Advertisement

patna

  • Feb 17 2017 9:09AM

अब वैशाली से पटना का सफर सिर्फ 10 मिनट में

अब वैशाली से पटना का सफर सिर्फ 10 मिनट में
पटना. गांधी सेतु के समानांतर एक तरफ पीपा पुल तैयार हो गया है. पथ निर्माण विभाग के प्रधान सचिव अमृत लाल मीणा ने बताया कि पीपा पुल का औपचारिक उद्घाटन 18 फरवरी को उपमुख्यमंत्री तेजस्वी प्रसाद यादव करेंगे. उद्घाटन हाजीपुर साइड से होगा. समारोह की अध्यक्षता स्वास्थ्य मंत्री तेज प्रताप करेंगे. करीब 89 करोड़ की लागत से बने इस पुल पर पांच टन से कम वजन क्षमतावाले वाहनों का परिचालन होगा.
 
पीपा पुल से हाजीपुर से पटना आ सकेंगे : पीपा पुल का इस्तेमाल हाजीपुर से पटना आने के लिए होगा. हालांकि, अभी प्रयोग के तौर पर इसके दोनों लेन पर दोनों तरफ से आवाजाही होगी. पटना से हाजीपुर जाने के लिए डाउन लेन में जून तक तैयार होना है. पीपा पुल पार करने में आठ से दस मिनट लगेंगे. पुल के बनने से हाजीपुर साइड में तेरासिया दियारा, जरूआ, महनार रोड की ओर कनेक्टिविटी बढ़ जायेगी. वहीं पटना साइड में पीपा पुल से अशोक राजपथ के अलावा पहाड़ी, जीरो माइल की ओर निकलना आसान होगा. लोगों की आवाजाही उद्घाटन से पूर्व की हो चुकी है. 
 
बन रहा है अप्रोच रोड
पीपा पुल तक पहुंचने के लिए गंगा तट से अप्रोच रोड बनाया गया है. अप्रोच रोड का निर्माण ईंट सोलिंग कर किया गया है. वैशाली की तरफ से इसी तरह से अप्रोच रोड बनाया गया है. वहां लगभग पांच किमी लंबा व 10 फुट चौड़ी अप्रोच सड़क बनायी गयी है. 
 
रोशनी की नहीं होगी व्यवस्था : तैयार पीपा पुल पर रात में वाहन चलाने के लिए रोशनी की व्यवस्था नहीं है. रात में वाहनों के लाइट ही सहारा होंगे. ऐसे में रात का सफर चालकों के लिए परेशानी का सबब होगा.
 
दोतरफा परिचालन आसान नहीं होगा : पीपा पुल पर दो तरफ परिचालन आसान नहीं होगा. अगर बीच में कोई वाहन खराब होती है तो क्रेन पहुंच नहीं सकेगा. जिससे दोनों तरफ महाजाम लग सकता है. फिलहाल इस रूट पर दोतरफा परिचालन प्रयोग के तौर पर शुरू किया गया है. पीपा पुल मूवेबल होगा. यानी किसी भी पानी  के जहाज के पार कराने के लिए पुल को खोला जा सकेगा. जहाज के लिए 40 फुट तक पीपा पुल को खोला जा सकता है.
 

Advertisement

Comments