Aug 21 2019 3:52AM
Advertisement

बोनस पर सितम्बर के पहले सप्ताह में हो सकती है बैठक

चाय बागानों में कार्यरत श्रमिकों के हित को लेकर ज्वाइंट फोरम तत्पर

प्रचार-प्रसार सचिव ने कहा, 20 प्रतिशत से कम पूजा बोनस स्वीकार नहीं

दार्जिलिंग : पहाड़ के चाय बागानों में कार्यरत चाय श्रमिकों के पूजा बोनस की बैठक सितम्बर माह के पहले सप्ताह में होने की उम्मीद है. उक्त बातें ज्वाइंट फोरम हिल के प्रचार-प्रसार सचिव सुनील राई ने मंगलवार को कही. स्थानीय पार्टी कार्यालय में ज्वाइंट फोरम हिल के प्रचार-प्रसार सचिव सुनील राई ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि मिनिमम वेजेस का बिल संसद में पारित हो चुका है. श्रमिकों के मिनिमम वेजेस तय करने का दायित्व राज्य सरकार का है.

लेकिन इतने दिन बीत जाने के बावजूद भी राज्य सरकार का श्रमिकों के लिए मिनिमम वेजेस तय नहीं करना दुखद है. ज्वाइंट फोरम ने मिनिमम वेजेस समेत अन्य मांगों को लेकर सरकार के साथ कई बार बैठक भी कर चुकी है. इसी तरह से पिछले कुछ दिनों पहले ज्वाइंट फोरम हिल ने पहाड़ के चाय श्रमिकों के पूजा बोनस की बैठक पहाड़ में ही शीध्र बुलाने की मांग करते हुये दार्जिलिंग टी एसोसिएशन और इंडेन टी एसोसिएशन को ज्ञापन पत्र सौंपा चुका है. ज्वाइंट फोरम हिल का साफ कहना है कि पहाड़ के चाय श्रमिकों के पूजा बोनस को लेकर जो बैठक होता है, उसे पहाड़ में ही करना पड़ेगा.

दूसरी बात 20 प्रतिशत से कम पूजा बोनस को स्वीकार नहीं किया जायेगा. बातचीत के क्रम में श्री राई ने कहा कि हमलोगों को उम्मीद है कि पहाड़ के चाय बागानों में कार्यरत श्रमिकों के पूजा बोनस को लेकर होने वाली बैठक सितम्बर माह के पहले सप्ताह के अंदर हो सकता है. हालांकि इस बारे में संबंधित विभागीय अधिकारियों ने अधिकारिक रूप से ऐसा कुछ भी नहीं कहा है. उन्होंने कहा कि इंडियन टी एसोसिएशन ने आगमी 24 अगस्त को दार्जिलिंग के एक होटल में दोपहर को 4 बजे बैठक बुलाया है.

परंतु बैठक के विषय में सूचना का उल्लेख नहीं किया गया है. बैठक में हमलोग भाग लेंगे. यदि पूजा बोनस पर चर्चा हुई तो हमारी मांग साफ है कि 20 प्रतिशत से कम पूजा बोनस को स्वीकार नहीं किया जायेगा. बातचीत के क्रम में श्री राई ने कहा कि ज्वाइंट फोरम हिल के कन्वेनर के पद से जेवी तामंग को हटाये जाने के कारण अभी यह पद खाली पड़ा हुआ है. कन्भेनर के बगैर कार्यक्रम करने में काफी असुविधाएं हो रही है. इन बातों की जानकारी हमलोगों ने ज्वाइंट फोरम सिलीगुड़ी को दे दी है. उम्मीद है कि नये कन्वेनर की नियुक्ति शीध्र ही हो जायेगी.

 
Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement