Advertisement

ranchi

  • Jun 18 2019 8:45AM
Advertisement

रांची : पानी ला तो सकते नहीं, उसे बचाने का उपाय करेंगे : मंत्री रामचंद्र सहिस

रांची : पानी ला तो सकते नहीं, उसे बचाने का उपाय करेंगे : मंत्री रामचंद्र सहिस
पूर्व मंत्री चंद्रप्रकाश चौधरी ने जो काम अधूरा छोड़ा है, उसे पूरा करेंगे : सहिस
रांची : जल संसाधन एवं पेयजल स्वच्छता विभाग के नवनियुक्त मंत्री रामचंद्र सहिस ने सोमवार को नेपाल हाउस पहुंचकर विभाग का कामकाज संभाल लिया. 
 
श्री सहिस दिन के दो बजे कार्यालय पहुंचे और पेयजल स्वच्छता विभाग की सचिव आराधना पटनायक व अन्य अधिकारियों से मिले. पत्रकारों से श्री सहिस ने कहा कि जल जीवन के लिए महत्वपूर्ण है. यह लोगों को समझना चाहिए. जनता को साथ लेकर ही काम करेंगे. हम पानी ला नहीं सकते हैं, लेकिन पानी को बचाने की कोशिश करेंगे.
 
मंत्री श्री सहिस ने कहा कि कोशिश करेंगे कि लोगों को पीने के पानी की दिक्कत नहीं हो. पूर्व मंत्री चंद्रप्रकाश चौधरी ने जो काम अधूरा छोड़ा है, उसे पूरा करेंगे. गर्मी में पेयजल संकट महत्वपूर्ण मुद्दा है, इस पर काम करेंगे. 
 
इसके लिए सभी का सुझाव भी चाहेंगे. लोगों को यह बताया जायेगा कि जल है, तो कल है. हम भी गांव-देहात से शहर में आये हैं. गांव और शहर दोनों की समस्या समझते हैं. समस्या दूर करने के लिए अधिकारियों और इंजीनियरों के साथ मिल कर योजना तैयार करेंगे. पिछले 10 साल से जनता के बीच हूं. इस कारण उनकी समस्या समझता हूं. 
 
सबके साथ मिलकर काम करूंगा. जल उपलब्ध कराने वाली संस्थाओं का मूल्यांकन करूंगा. अधिक से अधिक जल संचयन की आदत विकसित करने की कोशिश करूंगा.  
 
चांडिल के लोगों के साथ करेंगे बैठक : श्री सहिस ने कहा कि चांडिल डैम में 86 मौजा के ग्रामीण विस्थापित हैं. उनकी समस्या जानने के लिए उनके बीच बैठूंगा. मैंने सिंहभूम कॉलेज चांडिल से पढ़ाई की है. इस कारण उनकी समस्या काफी पहले से जानता हूं. ग्रामीणों के साथ सुझाव पर काम होगा.
 

Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement