Advertisement

ranchi

  • Nov 19 2019 9:50AM
Advertisement

रांची : सेट अभ्यर्थी देश में कहीं भी व्याख्याता बन सकेंगे

रांची : केंद्र सरकार ने एक जून 2002 से पूर्व राज्य पात्रता परीक्षा (सेट) में उत्तीर्ण उम्मीदवारों को राष्ट्रीय पात्रता परीक्षा (नेट) में बैठने की छूट दे दी है. केंद्र के निर्देश के बाद विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) ने इसकी संशोधित अधिसूचना जारी कर दी है. अधिसूचना के मुताबिक ऐसे उम्मीदवार अब देश में कहीं भी असिस्टेंट प्रोफेसर के लिए आवेदन करने के पात्र होंगे. हालांकि, एक जून 2002 से आयोजित सेट की परीक्षा में अर्हता प्राप्त उम्मीदवार केवल उसी राज्य में स्थित विवि/महाविद्यालय में सहायक प्रोफेसर के पद के लिए आवेदन करने योग्य होंगे, जहां से उन्होंने सेट की परीक्षा उत्तीर्ण की है. 
 
पूर्व में एक दिसंबर 2002 से पहले सेट उत्तीर्ण विद्यार्थियों को ही नेट में बैठने से छूट दी गयी थी.  इस बार नेट का आयोजन दो से छह दिसंबर तक किया जा रहा है. इसके लिए आवेदन करनेवाले उम्मीदवार एडमिट कार्ड वेबसाइट से डाउनलोड कर सकते हैं. परीक्षा सीबीटी मोड (कंप्यूटर बेस्ड टेस्ट) होगी. इस परीक्षा में देश भर में 10 लाख 34 हजार 869 उम्मीदवार कुल 81 विषयों में शामिल हो रहे हैं. एडमिट कार्ड डाउनलोड करने में दिक्कत आने पर उम्मीदवार क्यूआरएस (क्वेरी रिडरेसल सिस्टम) के आधार पर इसकी जानकारी दे सकते हैं. परीक्षा तीन घंटे की होगी. पेपर वन व पेपर टू के बीच कोई ब्रेक नहीं दिया जायेगा. प्रथम पाली सुबह साढ़े नौ बजे से दिन के साढ़े 12 बजे तक और द्वितीय पाली दोपहर ढाई बजे से शाम साढ़े पांच बजे तक होगी. रिजल्ट का प्रकाशन 31 दिसंबर को किया जायेगा.
 
Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement