Advertisement

ranchi

  • Jan 12 2019 12:04AM

वर्ष 2016 में शुरू हुआ था वाइ-फाइ लगाने का कार्य, जनवरी 2019 में हो सका है पूरा

रांची : रांची विश्वविद्यालय में तीन साल बाद वाइ-फाइ लगाने का कार्य पूरा हुआ. शुक्रवार को विश्वविद्यालय मुख्यालय में वाइ-फाइ काम करने लगा. विश्वविद्यालय मुख्यालय के बाद अब कॉलेजों में वाइ-फाइ लगाने का कार्य शुरू हाेगा. 
 
राज्य सरकार ने सभी विश्वविद्यालय व कॉलेजों में चरणबद्ध तरीके से वाइ-फाइ लगाने की घोषणा की थी. इसके लिए उच्च एवं तकनीकी शिक्षा सह कौशल विकास विभाग द्वारा राशि भी आवंटित कर दी गयी थी.
 
 वर्ष 2015-16 व वर्ष 2016-17 में इसके लिए 46  करोड़ रुपये आवंटित किये गये थे.  रांची विवि में 15 अगस्त 2017 तक वाइ-फाइ लगाने का कार्य पूरा  करने की बात कही गयी थी, पर तय समय से लगभग डेढ़ वर्ष बाद वाइ-फाइ लगाने का कार्य पूरा हुआ. 
 
रांची विवि  मुख्यालय व मोरहाबादी के पूरे कैंपस को वाइ-फाइ जोन बनाना है.  इसके लिए दो  साल पहले ही काम शुरू हो गया था. पर अब तक केवल रांची विश्वविद्यालय मुख्यालय में वाइ-फाइ चालू हो सका है. रांची विवि में वाइ-फाइ लगाने के लिए चार करोड़ का बजट स्वीकृत किया गया था.  
 
विद्यार्थियों को होगा लाभ 
 रांची विवि मुख्यालय के वाइ-फाइ जोन बनने से यहां  पढ़ने वाले हजारों छात्र-छात्राएं फ्री में इंटरनेट एक्सेस कर सकेंगे.  उन्हें अपने रिसर्च वर्क के लिए साइबर कैफे का चक्कर नहीं लगाना होगा. इसके  साथ ही उन्हें ई-लाइब्रेरी का भी फायदा अपने मोबाइल पर ही मिल सकेगा.  
 
कैंपस में कहीं भी बैठ कर वो इंटरनेट का इस्तेमाल कर सकेंगे. सारी जानकारी  उन्हें ऑनलाइन मिल सकेगी, जिससे उन्हें असुविधा नहीं होगी.

विश्वविद्यालय में अब 25 तक जमा होगा सेमेस्टर वन का पंजीयन फॉर्म 
रांची. रांची विश्वविद्यालय प्रशासन ने सत्र 2018-21 के स्नातक के सेमेस्टर वन के विद्यार्थियों के पंजीयन फॉर्म जमा करने की तिथि बढ़ा दी है. विद्यार्थी अब 25 जनवरी तक पंजीयन फॉर्म जमा कर सकेंगे. पहले पंजीयन फॉर्म जमा करने की तिथि 20 जनवरी तक निर्धारित की गयी थी. 
 
विश्वविद्यालय में आज रहेगा अवकाश 
रांची. रांची विश्वविद्यालय में 12 जनवरी को अवकाश रहेगा. विश्वविद्यालय के सभी अंगीभूत व संबद्धता प्राप्त कॉलेजों में अवकाश की घोषणा की गयी है. विश्वविद्यालय प्रशासन ने सोहराय पर्व के उपलक्ष्य में अवकाश की घोषणा की है. विश्वविद्यालय प्रशासन द्वारा इस आशय का पत्र शुक्रवार को जारी कर दिया गया. 
 

Advertisement

Comments

Advertisement