Advertisement

saharsa

  • Nov 12 2019 6:25PM
Advertisement

विदाई के बहाने पत्नी को ले जाकर रास्ते में ही काट कर मार डाला, छह माह पूर्व हुई थी शादी

विदाई के बहाने पत्नी को ले जाकर रास्ते में ही काट कर मार डाला, छह माह पूर्व हुई थी शादी
शव के पास विलाप करते मृतका के परिजन

सहरसा (सिमरी) : बिहार के सहरसा जिले के सलखुआ थाना क्षेत्र के मोबारकपुर गांव में पत्नी को विदाई कर ससुराल ले जा रहे पति द्वारा रास्ते में पत्नी को मौत के घाट उतार देने और फिर शव को रेलवे ट्रैक पर छोड़कर फरार हो जाने का सनसनीखेज मामला सामने आया है. घटना के संबंध में बताया जाता है कि मोबारकपुर गांव निवासी स्व राम बहादुर यादव की पत्नी शंभु देवी की बेटी सुनीता कुमारी की शादी छह माह पूर्व सौरबाजार थाना क्षेत्र के रौता परास गांव के सिकेंद्र यादव के पुत्र गुड्डू कुमार के साथ हुई थी.

शादी के बाद से ही ससुराल वाले सुनीता कुमारी से दहेज के रूप में एक बाइक और नकद लगभग पचास हजार रुपये की मांग कर रहे थे. मृतका की मां ने बताया कि 11 नवंबर को सवेरे में मेरी बेटी को उसका पति फोन कर बोला कि आज शाम में विदाई कराने आ रहे हैं. शाम में गुड्डू अपने साथी मंजेश कुमार, सोनू कुमार, दिलीप यादव को लेकर आया और रात आठ बजे के करीब मेरी बेटी को लेकर चला गया. इसके बाद मंगलवार को सवेरे में कुछ भैंसवार सब भैंस चराने गये तो गांव से पश्चिम-उत्तर रेलवे पुल के उत्तर एक लड़की का दोनों हाथ-पैर बंधा और गला में गमछा लपेटे रेलवे ट्रैक पर क्षत-विक्षत लाश मिली. उसके बाद हल्ला होने पर ग्रामीण घटनास्थल पर पहुंचे. जिसके बाद शव की पहचान सुनीता कुमारी के रूप में हुई.

वहीं, घटना की सूचना पर सलखुआ थानाध्यक्ष एम रहमान ने घटनास्थल पर पहुंच मृतका के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सहरसा भेज दिया है और मामले की छानबीन में जुट गयी है. इस संबंध में थानाध्यक्ष एम रहमान ने बताया कि शव को पोस्टमार्टम के लिए सहरसा भेज दिया गया है, दिये आवेदन पर उचित कार्रवाई की जायेगी.

Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement