Advertisement

ranchi

  • Mar 16 2019 1:14PM

होली के बाद रांची में होगा महागठबंधन की सीटों का एलान, दिल्ली में राहुल से मिलने के बाद बोले हेमंत सोरेन

होली के बाद रांची में होगा महागठबंधन की सीटों का एलान, दिल्ली में राहुल से मिलने के बाद बोले हेमंत सोरेन

रांची : लोकसभा चुनावों के लिए सीटों के बंटवारे पर किचकिच के बीच झारखंड मुक्ति मोर्चा (झामुमो) के कार्यकारी अध्यक्ष हेमंत सोरेन ने शनिवार को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से मुलाकात की. मुलाकात के बाद हेमंत ने कहा कि झारखंड में महागठबंधन की सीटों का एलान होली के बाद रांची में किया जायेगा. उन्होंने संकेत दिये कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को हराने के लिए बने महागठबंधन में वामदलों को भी शामिल किया जा सकता है.

श्री सोरेन ने कहा कि वह कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से मिले. बैठक में आरपीएन सिंह व अन्य नेता भी शामिल थे. उन्होंने कहा कि कांग्रेस नेताओं के साथ उनकी बैठक काफी फलदायी रही. महागठबंधन के बीच सीटों के बंटवारा और वामदलों को इसमें शामिल करने के बारे में अंतिम घोषणा झारखंड में होली के बाद की जायेगी. घोषणा के वक्त झामुमो सुप्रीमो शिबू सोरेन भी मौजूद रहेंगे.

इसे भी पढ़ें : RANCHI : अशोक नगर डबल मर्डर केस के मुख्य आरोपी लोकेश चौधरी का बॉडीगार्ड गिरफ्तार, हत्या की बतायी यह वजह

ज्ञात हो कि झारखंड में महागठबंधन के लिए तो सभी दल (झामुमो, कांग्रेस, झाविमो और राजद) तैयार हैं, लेकिन सीटों के तालमेल पर बात बार-बार अटक जा रही है. झारखंड की मुख्य विपक्षी पार्टी झामुमो चाईबासा सीट लेने पर अड़ गयी है. कांग्रेस इस पर तैयार नहीं थी. इसलिए मामला अटक रहा है. अब जबकि हेमंत ने कह दिया है कि होली के बाद महागठबंधन के दलों में सीटों के बंटवारे का एलान कर दिया जायेगा, तो ऐसा लगता है कि बात बन गयी है.

यहां बताना प्रासंगिक होगा कि पुराने फॉर्मूले के तहत कांग्रेस रांची, लोहरदगा, हजारीबाग, पलामू, धनबाद, चाईबासा और खूंटी सीट से चुनाव लड़ सकती है, तो झामुमो के खाते में दुमका, राजमहल, जमशेदपुर और गिरिडीह सीट जा सकती है. गोड्डा और कोडरमा सीट झारखंड विकास मोर्चा के खाते में जायेगी, जबकि चतरा सीट से लालू प्रसाद यादव की पार्टी राष्ट्रीय जनता दल (राजद) का प्रत्याशी चुनाव लड़ सकता है.

इसे भी पढ़ें : ...जमशेदपुर की कोर्ट में पुलिस ने गाय को पेश किया

अब देखना यह है कि वामदल को महागठबंधन में शामिल किया जाता है या नहीं. झामुमो नेता हेमंत सोरेन वामदल को साथ लेने के पक्ष में हैं. साथ ही वह चाहते हैं कि हजारीबाग से लेफ्ट का उम्मीदवार उतारा जाये. हजारीबाग सीट कांग्रेस के खाते में है. यदि लेफ्ट इस गठबंधन में शामिल होता है, तो कांग्रेस की एक सीट कम हो जायेगी.

Advertisement

Comments

Advertisement