Advertisement

sheohar

  • Jun 25 2019 1:03AM
Advertisement

आंगनबाड़ी केंद्रों पर बच्चों का पोषाहार बंद नहीं हो : डीएम

 6:30 बजे से 11 बजे तक शिक्षकों की उपस्थिति हर हाल में सुनिश्चित कराए शिक्षा विभाग

 
शिवहर : समाहरणालय स्थित कार्यालय कक्ष में एक समीक्षात्मक बैठक आयोजित की गयी. जिसमें कल्याण विभाग की समीक्षा की गयी. इस दौरान अनुसूचित जाति-जनजाति अत्याचार निवारण अधिनियम की समीक्षा की गयी. इसमें जिला कल्याण पदाधिकारी को निर्देश दिया गया कि जिन लोगों का भुगतान बैंक खाता के कारण सुनिश्चित नहीं हो पाया है.
 
उन्हें लिखित सूचना देकर खाता संख्या प्राप्त कर भुगतान की कार्यवाई सुनिश्चित करें. बैठक में सामुदायिक भवन एवं वर्कशेड निर्माण की समीक्षा की गयी. जिसमें जिला कल्याण पदाधिकारी को निर्देश दिया गया कि जहां भी सामुदायिक भवन सह वर्क शेड निर्माण हो रहा है, उसको निरीक्षण करें. 
 
कार्यपालक अभियंता स्थानीय क्षेत्र अभियंत्रण संगठन को भी निर्देश दिया गया कि स्थल पर जाकर योजनाओं का निरीक्षण करें. 
 सभी बीडीओ को निर्देश दिया गया कि  पेंशन के जिन लाभुकों का भुगतान अभी तक नहीं हुआ है. जबकि पूर्व में भुगतान हो रहा था. परंतु अब किसी कारण बस भुगतान नहीं हो रहा है. इसकी जांच कर निराकरण कराना सुनिश्चित करें. इस दौरान सहायक निदेशक सामाजिक सुरक्षा को निर्देश दिया गया कि इसकी अपने स्तर से समीक्षा करें और पेंशन भुगतान कराना सुनिश्चित करें.
 
बैठक में स्पांसरशिप योजना की समीक्षा की गयी. सहायक निदेशक को निर्देश दिया गया कि लाभुकों से सभी कागजात प्राप्त होने पर तीन दिनों के अंदर स्वीकृति की कार्रवाई कराना सुनिश्चित करें. कागजात जुटाने में किसी भी परिस्थिति में लाभुक को परेशानी नहीं हो यह संबंधित बीडीओ की जिम्मेवारी होगी. जिला उद्योग केंद्र के महाप्रबंधक को डीएम ने निर्देश दिया कि प्रधानमंत्री रोजगार योजना के अंतर्गत जिला स्तरीय समिति का बैठक करना सुनिश्चित करें.
 
जिला कार्यक्रम अधिकारी शिक्षा को निर्देश दिया गया कि विद्यालय में शिक्षकों की उपस्थिति सुनिश्चित करें .कहा सुनिश्चित करें कि शिक्षकों की उपस्थिति 6:30 से 11:00 बजे तक हो. बैठक में मध्याह्न भोजन योजना गुणवत्तापूर्ण संचालित करने का भी निर्देश दिया गया. बैठक में आइसीडीएस की समीक्षा की गयी. जिसमें निर्देश दिया गया कि बाल विकास परियोजना पदाधिकारी सुनिश्चित करें किसी भी परिस्थिति में आंगनबाड़ी केंद्रों पर बच्चों का खाना बंद ना हो. वहीं मेनू का पालन अवश्य किया जाना चाहिए .गुणवत्ता से कोई समझौता नहीं किया जाएगा. बैठक में सीडब्ल्यूजेसी की भी समीक्षा की गयी.
 
Advertisement

Comments

Advertisement

Other Story

Advertisement