Advertisement

ramgarh

  • Dec 2 2016 7:41AM

हत्या के बाद रेल परिचालन ठप

बरकाकाना : सीआइसी सेक्शन के बरवाडीह स्टेशन में गुरुवार  अहले सुबह लगभग चार बजे खलासी संतोष कुमार की हत्या के बाद  आक्रोशित रेलकर्मियों द्वारा रेल परिचालन पूरी तरह से ठप कर दिया गया. जिसके बाद राजधानी समेत दर्जनों सवारी, एक्सप्रेस व मालगाड़ियां जहां-तहां खड़ी हो गयीं. रेलकर्मियों के आक्रोश को देखते हुए डीआरएम धनबाद मनोज कृष्ण अखौरी ने स्पेशल सैलून से बरवाडीह पहुंचकर रेलकर्मियों से बातचीत कर परिचालन सामान्य कराया. 
 
घटना के बाद लगभग पांच बजे से रेल परिचालन ठप किया गया. जिसे डीआरएम के अश्वासन के बाद लगभग आठ घंटे बाद दोपहर एक बजे बहाल किया गया. इस संबंध में मिली जानकारी के अनुसार भोपाल से चार लोग हावड़ा-भोपाल एक्सप्रेस में एस-थ्री बोगी में सवार हुए. 
 
इस दौरान आपसी समझौता कर दरवाजे वाली सीट के पास सभी बैठ गये. इस दौरान एक अधेड़ उम्र के दिमागी रूप से विक्षिप्त व्यक्ति को रस्सी से बांध दिया. बरवाडीह स्टेशन से पूर्व सभी लोगों को नींद आ गयी. जिसके फायदा उठा कर रस्सी से बंधे विक्षिप्त व्यक्ति ने रस्सी खोला व लोगों के साथ मारपीट शुरू कर दी गयी. लोग कुछ समझ पाते तब तक ट्रेन बरवाडीह स्टेशन पर रुकी. ट्रेन के रुकते ही उक्त विक्षिप्त व्यक्ति ट्रेन से नीचे उतर कर दौड़ने लगा. उसी दौरान खलासी संतोष कमार ट्रेन को चेक कर रहे थे. भाग रहे व्यक्ति द्वारा एकाएक संतोष पर हमला कर संतोष के हाथों में रखा हथौड़ा लूट कर उसी से वार कर दिया गया. संतोष की मौके पर ही मौत हो गयी. पीछे से आ रहे रेलकर्मी डेगलाल महतो के ऊपर भी हथौड़े से वार कर घायल कर दिया गया. काफी देर तक परेशानी का सबब बने व्यक्ति को पकड़ लिया गया.
 
एक साल भी पूरी नहीं हुई थी नौकरी की :  विक्षिप्त के हमले में अपनी जान गंवा चुके संतोष कुमार ने 15 दिसबंर 2015 को ही रेलवे की नौकरी ज्वाइन की थी. एक साल पूरा होने से पूर्व ही उनकी दर्दनाक हत्या हो गयी. 
 
विक्षिप्त के परिजनों ने मांगी थी चिकित्सीय सुविधा :भोपाल से सवार होने के बाद देर रात सिंगरौली स्टेशन पहुंचने से पूर्व  विक्षिप्त व्यक्ति के परिजनों द्वारा रेलवे टीटी से चिकित्सकीय  सुविधा दिलाने की मांग की गयी थी. टीटी को बताया गया कि विक्षिप्त काफी हंगामा कर रहा है. उसे किसी तरह कंट्रोल करने के लिये इंजेक्शन देना अनिवार्य है. टीटी द्वारा संबंधित स्टेशन को सूचना देने के बाद भी चिकित्सकीय सुविधा मुहैया नहीं हो पायी. जिसके बाद अहले सुबह दर्दनाक घटना सबके सामने आयी.
 
ट्रेनें जो खड़ी रहीं : घटना के बाद आक्रोशित रेलकर्मियों द्वारा परिचालन ठप करने के बाद 12454 राजधानी एक्सप्रेस गढ़वा स्टेशन, 18613 रांची चोपन एक्सप्रेस खलारी स्टेशन,13348 पलामू एक्सप्रेस डाल्टनगंज स्टेशन, 53611 सवारी गाड़ी बरवाडीह स्टेशन, 53525 सवारी गाड़ी खलारी स्टेशन, 53357 सवारी गाड़ी बरकाकाना स्टेशन, 53348 सवारी गाड़ी बरकाकाना स्टेशन, 53350 सवारी गाड़ी डाल्टनगंज स्टेशन, 53343 सवारी गाड़ी पतरातू स्टेशन पर घंटों खड़ी रही. वहीं पूरे सीआइसी सेक्शन में मालगाड़ियों का परिचालन भी पूरी तरह से ठप रहा.
 

Advertisement

Comments

Advertisement