Advertisement

saharsa

  • Oct 18 2019 7:25AM
Advertisement

99फीसदी काम पूरा, अगले माह दौड़ सकती है सहरसा से सुपौल तक ट्रेन

 सहरसा : गढ़बरूआरी से सुपौल तक के बीच आमान परिवर्तन कार्य लगभग पूरे होने पर आगामी 25 या 26 अक्तूबर को सीआरएस निरीक्षण को हाजीपुर और समस्तीपुर डिवीजन के अधिकारियों का दौरा शुरू है. दो दिन पहले ही पूर्व मध्य रेलवे के प्रमुख मुख्य इंजीनियर और समस्तीपुर डिवीजन के डीआरएम सहरसा जंक्शन पहुंचे थे.

 
 वहीं गुरुवार को हाजीपुर जोन के चीफ इंजीनियर एनके झा, चीफ इंजीनियर निर्माण बीके शर्मा, डिप्टी चीफ इंजीनियर डीके श्रीवास्तव सहित कई वरीय अधिकारी गरुड़ स्पेशल से सहरसा जंक्शन पहुंचे. दो मिनट रुकने के बाद गरुड़ स्पेशल से सहरसा गढ़ बरुआरी होकर सुपौल रेलखंड के बीच अमान परिवर्तन कार्यों की जांच की और रेलवे ट्रैक का फाइनल ट्रायल किया.
 
 सहरसा जंक्शन रुकने पर चीफ इंजीनियर ने प्रभात खबर को बताया कि बरुआरी स्टेशन से सुपौल तक के बीच आमान परिवर्तन कार्यों के सत्यता की जांच होगी. रेलवे ट्रैक का भी फाइनल ट्रायल किया जा रहा है. जिसकी रिपोर्ट अविलंब सीआरएस को भेजी जायेगी. जिसके बाद सीआरएस की अनुमति मिलेगी. सीआरएस निरीक्षण होने के बाद सहरसा से सुपौल तक के बीच ट्रेन दौड़ेगी. 
 
चीफ इंजीनियर ने बताया कि गढ़बरूआरी स्टेशन से सुपौल तक के बीच करीब 99 प्रतिशत आमान परिवर्तन कार्य पूरे कर लिए गये हैं. अगर सब कुछ ठीक रहा तो अगले माह से सहरसा-सुपौल के बीच ट्रेन का परिचालन शुरू हो सकेगा. फिलहाल ट्रायल की जांच रिपोर्ट बुकलेट तैयार कर सीआरएस को भेज दी जायेगी. हालांकि 25 या 26 अक्तूबर को सीआरएस निरीक्षण के सवाल पूछने पर चीफ इंजीनियर ने बताया कि फाइनल रिपोर्ट भेजने के बाद ही सीआरएस की अनुमति मिल सकेगी. 
 
बता दें कि सहरसा से गढ़बरूआरी स्टेशन तक ट्रेनों का परिचालन किया जा रहा है. बीते 7 मार्च को इस रेलखंड पर ब्रॉड गेज की सेवा शुरू की गयी थी. निरीक्षण के दौरान सहायक मंडल इंजीनियर मनोज कुमार भी मौजूद थे. वहीं सहरसा जंक्शन पर जब गरुढ़ स्पेशल पहुंची तो नीरज चंद्रा, डिप्टी एसएस अरुण कुमार, सीनियर सेक्शन इंजीनियर प्रभात कुमार सहित कई अन्य अधिकारी मौजूद रहे.
 
सहरसा पूर्णिया के बीच डेमू ट्रेन का परिचालन शुरू
सहरसा. सहरसा  पूर्णिया रेलखंड पर गुरुवार को डेमू ट्रेन का परिचालन शुरू कर दिया गया  है. सहरसा से पूर्णिया के बीच सभी पैसेंजर ट्रेन डेमू में बदलकर दौड़ेगी.  समस्तीपुर डिवीजन में दो दिन पहले ही इसके लिए नोटिफिकेशन जारी किया गया  था. पूर्णिया से सहरसा आने वाली डेमू ट्रेन में इंजन बदलने का झंझट खत्म  होगा. 
 
इससे इंजन की शंटिंग में काफी समय बचेगा. ट्रेनों की गति भी बढ़ेगी  और सहरसा से पूर्णिया के बीच 45 मिनट का भी समय बचेगा. फिलहाल 1 से 2 दिनों  के अंदर सहरसा पूर्णिया के बीच अधिकतम 100 किलोमीटर प्रति घंटा की स्पीड  से डेमू ट्रेन बन कर दौड़ेगी. वहीं सहरसा से समस्तीपुर रेलखंड के बीच डेमो  को मेमो में परिवर्तित किया गया है. गुरुवार को इसकी सेवा भी बहाल कर दी  गयी.
 
सहरसा से दिल्ली 5 व 8 नवंबर को साप्ताहिक स्पेशल
सहरसा. छठ व दीपावली पर्व के मद्देनजर भीड़भाड़ को देखते हुए रेलवे ने सहरसा से दिल्ली के लिए फिर एक साप्ताहिक स्पेशल ट्रेन चलाने की घोषणा की है. 05531 साप्ताहिक सहरसा दिल्ली स्पेशल 5 और 8 नवंबर को सहरसा जंक्शन से खुलेगी. यह ट्रेन रात्रि के 9:35 पर सहरसा जंक्शन से खुलेगी और अगले दिन रात्रि 2:00 बजे दिल्ली पहुंचेगी. वहीं वापसी में यह ट्रेन 05532 बनकर दिल्ली से 5:00 बजे सुबह खुलेगी और अगले दिन शाम 7:15 पर सहरसा जंक्शन पहुंचेगी. 
 
इस ट्रेन का ठहराव खगड़िया, समस्तीपुर, दरभंगा, जनकपुर, सीतामढ़ी, रक्सौल, नरकटियागंज, बगहा, गोरखपुर, बस्ती, गोंडा, सीतापुर कैंट, बरेली, मुरादाबाद, गाजियाबाद और दिल्ली है. सहरसा दिल्ली स्पेशल ट्रेन में 22 जनरल कोच होंगे और दो एसएलआर होंगे. कुल 24 कोच की यह ट्रेन होगी. वापसी में यह ट्रेन दिल्ली से सहरसा के लिए 7 और 10 नवंबर को खुलेगी.
 
Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement