Advertisement

ranchi

  • Jan 12 2019 1:34AM
Advertisement

रांची : घाघरा में तीन हत्याकांड व फायरिंग की डीआइजी ने की जांच, कार्रवाई के निर्देश

रांची  :  घाघरा में तीन हत्याकांड व फायरिंग की डीआइजी ने की जांच, कार्रवाई के निर्देश
रांची  : डोरंडा थाना क्षेत्र के  घाघरा में पत्रकार अमित टोपनो, अरुण किस्पोट्टा, साहू उरांव हत्याकांड और शंकर पर फायरिंग मामले की जांच शुक्रवार को रांची रेंज के डीआइजी एवी होमकर ने की. डीआइजी खुद एसएसपी के साथ घटनास्थल पर पहुंचे और मामले से जुड़े विभिन्न बिंदुओं पर जानकारी एकत्र की. 
 
इसके साथ ही स्थानीय लोगों से पूछताछ भी की. इस दौरान हत्याकांड के पीछे डीआइजी को एक बड़े जमीन कारोबारी की संलिप्तता बारे में जानकारी दी गयी है. जांच के दौरान हटिया डीएसपी और डोरंडा थाना प्रभारी भी मौजूद थे. 
 
डीआइजी ने दोनों अफसरों को जल्द से जल्द जांच पूरी कर हत्या के आरोपियों की पहचान कर कार्रवाई करने का आदेश दिया है. डीआइजी ने हत्याकांड के पीछे जमीन विवाद से संबंधित जानकारी भी एकत्र करने को कहा है. इसके साथ ही इलाके में सक्रिय वैसे जमीन कारोबारी जो आपराधिक गतिविधियाें में संलिप्त हैं, उनके बारे में सत्यापन कर कार्रवाई करने को कहा. 
 
उल्लेखनीय है कि तीनों हत्याकांड का पुलिस अभी तक खुलासा नहीं कर पायी है. जानकारी के अनुसार नौ दिसंबर को  अमित टोपनो हत्याकांड में पुलिस को कुछ सुराग मिले थे. लेकिन जांच के दौरान कोई ठोस 
 
तथ्य सामने नहीं आने पर पुलिस किसी निष्कर्ष पर नहीं पहुंच पायी. वहीं 28 दिसंबर को घाघरा में  अरुण किस्पोट्टा हत्याकांड के पीछे जमीन विवाद की बात सामने आयी थी. क्योंकि वह जमीन के कारोबार से जुड़ा था. पुलिस को हत्याकांड के पीछे कुछ संदिग्ध की संलिप्तता की जानकारी मिली थी. 
 
लेकिन पुलिस किसी आरोपी को गिरफ्तार नहीं कर पायी. दो हत्याकांड के बाद गत मंगलवार की रात अपराधियों ने सरना समिति के सदस्य सामू उरांव और घाघरा सरना समिति के सचिव शंकर सुरेश उरांव पर फायरिंग कर दी, जिसमें सामू उरांव की मौत हो गयी.
 
 इस हत्याकांड के बाद आक्रोशित लोगों ने गिरफ्तारी  की मांग को लेकर सड़क जाम कर दी थी. इस हत्याकांड का भी पुलिस खुलासा नहीं कर पायी है. सभी मामलों के खुलासा के लिए डीआइजी ने मामले को गंभीरता से लिया है.
 
डीआइजी ने नौ दिसंबर को घाघरा में हुए पत्रकार अमित टोपनो  हत्याकांड की भी समीक्षा की
जमीन के धंधे में शामिल असामाजिक लोगों को चिह्नित कर कार्रवाई का निर्देश दिया
 
बड़े भाई के सिर पर किया पत्थर से वार, घायल
रांची.  बरियातू थाना के एदलहातू निवासी ट्रैफिक पुलिसकर्मी अंकित मुंडा के सिर पर उसके छोटे भाई बटलू मुंडा ने पत्थर से वार कर दिया.  इस घटना में अंकित मुंडा गंभीर रूप से घायल हो गये. उसे रिम्स में भरती कराया गया है, जहां उसकी स्थिति गंभीर बनी हुई है. 
 
जानकारी के मुताबिक दोनों भाई में घर खा-पी रहे थे. इसी क्रम में जमीन को लेकर दोनों भाइयाें में विवाद हो गया.  छोटे  भाई बटलू मुंडा का कहना था कि तुम तो नौकरी करते हो, मेरे पास जीविका चलाने का कोई साधन नहीं है, इसलिए जमीन मुझे दे दो. 
 
इस बात को लेकर दोनों भाई में बकझक होने लगी़  इसी क्रम में बटलू ने पत्थर उठा कर अंकित के सिर में मार दिया. जब उसके सिर से खून बहने लगा, तो अासपास के लोगों ने अंकित मुंडा को उठा कर रिम्स में भरती कराया.  इधर, सूचना मिलने के बाद बरियातू पुलिस मौके पर पहुंची और आरोपी को हिरासत में ले लिया़
 
नाबालिग के अपहरण का आरोपी हुआ गिरफ्तार
रांची. अरगोड़ा पुलिस ने नाबालिग के अपहरण के आरोप में साबिर को गिरफ्तार किया है.  आरोपी इमली चौक के समीप का रहनेवाला है. पुलिस ने उसके पास से अपहृत नाबालिग को भी बरामद कर लिया है. पुलिस के अनुसार नाबालिग के लापता होने के बाद उसके अपहरण को लेकर केस दर्ज कराया गया था. आरोपी नाबालिग को लेकर रांची से बाहर चला गया था.
 
 लेकिन पुलिस ने जब परिजनों पर दबाव बनाया, तब आरोपी नाबालिग को लेकर रांची पहुंचा. रांची पहुंचने की सूचना मिलने के बाद पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया. पुलिस को नाबालिग ने बताया कि वह अपनी इच्छा से गयी थी. पुलिस न्यायालय में नाबालिग का बयान करायेगी. पुलिस को यह भी जानकारी मिली है कि आरोपी ने बाहर में ही नाबालिग से शादी भी कर ली है.
 

Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement