Advertisement

ranchi

  • May 10 2016 2:23AM

गंगा तट पर स्थायी रूप से बंद की जायेगी माइनिंग : उमा भारती

साहिबगंज/राजमहल : नमामि गंगे परियोजना के तहत केंद्रीय जल संसाधन व नदी विकास गंगा संरक्षण मंत्री उमा भारती व मुख्यमंत्री रघुवर दास ने सोमवार को 300 करोड़ की योजना का शिलान्यास साहिबगंज व राजमहल में किया. इसमें 210 करोड़ केंद्र सरकार व 90 करोड़ राज्य सरकार देगी. केंद्रीय मंत्री उमा भारती ने राजमहल के कन्हैया स्थान में कहा कि गंगा तट पर किसी भी हाल में माइनिंग नहीं होने दिया जाये. माइनिंग गंगा के  प्रवाह को बिगाड़ देती है. गंगा की निर्मलता को कायम रखने के लिए जनभागीदारी की जरूरत है. सरकार अकेले किसी भी कार्य को नहीं कर सकती है.
 
मनिहारी से समदा के बीच गंगा का दर्शन कर चित्त हुआ प्रसन्न : सुश्री भारती ने कहा कि कटिहार से मनिहारी होते गंगा के रास्ते समदा आते समय जिस गंगा की हमें दर्शन हुआ है. सचमुच मेरा चित प्रसन्न हो गया. 
 
  उन्होंने कहा कि 300 करोड़ की योजनाओं में से साहिबगंज में 132 करोड़ से सिवरेज सिस्टम, 10 करोड़ की गंगाघाट विकास योजना, 10 करोड़ की राजमहल गंगाघाट योजना, आठ करोड़ से कन्हैया स्थान घाट का सौंदर्यीकरण योजना व 100 करोड़ की यूएनडीपी की योजना सहित नौ योजनाएं शामिल है. अब साहिबगंज टाइम प्लान की दृष्टि से भी मॉडल बनेगा.
 
हनुमानरूपी रघुवर का मिला साथ 
शिलान्यास के बाद केंद्रीय मंत्री उमा भारती ने साहिबगंज में जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि जब हनुमानजी तय कर लेते हैं तो सब संभव हो जाता है. ऐसे ही हनुमान हैं, हमारे इस सूबे के मुखिया रघुवर जी. केंद्र सरकार कुछ भी नहीं कर पाती, जब राज्य सरकार का साथ नहीं मिलता. हमने एक अप्रैल के साहिबगंज के दौरे में कहा था कि 15 मई से पहले नमामि गंगे योजना के तहत सभी योजनाओं का शिलान्यास हो जायेगा और आज नौ मई ही है, जिसमें भी अक्षय तृतीया का शुभ दिन जब इन योजनाओं का शिलान्यास हो रहा है. भारतीय इतिहास में कभी भी ऐसा नहीं हुआ, जब कोई शिलान्यास या उद्घाटन समय से पहले ही हो जाये. यह केवल वर्तमान सरकार के मुखिया नरेंद्र मोदी के सरकार में ही संभव है. 
 
तीन वर्ष में साहिबगंज जिला बनेगा  देश का रोल मॉडल : रघुवर दास 
मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा है कि तीन वर्ष इंतजार करें साहिबगंज देश का रोल माॅडल होगा. वे सोमवार को शहर के रेलवे जेनरल इंस्टीट्यूट मैदान में राष्ट्रीय स्वच्छ गंगा मिशन, जल संसाधन, नदी विकास और गंगा संरक्षण मंत्रालय भारत सरकार द्वारा नमामि गंगे परियोजना के अंतर्गत गंगा संरक्षण कार्यक्रम के शुभारंभ पर उपस्थित शहरवासियों को संबोधित को कर रहे थे. कहा : 13 मई को गंगा पुल का टेंडर होगा और मई या जून माह में शिलान्यास होगा. साहिबगंज में प्रस्तावित बंदरगाह परियोजना को भी केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्रालय ने स्वीकृति दे दी है. इसमें भू अर्जन के लिए सरकार ने 115 करोड़ रुपया भी आवंटित कर दिया है. स्थानीय प्रशासन को एक हजार एकड़ जमीन तलाशने को कहा गया है, ताकि वहां बड़ा व्यापार का मंडी बन सके.
 

Advertisement

Comments