patna

  • Feb 15 2020 8:32AM
Advertisement

घड़ी पर रोक, यूनिफॉर्म में देनी होगी बोर्ड परीक्षा

घड़ी पर रोक, यूनिफॉर्म में देनी होगी बोर्ड परीक्षा
पटना : सीबीएसइ 10वीं व 12वीं की बोर्ड परीक्षाओं के दौरान परीक्षार्थी डिजिटल या स्मार्ट घड़ी नहीं पहन सकेंगे.  बोर्ड की ओर से पहली बार यह नियम लागू किया गया है. परीक्षा नियंत्रक संयम  भारद्वाज ने जारी निर्देश में कहा कि परीक्षा के दौरान हर कमरे में घड़ी  लगी रहेगी, जो हर घंटे के बाद बजेगी. सेंटर पर इलेक्ट्रॉनिक उपकरण ले जाने पर पाबंदी है. 
 
प्रतिबंधित  सामान को परीक्षा में लेकर जाने पर कार्रवाई की जायेगी. सभी  परीक्षार्थियों को यूनिफाॅर्म में परीक्षा केंद्र पर जाना होगा. सभी  केंद्रों को निर्देश दिया है कि केंद्रों पर परीक्षार्थियों की गिनती और  पहचान उनके यूनिफाॅर्म से की जायेगी. यदि एक परीक्षा केंद्र पर कई  विद्यालयों का केंद्र हो तो ऐसे परीक्षार्थियों को मिलाकर बैठाना होगा. 
 
आठ डिजिट के होंगे रोल नंबर : इस बार रोल नंबर सात डिजिट के बजाय आठ डिजिट के होंगे. लेकिन आंसरशीट में रोल नंबर के लिए सात कॉलम ही दिये रहेंगे. ऐसे में छात्र रोल नंबर को लेकर कन्फ्यूज हो सकते हैं कि पहली डिजिट को कॉलम से बाहर लिखा जाये या अंतिम डिजिट को. 
 
स्टूडेंट्स के रोल नंबर एक या दो से शुरू होंगे. रोल नंबर की पहली डिजिट कॉलम से बाहर लिखनी है उसके बाद दूसरी डिजिट से रोल नंबर को कॉलम में भरना है. 
 
आज इन विषयों की परीक्षा
 
पहले दिन 10वीं के परीक्षार्थियों के लिए रिटेलिंग, सिक्योरिटी, ऑटोमोटिव, इंट्रोडक्शन टू फाइनेंशियल मार्केट्स, इंट्रोडक्शन टू टूरिज्म सहित अन्य विषयों की परीक्षाएं होंगी. वहीं 12वीं के परीक्षार्थियों के लिए मल्टीमीडिया एंड वेब टेक्नोलॉजी, मास मीडिया, फूड प्रोडक्शन, रिटेल ऑपरेशंस, रिटेल,बैंकिग सहित अन्य व्यवसायिक विषयों की परीक्षाएं होंगी. 
 
10वीं की मुख्य परीक्षा 26 तो 12वीं की 22 फरवरी से, 30 मार्च तक चलेंगी परीक्षाएं
 
10वीं  की परीक्षाएं 20 मार्च तक चलेंगी, जबकि 12वीं की परीक्षाएं 30 मार्च को  समाप्त होंगी. 10वीं के स्टूडेंट्स के लिए मुख्य विषयों की परीक्षा 26  फरवरी से शुरू होगी, जबकि 20 फरवरी से 12वीं के पेंटिंग सब्जेक्ट की  परीक्षा होगी. वहीं, 12वीं के स्टूडेंट्स के लिए मेन पेपर की परीक्षा 22 से  शुरू होगी. बोर्ड परीक्षा के दौरान स्टूडेंट्स को 15 मिनट का अतिरिक्त समय  प्रश्न को पढ़ने के लिए मिलेगा. प्रश्न पत्र सुबह 10:15 बजे बांटे  जायेंगे. परीक्षा 10:30 बजे से शुरू होगी. आंसर बुक सुबह 10 बजे से 10.15  बजे के बीच मिलेगा. मुख्य विषयों की परीक्षा दोपहर 1:30 बजे तथा कुछ विषयों  की परीक्षा एक बजे तक आयोजित होगी.
 
पैरेंट्स के लिए निर्देश
 
परीक्षा  केंद्र पहुंचने के लिए लोकेटर ऐप का उपयोग करें. स्टूडेंट को आइडी कार्ड के साथ परीक्षा केंद्र पर सुबह 9:45 बजे तक और निश्चित रूप से सुबह 10:00 तक भेजें. 10:00 बजे के बाद प्रवेश नहीं होगा. स्टूडेंट परीक्षा के दिन पर्याप्त रूप से आराम करे और पूरे दिन  पौष्टिक भोजन ले. चेक करें कि एडमिट कार्ड, पहचान पत्र, पेन, पेंसिल, इरेजर, स्केल, शार्पनर ले जा रहा है. ये सभी एक पारदर्शी पाउच में हों. मोबाइल,  बटुआ, पर्स, परीक्षा केंद्र पर नहीं ले जा सकते हैं.  रोल नंबर लिखने की विधि के बारे में बताएं. अफवाहों या फर्जी वीडियो पर  विश्वास न करने के बारे में भी जानकारी दें.
 
पटना : 10वीं में 18 लाख, तो 12वीं में 12 लाख देंगे परीक्षा
 
पटना : सीबीएसइ सचिव अनुराग त्रिपाठी ने परीक्षा से पूर्व संध्या पर परीक्षा में शानदार सफलता के लिए सभी परीक्षार्थियों को शुभकामनाएं दी हैं. उन्होंने अपील करते हुए कहा कि इस दौरान तनावग्रस्त न हों. 
 
माता-पिता कृपया बच्चों को निरंतर सहयोग और मार्गदर्शन देना सुनिश्चित करें और उन्हें परिणामों के बारे में चिंता किये बिना अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने के लिए प्रोत्साहित करें. 10वीं व 12वीं से संबंधित क्यूआर कोड के साथ एडमिट कार्ड जारी किया गया है. इस वर्ष एन्क्रिप्टेड प्रश्नपत्रों की संख्या 19 से बढ़ाकर 50 कर दी गयी है. अनुपस्थित विद्यार्थियों का रियल टाइम डाटा एकत्र करने के लिए पोर्टल को मजबूत किया गया है. इस वर्ष 10वीं में कुल 18,89, 878 व 12वीं 12,06, 893 अभ्यर्थी हैं. 
 
केंद्रों की तस्वीर तुरंत अपलोड होगी पोर्टल पर : बोर्ड ने गलतियों की पहचान करने के लिए पोर्टल्स का एकीकरण किया है. विद्यालयों और क्षेत्रीय कार्यालयों के साथ तेजी से संचार करने के लिए दो नये पोर्टल विकसित किये हैं. परीक्षा के लिए केंद्र सामग्री की इमेज के साथ कस्टोडियन और केंद्र अधीक्षक को फोटो टैगिंग कर जोड़ा गया है. यह सामग्री के सुरक्षित संग्रह और वितरण के लिए किया गया है.
 
Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement