Advertisement

politics

  • Jul 20 2019 10:58PM
Advertisement

सिद्धू के अगले कदम पर संशय बरकरार, नेताओं को कांग्रेस में बने रहने की उम्मीद

सिद्धू के अगले कदम पर संशय बरकरार, नेताओं को कांग्रेस में बने रहने की उम्मीद

चंडीगढ़ : पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह द्वारा नवजोत सिंह सिद्धू का राज्य मंत्रिमंडल से इस्तीफा स्वीकार किये जाने के बाद कांग्रेस में पूर्व क्रिकेटर के भविष्य पर प्रश्न खड़े हो गये हैं,लेकिन नेताओं को उम्मीद है कि वह पार्टी में बने रहेंगे. सिद्धू का अगला कदम क्या होगा, इसे लेकर रहस्य बना हुआ है, क्योंकि 14 जुलाई को ट्विटर पर अपना इस्तीफा सार्वजनिक करने के बाद से उन्होंने इस बारे में कुछ भी नहीं कहा है. इसके एक दिन बाद उन्होंने अपना इस्तीफा मुख्यमंत्री को भेज दिया था.

इसे भी देखें : पंजाबः नवजोत सिंह सिद्धू का मंत्री पद से इस्तीफा, एक महीने पहले राहुल गांधी को दी थी चिट्ठी

एक आधिकारिक प्रवक्ता ने बताया कि मुख्यमंत्री 17 जुलाई को दिल्ली से लौटने के बाद से अस्वस्थ चल रहे थे. उन्होंने शनिवार की सुबह इस्तीफा देखा और उसे स्वीकार कर लिया. पंजाब कांग्रेस नेताओं ने कैबिनेट छोड़ने के सिद्धू के फैसले को ‘भूल' बताया, लेकिन उन्होंने उम्मीद जतायी कि सिद्धू कांग्रेस में बने रहेंगे.

कांग्रेस के पंजाब इकाई के नेता एवं विधायक राज कुमार वेर्का ने कहा कि सिद्धू साहब ने अपनी इच्छा से इस्तीफा दिया है. मुख्यमंत्री चाहते थे कि वह अपनी जिम्मेदारी संभाल लें और ऊर्जा मंत्री के तौर पर काम करें. उन्हें कैबिनेट से निकाला नहीं गया. उन्होंने अपनी मर्जी से इस्तीफा दिया है.

पंजाब के मंत्री साधु सिंह धर्मसोट ने भी सिद्धू के कांग्रेस में बने रहने की उम्मीद जतायी. लोक इंसाफ पार्टी के प्रमुख सिमरजीत सिंह ने सिद्धू को अपनी पार्टी में शामिल होने का न्योता दिया है. उन्होंने कहा है कि वह 2022 के विधानसभा चुनाव में उन्हें पार्टी के मुख्यमंत्री पद का दावेदार बना सकते हैं.

Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement