Advertisement

ranchi

  • Jun 13 2019 6:16AM
Advertisement

रांची : नयी व्यवस्था के पहले दिन निकले 300 वाहन, उठाया 400 टन कचरा

रांची : नयी व्यवस्था के पहले दिन निकले 300 वाहन, उठाया 400 टन कचरा
नगर निगम ने सभी 53 वार्डों में शुरू किया सफाई का काम
 
रांची : एस्सेल इंफ्रा को बाहर का रास्ता दिखाने के बाद बुधवार से रांची नगर निगम ने राजधानी के सभी 53 वार्डों की सफाई व्यवस्था अपने हाथों में ले ली. इस नयी व्यवस्था के लागू होने के पहले दिन से ही असर दिखने लगा है. 
 
15 दिनों से मोहल्ले में पड़े कचरे के ढेर को उठता देख शहर के लोगों ने राहत की सांस ली है. नगर निगम का दावा है कि आम दिनों में जहां 250 टन कचरा शहर से उठाया जाता था, वहीं बुधवार को पूरे शहर से 400 टन कचरा उठाया गया. 
 
नगर निगम के अधिकारियों ने बताया कि पहले दिन तड़के 4:00 बजे ही शहर के अलग-अलग हिस्सों में स्थित एमटीएस (मिनी कचरा ट्रांसफर स्टेशन) से कचरा उठानेवाले करीब 300 वाहन एक साथ निकल गये थे. 
 
शहर के अलग-अलग हिस्सों से उठाये गये कचरे को मोरहाबादी, नागाबाबा खटाल, कांटाटोली, खेलगांव, हरमू, कर्बला चौक एमटीएस में डंप किया गया. इसके बाद यहां से कचरे को कॉम्पैक्टर में भर कर झिरी में ले जाकर डंप किया गया. इधर, मंगलवार रात उप नगर आयुक्त ने दल-बल के साथ नागाबाबा खटाल एमटीएस, मोरहाबादी और हरमू एमटीएस का निरीक्षण किया. 
 
उन्होंने एमटीएस में तैनात कर्मचारियों का मनोबल बढ़ाया. कहा : मन लगाकर करें, आप लोगों को किसी तरह की परेशानी नहीं होने दी जायेगी. बुधवार सुबह भी निगम के सभी अधिकारी और सिटी मैनेजरों ने पांच पांच वार्डों में घूमकर नयी व्यवस्था का जायजा लिया. टीम ने लोगों से सहयोग का आग्रह किया. साथ ही आश्वासन भी दिया कि जल्द ही हम रांची को साफ-सुथरा शहर बना कर दिखायेंगे. 
 
खराब वाहनों को दुरुस्त कराने की प्रक्रिया शुरू : एस्सेल इंफ्रा को हटाये जाने के बाद उसे उपलब्ध कराये गये वाहन, संसाधन और मैनपावर नगर निगम ने अपने कब्जे में ले लिये हैं. कर्मचारियों को नगर निगम में समायोजित कर लिया गया है. इन्हें वेतन भी नगर निगम की ओर से ही दिया जायेगा. इधर, खराब पड़े वाहनों की मरम्मत की प्रक्रिया शुरू कर दी गयी है. खराब पड़े वाहनों की सूची बनायी जा रही है. 
 
एक सप्ताह में दुरुस्त होगी डोर-टू-डोर सेवा 
 
नयी व्यवस्था के पहले दिन मोहल्ले में पिछले 15 दिनों से जमा कचरा को हटाने में नगर निगम के सफाईकर्मियों को काफी परेशानी हुई. कचरे के अंबार को देख कर निगम द्वारा अब प्लान बनाया गया है कि सबसे पहले मोहल्ले में जमा कचरे के ढेर को उठवाया जाये. उसके बाद डोर-टू-डोर सर्विस को दुरुस्त कराया जायेगा. निगम अधिकारियों की मानें, तो सफाई व्यवस्था को पूरी तरह से पटरी में आने में एक सप्ताह का समय लग जायेगा.
 
नगर आयुक्त ने लिया नालियों का जायजा
 
मॉनसून से पहले जाम नालियों के सफाई को लेकर बुधवार को नगर आयुक्त मनोज कुमार ने बड़ा तालाब, नेजाम नगर व जयपाल सिंह स्टेडियम के समीप के बड़े नालों की सफाई व्यवस्था का जायजा लिया. इस दौरान बजबजाते नालों को देख कर नगर आयुक्त ने नगर निगम के अधिकारी को सफाई का आदेश दिया. कहा जिन नालों की सफाई जेसीबी लगाकर नहीं की जा सकती है, उनकी सफाई मजदूर लगाकर करवायी जाये.
 
17 से चलेगा नगर निगम का अभियान
 
रांची : डेंगू और चिकनगुनिया के खिलाफ रांची नगर निगम 17 जून से वार्डों में जागरूकता अभियान चलायेगा. हर वार्ड के लिए सात सदस्यीय टीम का गठन किया जायेगा, जिसमें नगर निगम के पांच सुपरवाइजर और दो मलेरिया विभाग के कर्मचारी शामिल होंगे. बुधवार को नगर निगम में डेंगू व चिकनगुनिया को लेकर हुई कार्यशाला में यह निर्णय लिया गया. 
 
निगम की सहायक स्वास्थ्य पदाधिकारी डॉ किरण ने बताया कि अभियान के दौरान हमारा फोकस उन वार्डों में होगा, जहां पिछले साल डेंगू और चिकनगुनिया के मरीज पाये गये थे. कार्यशाला में मलेरिया विभाग की प्रशिक्षक सज्ञा सिंह ने निगम के सुपरवाइजर और सिटी मैनेजर को प्रशिक्षण दिया. मौके पर नगर आयुक्त मनोज कुमार, अपर नगर आयुक्त गिरजा शंकर प्रसाद आदि मौजूद थे.
 

Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement