Advertisement

saran

  • Jul 16 2017 2:21AM

फोरलेन पर अगले साल से दौड़ेंगे वाहन लगेंगी गाड़ियां

 दिघवारा : हाजीपुर से छपरा सड़क मार्ग पर यात्रा करने वाले यात्रियों के इंतजार की घड़ियां अब जल्द ही समाप्त होने वाली है और फोरलेन पर सरपट वाहन दौड़ाने व गंतव्यों तक जल्दी पहुंचने का ख्वाब जल्द पूरा होने वाला है.अगले साल के जून तक हाजीपुर से छपरा के

बीचनिर्माणाधीन फोरलेन के पूरा हो जाने की संभावना है, फिर इस मार्ग पर गाड़ियां रफ्तार के साथ दौड़ पकड़ेगी. हाजीपुर से टेकनिवास के बीच लगभग 67 किलोमीटर लंबे सड़क मार्ग पर फोरलेन सड़क निर्माण का कार्य मधुकॉन कंपनी कर रही है. निर्माण का काम वर्ष 2011 से चल रहा है. कंपनी की मानें, तो 67 किलोमीटर में 30 किलोमीटर तक सड़क का निर्माण पूरा हो गया है. नयागांव चंवर से लेकर बाकरपुर तक,आमी से लेकर डुमरी तक व छपरा से लेकर विशुनपुर तक सड़क का निर्माण कार्य कंपनी द्वारा पूरा कर लिया गया है, बाकी जगहों पर निर्माण कार्य तेजी में चल रहा है.

कई जगहों पर हो रहा है पुल पुलिया का निर्माण : इस निर्माणाधीन सड़क मार्ग को पूरा करने के लिए कई जगहों पर कंपनी द्वारा पुल व पुलिया बनाया जा रहा है. पुल का निर्माण काफी तेज गति से हो रहा है, ताकि जल्द फोरलेन सड़क के निर्माण का कार्य पूरा किया जा सके.दिघवारा व शीतलपुर के मध्य मही नदी पर अवस्थित ब्रिटिशकालीन पट्टी पुल के बगल में  कंपनी द्वारा नया पुल बनाया जा रहा है. पुल के बन जाने से लोगों को पट्टी पुल के समीप हमेशा लगने वाले जाम से मुक्ति मिलेगी. बरसात को देखते हुए कंपनी ने पहले से ही जगह जगह मिट्टी को स्टोर कर लिया है और अब उस मिट्टी का प्रयोग भराई के काम में हो रहा है.इसके अलावे निर्माणाधीन मार्ग पर कई जगहों पर पत्थर बिछाने व कालीकरण का काम भी काफी तेज गति से प्रगति पर है.
 
जारी है रेलवे ओवरब्रिजों का निर्माण कार्य, लग रहे हैं गार्टर : हाजीपुर से टेकनिवास तक के इस फोरलेन मार्ग में छह जगहों पर रेलवे ओवरब्रिज का निर्माण होना है. रेलवे लाइन  को पार करने के लिए इन ओवरब्रिजों का निर्माण हाजीपुर, रेलपहिया कारखाना बेला,आमी, विशुनपुर के अलावा छपरा मशरक रेल लाइन व छपरा सीवान सड़क मार्ग के मध्य एक एक जगह पर होना है. सभी रेलवे ओबेरब्रिजों के पास गार्टर को लांच कर दिया है. गार्टर लांच के बाद रेलवे के आदेश पर ओवरब्रिजों का निर्माण तेज गति से शुरू हो जायेगा.
आमी में बनेगा अंडरपास,काम शुरू : जिस समय मधुकॉन कंपनी को इस फोरलेन सड़क का काम मिला था,उस समय आमी स्कूल होते अंबिका भवानी हाल्ट के रास्ते में अंडरपास बनाने की बात नहीं थी,मगर ग्रामीणों की मांग पर आमी में एक अंडरपास बनाने की स्वीकृति मिली है जिसका लाभ आमीवासियों को मिलेगा.आमी हाइस्कूल के बगल से अंडरपास बनेगा जो आमी में बन रहे रेलवे ओवरब्रिज के नीचे  से गुजर कर अंबिका भवानी हाल्ट तक जायेगा.
 
यात्रियों को मिलेगी जाम से मुक्ति,समय की होगी बचत : अभी मधुकॉन कंपनी के द्वारा हाजीपुर से टेकनिवास के बीच कई जगहों पर स्ट्रक्चर निर्माण किया जा रहा है जिसको लेकर टू लेन पर भी वाहनों को दौड़ने में वाहन चालकों को बाधा पहुंच रही है और जाम लगना एक आम सी बात हो गयी है. इतना ही नहीं दीघा पहलेजा व आरा छपरा सड़क पुल पर वाहनों के परिचालन शुरू होने से एनएच 19 पर  वाहनों का दबाव काफी बढ़ गया है जो जाम की मूल वजह बन रहा है.फोरलेन सड़क चालू हो जाने के बाद ही जाम से मुक्ति मिलने की संभावना है.
कई जिलों तक पहुंचने में लगेगा कम वक्त :
 
अभी जबकि गंगा नदी पर नवनिर्मित दीघा पहलेजा व आरा छपरा पुल पर वाहनों का परिचालन शुरू हो गया है,फिर भी जाम के कारण गोविंदचक से भिखारी चौक तक कई जगहों पर गाड़ियां जाम में फंसी दिखती है और राजधानी व अन्य जिलों तक जल्दी पहुंचने का सपना जाम की भेंट चढ़ जाता है.फोरलेन बनने के बाद यात्रियों को दोनों पुलों का ज्यादा फायदा मिलेगा और वे लोग कम समय में अपने गंतव्यों तक पहुंच सकेंगे.
बढ़ता गया वक्त और बढ़ती गयी राशि : हाजीपुर से टेकनिवास के बीच फोरलेन सड़क बनाने का काम मधुकॉन कंपनी द्वारा वर्ष 2011 में शुरू हुआ और कई बार इसके निर्माण पूरा होने का लक्ष्य रखा गया मगर कंपनी की आर्थिक तंगी के कारण निर्माण कार्य तय समय सीमा के अंदर पूरा नहीं हो सका और निर्धारित डेटलाइन भी पास होता रहा.मगर अब लगता है कि 2018 में इस फोरलेन सड़क पर वाहन फर्राटेदार दौड़ भरने लगेंगे.केंद्र सरकार द्वारा कंपनी को आर्थिक सहयोग भी किया गया है और खबर है कि इस फोरलेन सड़क के निर्माण पर होने वाला खर्च आठ सौ करोड़ से बढ़ कर एक हजार करोड़ हो गया है.
 
Advertisement

Comments

Advertisement