patna

  • Dec 15 2019 4:53AM
Advertisement

जिस कार से एटीएम चुरायी, उसे बेचने को ओएलएक्स पर डाला, पुलिस ने गिरोह के चार सदस्यों को पकड़ा

 हाजीपुर/पटना : हाजीपुर औद्योगिक थाना क्षेत्र के राजपूत कॉलोनी शंकर टॉकिज के समीप से बीते तीन   दिसंबर को स्टेट बैंक ऑफ इंडिया की एटीएम को उखाड़ कर 16.59 लाख नकद रुपये की चोरी करने वाले गिरोह का पुलिस ने पर्दाफाश कर दिया. 

 
यह सफलता ओएलएक्स पर कार की बिक्री के लिए डाले गये एक एड (विज्ञापन) से मिली है. इस मामले में पुलिस ने चार बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया और इन लोगों के पास से चोरी किये गये तीन लाख रुपये, घटना में इस्तेमाल की गयी फोर्स कंपनी की गाड़ी व पांच मोबाइल भी बरामद किया गया है. 
 
घटना को नौ की संख्या में अपराधियों ने अंजाम दिया था. पुलिस फरार अन्य पांच अपराधियों को पकड़ने के लिए छापेमारी कर रही है. पकड़े गये बदमाशों में अमित कुमार, राहुल कुमार, अर्पित कुमार व बिरजू कुमार शामिल हैं. अमित व राहुल जहानाबाद के रहने वाले हैं. जबकि अर्पित कुमार रूपसपुर व बिरजू सीवान का रहने वाला है. 
 
अर्पित के पिता हाजीपुर जेल में पदस्थापित हैं.  वैशाली एसपी जगुनाथ रेड्डी ने शनिवार को मीडिया को बताया कि एटीएम लूटकांड के मामले में घटनास्थल के   आसपास से मिले सीसीटीवी फुटेज के आधार पर कांड के खुलासे व बदमाशों की   गिरफ्तारी के लिए सदर एसडीपीओ राघव दयाल के नेतृत्व में औद्योगिक   थानाध्यक्ष जैनेंद्र कुमार सिंह, लालगंज थानाध्यक्ष व सशस्त्र बल की एक टीम   गठित की गयी थी. जांच के दौरान उस कार के संबंध में जानकारी मिल गयी, जिससे घटना को अंजाम दिया गया था. 
 
फोर्स कंपनी की कार की बिक्री का था विज्ञापन
 लालगंज थानाध्यक्ष सुनील कुमार को ओएलएक्स   पर एटीएम चोरी की घटना में प्रयुक्त फोर्स कंपनी की कार की बिक्री का विज्ञापन  दिखा. विज्ञापन डालने वाले रूपसपुर निवासी अर्पित कुमार से पुलिस  ने  संपर्क किया तो पता चला कि कार उसके दोस्त अमित की है. 
 
उसकी गिरफ्तारी  के  बाद पुलिस टीम ने रूपसपुर थाना क्षेत्र के रंजन पथ गोला रोड के  इंद्रावती  देवी विजय पैलेस अपार्टमेंट में छापेमारी की. वहां से जहानाबाद  के अमित  कुमार और राहुल कुमार को गिरफ्तार किया गया. वहां से पुलिस ने एक  बैग में  रखे 1.30 लाख रुपये व अमित की पॉकेट से 1.70 लाख रुपये बरामद  किये.
 
 इसके  बाद पुलिस ने उसके सहयोगी सीवान जिले के मानसिंह थाना के जसौली  निवासी  बिरजू कुमार और रूपसपुर थाने के प्रियदर्शी नगर निवासी अर्पित  कुमार को  गिरफ्तार कर लिया. एसपी के अनुसार इस मामले का बेऊर जेल में बंद फुलवारीशरीफ  के निहाल के  लिंक को खंगाला जा रहा है. एटीएम की अभी बरामदगी नहीं हो सकी  है. उसके लिए  पुलिस टीम छापेमारी कर रही है.
 
Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement