Advertisement

siliguri

  • Jan 12 2019 5:16AM

हाथियों ने आंगनबाड़ी केंद्र पर किया हमला, खेतों में घुसकर आलु व बंदागोभी को पहुंचाया नुकसान

हाथियों ने आंगनबाड़ी केंद्र पर किया हमला, खेतों में घुसकर आलु व बंदागोभी को पहुंचाया नुकसान
नागराकाटा :  दो दंतैल हाथियों ने शुक्रवार को आंगनबाड़ी केंद्र पर हमला कर दिया. इस दौरान केंद्र में बच्चों के लिये रखा गया सत्तू को खाकर हाथियों ने रात का डिनर किया. स्थानीय निवासियों ने बताया कि जब इससे भी हाथी का पेट नहीं भरा तो पास के खेत में घुसकर आलु व बंदागोभी की फसल को खा गया.
 
 यह घटना गुरुवार देर रात नागराकाटा ब्लॉक के आंगराभाषा-2 ग्राम पंचायत के पश्चिम खयेरकाटा इलाके में हुयी है.
 
 वहां एक आंगनबाड़ी केंद्र पर हाथी ने दो लोहे के ट्रंक को तोड़कर उसमें रखा तीन पैकेट सत्तू खा गया. पिछले एक सप्ताह में कई बार हाथियों ने गांव पर हमला बोला है, जबकि इस आंगनबाकेंद्र पर दो बार हाथी ने हमला किया. फिलहाल यह कृषि प्रधान गांव के किसान परिवार भय के माहौल में जी रहे है. 
 
95 नंबर इस आंगनबाड़ी केंद्र की कर्मचारी शांति उरांव ने बताया कि पिछली बार हाथियों ने 30 किलो चावल खा लिया था. इसके बाद से चावल के बोरियों को यहां नहीं रखा जाता है. इस बार चावल नहीं मिला तो बच्चों के टिफिन का सत्तू खा लिया.
 
 ग्रामीणों ने बताया की केंद्र में सत्तू खाने के बाद पास के खेत में आलू व बंदागोभी को खा लिया. कुछ फसल खाया लेकिन ज्यादातर बर्बाद कर दिया. यह घटनाएं आम हो चली है. हर बार इलाके के लोगों द्वारा खदेजडने पर हाथी इलाके से भागते हैं. 
 
इलाकावासियों का आरोप है कि कुछ दिनों पहले धुमपाड़ा में हाथी के हमले में कई मकान क्षतिग्रस्त हुए हैं. वन विभाग ने बताया कि नाथुआ रेंज अंतर्गत पश्चिम खयेरकाटा जंगल से हाथी इलाके में घुसे थे. विभाग के अनरारी वाइल्डलाइफ वार्डन सीमा चौधरी ने बताया कि हाथियों की गतिविधि पर नजर रखा जा रहा है.
 

Advertisement

Comments

Advertisement