Advertisement

siliguri

  • Jun 20 2019 1:48AM
Advertisement

मनरेगा के तहत रुपया गबन करने वाला प्रधान धराया

मालदा : मनरेगा के अंतर्गत निर्मल बांग्ला योजना के नाम पर लाखों रुपए घोटाले के आरोप पर तृणमूल ग्राम पंचायत प्रधान गिरफ्तार हुआ. हालांकि प्रधान का दावा है कि यह राजनैतिक साजिश है. घटना मालदा के रतुआ थाना के महानंदटोला ग्राम पंचायत के श्यामगोफटोला इलाके में हुई है. पुलिस मामले की छानबीन कर रही है.

 जानकारी मिली है कि प्रधान सुकेश यादव किसी समय कांग्रेस के टिकट पर महानंदटोला ग्राम पंचायत में विजयी हुए थे. बाद में वह तृणमूल में शामिल हो गया. 2017 साल में रतुआ 1 नंबर ब्लॉक के महानंदटोला ग्राम पंचायत के कांग्रेस प्रधान रहने के दौरान उसने 100 दिन के काम में लगभग 1 करोड़ रुपए की हेराफेरी की. यह आरोप रतुआ 1 नंबर ब्लॉक के तत्कालीन बीडीओ अर्जुन पाल ने लगायी थी. 2017 साल के 6 नवंबर को रतुआ थाने में प्रधान के खिलाफ बीडीओ ने लिखित शिकायत दर्ज करवायी. छानबीन शुरू होते ही प्रधान तृणमूल में शामिल हो गया. रतुआ के तत्कालीन कांग्रेस विधायक समर मुखर्जी ने आरोप को झूठा बताकर अनसन शुरू किया.
 
आज समर मुखर्जी भी तृणमूल में शामिल हो चुके है. डेर साल बाद घटना की छानबीन में मंगलवार देर रात आरोपी पूर्व प्रधान मुकेश यादव को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया. बुधवार को अदालत जाने के क्रम में आरोपी प्रधान ने कहा कि वह राजनीति के शिकार हैं. व्यक्तिगत कारणों से उसे फंसाया गया है. उसने बताया कि इस साजिश में ग्राम पंचायत के तमाम अधिकारी, एनएस, एक्सीक्यूटिव, एसटीपी, जीआरएस, ठेकेदार सहित अनेक लोग शामिल है. 
 
 इलाकावासियों का आरोप है कि निर्मल बांग्ला के तहत इलाके में एक भी शौचालय नहीं बने है. इसे लेकर बीडीओ ने प्रधान के नाम पर थाने में शिकायत दर्ज करवायी थी. घटना को लेकर जिला तृणमूल अध्यक्ष मौसम नूर ने कहा कि मंत्री के साथ मंगलवार को मीटिंग में प्रधान के संबंध में चर्चा हुी है. उसके खिलाफ फर्जीवारे का आरोप लगा था.
 
उन्होंने कहा कि इस कार्रवायी से भ्रष्टाचारियों के खिलाफ कड़ा संदेश दिया गया है. ऐसे ही कोई भी अगर भ्रष्टाचार में लिप्त है तो उसके खिलाफ भी कार्रवायी होगी. पार्टी में ऐसे लोगों के लिए कोई जगह नहीं है. जिला पुलिस अधीक्षक अलोक रजोरिया ने कहा कि 2017 साल में प्रधान के खिलाफ शौचालय बनाने में रुपए गवन करने का आरोप लगा था. उसकी छानबीन के बाद उसे गिरफ्तार किया गया है. मामले की छानबीन जारी है.
Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement