Advertisement

siliguri

  • Feb 12 2019 5:37AM

सिलीगुड़ी में नकली शराब बनाने का कारोबार जारी

 सिलीगुड़ी : उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड में नकली शराब पीकर करीब 120 लोगों की मौत का मामला अभी शांत नहीं हुआ है. इसके अलावा हाल ही में पश्चिम बंगाल में भी नदिया एवं फांसीदेवा इलाके में नकली शराब पीने से कुछ लोगों की मौत हुई थी. उसके बाद भी नकली शराब बनाने का कारोबार जारी है. सिलीगुड़ी के निकट विधाननगर इलाके में पिछले एक सप्ताह में एक पर एक भारी मात्रा में नकली शराब बरामद होने से पुलिस के आला अधिकारियों की नींद उड़ गई है. 

नकली शराब पीने से मौत की घटना सामने के आने के बाद पुलिस काफी चौकस है. यही कारण है कि पिछले कुछ दिनों से बागडोगरा, विधाननगर तथा फांसीदेवा के साथ साथ सिलीगुड़ी मेट्रोपॉलिटन पुलिस के विभिन्न थानों में लगातार अभियान चलाया जा रहा है.हर दिन कहीं ना कहीं अवैध शराब, गांजा, अथवा नशे की दवा के साथ लोगों की गिरफ्तारी हो रही है. उसके बाद भी धंधा थमने का नाम नहीं ले रहा है. नकली शराब बनाने वाले गिरोह के सदस्य लगातार सक्रिय हैं. 
 
इसी क्रम में सोमवार को विधाननगर आउटपोस्ट पुलिस ने भारी मात्रा में नकली शराब बरामद किया है. करीब 600 बोतल शराब पुलिस ने बरामद किया है. इन शराब की बोतलों को 70 कार्टून में पैक कर रखा गया था.शराब को एक पिकअप वैन में लाद कर बिहार तस्करी की योजना थी. इससे पहले इसी महीने 6 तारीख को हप्तियागछ गांव से भी 600 बोतल नकली शराब बरामद करने में विधान नगर आउटपोस्ट की पुलिस सफल हुई थी .इस तरह से नकली शराब की लगातार बरामदगी से पुलिस परेशान है. 
 
पुलिस का मानना है कि नकली शराब की खपत सिलीगुड़ी में कम होती है. बल्कि बिहार में इसकी खपत अधिक है. तस्कर इस इलाके में नकली शराब बनाकर बिहार तस्करी करते हैं. कई नामी-गिरामी ब्रांड के नकली शराब बनाकर बिहार भेज दिया जाता है. आज भी जो शराब पुलिस ने बरामद किया है उसे भी बिहार भेजने की तैयारी थी. एक पिकअप वैन में शराब के कार्टून लदे हुए थे.
 
पिकअप वैन बिहार जा रही थी. नाका चेकिंग के दौरान जब पिकअप वैन को रोकने के लिए विधान नगर पुलिस ने इशारा किया तो ड्राइवर गाड़ी लेकर आगे निकल गया. इससे पुलिस को गाड़ी में कोई गैरकानूनी जीच होने की शंका हुई. उसके बाद पुलिस ने काफी दूर तक पिकअप वैन का पीछा किया. विधाननगर आउटपोस्ट के ओसी सुमन कल्याण ने बताया है कि रविवार रात को एक सब्जी लदे पिकअप वैन को नाका चेकिंग के दौरान रोकने की कोशिश की गई. लेकिन ड्राइवर वैन तेजी से लेकर आगे निकल गया.
 
कुछ किलोमीटर दूर पीछा करने के बाद वैन को पकड़ने में सफलता मिली. तबतक ड्राइवर वैन को छोड़कर फरार हो गया था. जब वैन की तलाशी ली गई तो सब्जी के नीचे एक पर एक कार्टून दबे मिले. कार्टून को खोलने के बाद सभी पुलिसवाले हैरान रह गए. सभी कार्टून में नकली शराब की बोतलें भरी हुई थी. 
 
श्री कल्याण ने आगे कहा कि बिहार तस्करी के लिए ही शराब की बोतलें ले जाई जा रही थी. गाड़ी के मालिक तथा वैन चालक को पकड़ने की कोशिश की जा रही है. उन्होंने आगे कहा कि नकली एवं अवैध शराब कारोबार के खिलाफ पुलिस का लगातार यह अभियान जारी रहेगा. इस बीच,विधाननगर, फांसीदेवा तथा बागडोगरा इलाके में नकली शराब बनाने के कारखाने का खुलासा हुआ है.  
 
कुछ दिनों पहले बागडोगरा थाना इलाके में पुलिस एवं आबकारी विभाग ने भारी मात्रा में नकली शराब बरामद किया था. नकली शराब बनाने वाले एक कारखाने का भी पुलिस ने भंडाफोड़ किया था. इन घटना के बाद से पुलिस के आला अधिकारी परेशान हैं. नकली एवं अवैध शराब का कारोबार रोकने के लिए पुलिस ने लगातार अभियान चलाने की बात कही है.
 
Advertisement

Comments

Advertisement