Advertisement

ranchi

  • Apr 19 2019 8:06AM

मौसम के बदले मिजाज ने दी रांचीवासियों को गर्मी से राहत, हुई झमाझम बारिश, चली 45 किमी की रफ्तार से हवा

मौसम के बदले मिजाज ने दी रांचीवासियों को गर्मी से राहत, हुई झमाझम बारिश, चली 45 किमी की रफ्तार से हवा
रांची : रांची और आसपास के इलाकों में गुरुवार रात 8:00 बजे से गरज-चमक के साथ जोरदार बारिश शुरू हो गयी. मौसम विभाग के अनुसार इस दौरान रांची में 28 किमी प्रति घंटे, जबकि कई इलाकों में 45 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से तेज हवाएं भी चलीं. विभाग के अनुसार रांची, लातेहार, कोडरमा, बोकारो, लोहरदगा, खूंटी, पश्चिम सिंहभूम, हजारीबाग अौर रामगढ़ जिले में बारिश हुई है. 
 
 इधर, रांची में सुबह से आकाश में बादल छाये हुए थे. हालांकि, कई बार आसमान साफ हुआ, जिसने तेज धूप का अहसास कराया. इस दौरान शहर का अधिकतम तापमान 34.7 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम तापमान 18.5 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया. 
 
रात में बारिश होने की वजह से राजधानीवासियों को गर्मी से थोड़ी राहत मिली. उधर, जमेशदपुर का अधिकतम तापमान 35.8 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम तापमान 22.7 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया. जबकि, डालटनगंज का अधिकतम तापमान 35.8 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम तापमान 20.5 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया. मौसम विभाग के अनुसार 19 अप्रैल को भी आकाश में बादल छाये रहेंगे, जबकि 20 अप्रैल से अधिकतम तापमान में वृद्धि होने की संभावना है. रिकार्ड के अनुसार रांची में अप्रैल माह में लगभग हर वर्ष किसी न किसी दिन बारिश हुई है. 
 
अप्रैल में हुई बारिश का वर्षवार रिकॉर्ड 
 
वर्ष 2018 30 अप्रैल 14.8 मिमी 
वर्ष 2017 21 अप्रैल 04.8 मिमी
वर्ष 2016 ----- ------
वर्ष 2015 15 अप्रैल 19.6 मिमी 
वर्ष 2014 17 अप्रैल 04.6 मिमी 
वर्ष 2013 15 अप्रैल 16.7 मिमी
वर्ष 2012 28 अप्रैल 18.8 मिमी 
वर्ष 2011 19 अप्रैल 06.6 मिमी 
वर्ष 2010 29 अप्रैल 16.6 मिमी 
वर्ष 2009 09 अप्रैल 01.9 मिमी 
 
नोट : मौसम विभाग के रिकार्ड के अनुसार रांची में वर्ष 1944 में 26 अप्रैल को 58.7 मिमी वर्षा रिकार्ड की गयी थी. जबकि, वर्ष 1952 में अप्रैल माह में 101.3 मिमी वर्षा रिकार्ड की गयी थी.
 
आंधी और बारिश से कई इलाकों की बिजली गुल
 
रांची : राजधानी में गुरुवार रात आयी आंधी और बारिश के कारण कई इलाकों की बिजली गुल हो गयी. 33 केवी हटिया-आरएंडडी लाइन ब्रेक डाउन हो जाने के कारण रात साढ़े आठ बजे से बिजली बंद है. इससे मेकन कॉलोनी, बिरसा चौक, हटिया स्टेशन रोड, हवाई नगर, शुक्ला कॉलोनी, परासटोली सहित अन्य इलाकों की बिजली गुल है. इसके अलावा बेड़ो व ब्रांबे सब स्टेशन से समाचार लिखे जाने तक बिजली बंद है. रातू रोड में भी कई इलाकों में बिजली गुल हो गयी थी.
 
उधर, पॉलिटेक्निक, सदर, हरमू, अरगोड़ा सब स्टेशन से एक घंटे तक बिजली बंद रही. वहीं पुंदाग सब स्टेशन से डेढ़ घंटे तक बिजली बंद हो गयी थी. विभाग के अधिकारी ने कहा कि बारिश थमने के बाद लाइन का पेट्रोलिंग करायी गयी. सभी जगह सब-कुछ सामान्य रहने के बाद बिजली बहाल कर दी गयी. विभाग की ओर से कई जगहों पर सुरक्षा के दृष्टिकोण से भी बिजली बंद कर दी गयी थी. बाद में इसे सामान्य कर दिया गया. कोकर सब-स्टेशन के 11 केवी कोकर फीडर से लाइन में खराबी आ जाने के कारण बिजली गुल हो गयी थी. 
 
विभाग के अधिकारी ने कहा कि हजारीबाग रोड में रिवरसा अपार्टमेंट के समीप इंश्यूलेटर से तार निकल जाने के कारण बिजली गुल हो गयी थी. इसे देर रात तक सामान्य कर दिया जायेगा. वहीं, 11 केवी अोरमांझी फीडर सहित अन्य संबंधित इलाके में बिजली गुल है. हटिया ग्रिड से रात नौ बजे 110 मेगावाट की जगह नौ मेगावाट, नामकुम से 80 की जगह नौ और कांके ग्रिड से 60 की जगह 12 मेगावाट बिजली ली जा रही थी.
 
एक फेज में दौड़ रहा 440 वोल्ट का करंट, परेशान हैं न्यू पिर्रा के उपभोक्ता
 
रांची : रातू चट्टी सबडिवीजन के न्यू पिर्रा इलाके के बिजली उपभोक्ता त्राहिमाम कर रहे हैं. यहां पिछले चार दिनों से एक फेज में 440 वोल्ट का करंट दौड़ रहा है. इससे कई घरों में टीवी, फ्रिज सहित अन्य इलेक्ट्रॉनिक समान जल गये हैं. घरों में लगे दर्जनों एलइडी फ्यूज कर गये. 
लोगों को हजारों रुपये की चपत लगी है और बिजली विभाग के कर्मचारी पिछले चार दिन से फॉल्ट नहीं ढूंढ पा रहे हैं. इससे इलाके में बिजली रहते हुए भी लोग इसका उपयोग नहीं कर पा रहे हैं और चार दिन से बिना बिजली के लोग त्राहिमाम कर रहे हैं. विभाग के जिम्मेदार अधिकारी इसे लेकर लगातार लापरवाह बने हुए हैं.

Advertisement

Comments

Advertisement