Advertisement

ranchi

  • Mar 16 2019 2:42AM
Advertisement

बेमौसम बारिश व ओलावृष्टि से जनजीवन अस्त-व्यस्त

बेमौसम बारिश व ओलावृष्टि से जनजीवन अस्त-व्यस्त
बुढ़मू : प्रखंड क्षेत्र में शुक्रवार की दोपहर जोरदार बारिश होने से ग्रामीणों को  काफी कठिनाइयों का सामना करना पड़ा. पिठोरिया-राय भाया ठाकुरगांव सड़क बना  रही राजबीर कंट्रक्शन की लापरवाही से ठाकुरगांव बस स्टैंड के समीप लगभग तीन महीने से बन रही पुलिया अधूरा पड़ा है.
 
 निर्माणाधीन पुलिया  के अगल-बगल नाली का निर्माण सही तरीके से नहीं करने के कारण शुक्रवार की  बारिश ग्रामीणों के लिए मुसीबत बन गयी. सड़क व नाली का पानी लोगों के घरों में घुस गया़ 
 
 अत्यधिक बारिश होने से ठाकुरगांव बस  स्टैंड निवासी सुधीर सिंह, जीवन सिंह, वासुदेव मुंडा, विनोद साहु आदि  ग्रामीणों के घरों में पानी घुस गया. जिससे इन्हें काफी दिक्कत हुई. वहीं  दूसरी ओर बुढ़मू में बैंक ऑफ इंडिया के पास भी नाली का निर्माण अधूरा छोड़  देने के कारण ग्रामीणों को भारी दिक्कत का सामना करना पड़   रहा है.
 
लापुंग. बारिश  से जन जीवन अस्त-व्यस्त हो गया. शुक्रवार को तीन बजे तेज आंधी आयी, उसके  बाद आधा घंंटा के बाद ओले के साथ बारिश शुरू हो गयी. आंधी से कई पेड़ और  छप्पर उड़ गये. सापुकेरा बाजार में एक दुकानदार का तिरपाल उड़ गया.
 
इटकी. इटकी में शुक्रवार को आंधी के साथ बारिश हुई. वज्रपात भी हुआ, परंतु जान-माल की क्षति नहीं हुई. दोपहर बाद आयी आंधी के कारण मदरसा रोड में एक पेड़ बिजली तार पर गिर गया. इससे तार के साथ साथ खंभा भी क्षतिग्रस्त हो गया. इससे बिजली आपूर्ति   ठप पड़ गयी. 
 
इटकी के लक्ष्मी  गजेंद्र मवि के समीप हुए वज्रपात की घटना में भवन के छत पर लगा तड़ित चालक यंत्र क्षतिग्रस्त हो गया. इधर बारिश से गेहूं सहित खेतों में लगे अन्य फसलों को फायदा हुआ.
 
कई घरों आैर दुकानों में भी घुसा पानी
पिठोरिया. पिठोरिया व आसपास के क्षेत्रों में बेमौसम बारिश से जनजीवन अस्त-व्यस्त हाे गया. शुक्रवार को दोपहर में लगभग दो घंटे रूक-रूक कर बारिश होने से पिठोरिया के महाराणा प्रताप चौक, किसान चौक व अन्य कई मुहल्लों के घरों व दुकानों में पानी घुस गया.
 
 ज्ञात हो कि पिठोरिया चौक से काठीटांड़ तक रोड बनना है, लेकिन ठेकेदार द्वारा काम नियमित रूप से नहीं कराने के कारण लोगों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है. 
 
बारिश का पानी घरों व दुकानों में घुसने से लोग परेशान हैं. बताया गया कि सड़क किनारे नाली के लिए जगह छोड़ा गया है, जिसमें पानी भर गया है और घरों में घुस जा रहा है. 
 
आंधी में उड़े घर के छप्पर
नामकुम. शुक्रवार को हुई तेज बारिश व ओलावृष्टि से नामकुम व आसपास में काफी नुकसान हुआ. प्रखंड के हुवांगहातु में डिंबा मुंडा के मकान में लगे एस्बेस्टस शीट तेज हवा में उड़ गये. 
 
वहीं देवगाईं में एक घर पर पेड़ गिर गया है. जिससे पूरा घर क्षतिग्रस्त हो गया. सिदरौल, हहाप तथा राजाउलातु में हुई ओलावृष्टि से खेतों में सब्जी की फसल को काफी नुकसान हुआ है.  
 

Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement