ranchi

  • Jan 14 2020 7:59AM
Advertisement

कांग्रेसी विधायक दिल्ली शिफ्ट, मंत्री पद के लिए लॉबिंग हुई तेज

कांग्रेसी विधायक दिल्ली शिफ्ट, मंत्री पद के लिए लॉबिंग हुई तेज
हेमंत ने बदला ठिकाना, झारखंड भवन छोड़ा
 
रांची : हेमंत सरकार के कैबिनेट विस्तार को लेकर राजनीतिक सरगरमी तेज है. कैबिनेट में जगह पाने के लिए दिल्ली में कांग्रेस नेताओं की लॉबिंग तेज हो गयी है. इस बीच मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन  ने दिल्ली में अपना ठिकाना बदल लिया है. वे झारखंड भवन छोड़कर  दूसरी जगह चले गये हैं. सूचना है कि उन्होंने अपने सुरक्षाकर्मियों को भी  छोड़ दिया है. 
 
मिली जानकारी के मुताबिक कांग्रेस के छह से ज्यादा विधायक दिल्ली में कैंप कर रहे हैं. वे संगठन के महासचिव केसी वेणुगोपाल, प्रभारी आरपीएन सिंह सहित दूसरे नेताओं के पास पहुंच रहे हैं. वहीं, पार्टी केंद्रीय नेतृत्व भी प्रभारी  आरपीएन सिंह, विधायक दल के नेता आलमगीर आलम, प्रदेश अध्यक्ष रामेश्वर उरांव  से विधायकों के नाम पर फीडबैक ले रहा है. 
 
कांग्रेस कैबिनेट विस्तार में जातीय और क्षेत्रीय समीकरण का संतुलन बनाने का रास्ता निकालने की कोशिश में जुटी है. वहीं, मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन भी मंत्रिमंडल विस्तार पर कांग्रेस के आला नेताओं से सहमति बनाने में जुटे हैं. श्री सोरेन ने कांग्रेस के वरिष्ठ नेता वेणुगोपाल से भी चर्चा की है. सोमवार को दिल्ली में देश भर के यूपीए नेताओं की बैठक में शामिल होने के बाद श्री सोरेन ने कांग्रेस नेताओं से बातचीत की है. सूत्रों के अनुसार, श्री सोरेन से भी कांग्रेस के कई विधायकों ने मुलाकात की है. 
 
हेमंत ने बदला ठिकाना, झारखंड भवन छोड़ा

पांच बर्थ पर अड़ी कांग्रेस
 
सूचना के मुताबिक, झामुमो और कांग्रेस के बीच कैबिनेट में बर्थ को लेकर सहमति बनाने की कोशिश हो रही है. कांग्रेस कैबिनेट में पांच बर्थ चाहती है. कांग्रेस की दलील है कि श्री सोरेन के नेतृत्व में बनी पिछली सरकार में भी कांग्रेस के पांच मंत्री थे. 
 
िदल्ली में जमे विधायक
 
मंत्री व कांग्रेस विधायक दल के नेता आलमगीर आलम, बादल पत्रलेख, उमाशंकर अकेला, रामचंद्र सिंह, दीपिका  पांडेय सिंह, अम्बा प्रसाद, पूर्णिमा सिंह, राजेश कच्छप, भूषण बाड़ा, डॉ इरफान अंसारी. विक्सल कोंगाड़ी भी दिल्ली में थे, वे लौट आये हैं.
दो-चार दिनों में कैबिनेट का स्वरूप सामने होगा. मुख्यमंत्री दिल्ली में हैं, उनकी कांग्रेस के आला नेताओं से बातचीत चल रही है. कैबिनेट में किसकी भागीदारी होगी, यह आलाकमान तय करेंगे. रामेश्वर उरांव, कांग्रेस अध्यक्ष व मंत्री
 
Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement