Advertisement

patna

  • Nov 6 2017 7:18AM
Advertisement

बिहार : शहर की नयी लाइफ लाइन होगी एम्स-दीघा एलिवेटेड कॉरिडोर

बिहार : शहर की नयी लाइफ लाइन होगी एम्स-दीघा एलिवेटेड कॉरिडोर
पटना : 12.4 किमी लंबा एम्स दीघा एलिवेटेड कॉरिडोर पटना शहर की नयी लाइफ लाइन होगा. 3020 पाइल और 683 पिलर पर खड़े इस फ्लाईओवर के निर्माण में 877 करोड़ खर्च होंगे. जेपी सेतु (4.5 किमी) और गंगा पाथ वे (21.1 किमी) से जुड़ कर यह 38 किमी लंबे एलीवेटेड सड़क की एक शृंखला बनायेगा, जिसका इस्तेमाल कर कोई भी व्यक्ति सीधे सोनपुर से बिना शहर के जाम को झेले  फुलवारी में एनएच 30 पर पहुंच जायेगा. योजना का लगभग 85 फीसदी काम पूरा हो चुका है. अधिकारियों के मुताबिक अगले सात-आठ महीने में बचा हुआ काम पूरा कर लिया जायेगा. 
 
घट जायेगा मुुख्य सड़कों पर ट्रैफिक लोड
 
एम्स दीघा एलिवेटेड रोड का शहर के ट्रैफिक व्यवस्था पर गहरा प्रभाव पड़ेगा. इसके बन जाने से दीदारगंज, पटना सिटी, गुलजारबाग, व गायघाट जैसे सुदुर पूर्वी क्षेत्र के व्यक्ति को दीघा, दानापुर, खगौल, फुलवारी, एम्स व जानीपुर जैसे सुदुर पश्चिमी क्षेत्रों में जाने-आने के लिए गांधी मैदान या पटना जंक्शन आने-जाने और शहर की मुख्य ट्रैफिक व्यवस्था पर दबाव बढ़ाने की जरूरत नहीं पड़ेगी. 
 
वे बिना किसी जाम को झेले बहुत कम समय में वहां पहुंच जायेंगे. इससे अशोक राजपथ, दीघा-गांधी मैदान सड़क, ओल्ड बाइपास, खगौल रोड, स्टेशन रोड, फ्रेजर रोड, बेली रोड और न्यू बाइपास पर वाहनों का दबाव कम होगा और वहां जाम कम लगेगा. 
 
पीएमसीएच से एम्स ले जाना होगा सुविधाजनक 
 
एलीवेटेड कॉरिडोर के बन जाने से पीएमसीएच से एम्स आने जाने का समय बहुत कम हो जायेगा और मरीजों को पीएमसीएच से एम्स और एम्स से पीएमसीएच जाने की जरूरत पड़ने पर महज 20 से 30 मिनट में भेजा जा सकेगा. इसमें इन दिनों  अशोक राजपथ व मार्ग में अन्य जगहों पर लगने वाले जाम की वजह से डेढ़ से दो घंटे तक लग जाते हैं . 
 
रोटरी से जेपी सेतु से जुड़ जायेगा
 
एम्स दीघा एलिवेटेड रोड दीघा में जेपी सेतु पहुंच पथ के पास बनने वाले रोटरी के माध्यम से जेपी सेतु से भी जुड़ेगा. इसके कारण सोनपुर और पहलेजा की तरफ से आने वाला व्यक्ति आसानी से पश्चिमी पटना, फुलवारी और एम्स पहुंच जायेगा. साथ ही, पश्चिमी पटना के लोगों के लिए सोनपुर की तरफ जाना भी इससे बहुत सुविधाजनक हो जायेगा. 
 
उत्तर बिहार से आने-जाने में होगी सुविधा: गंगा पाथ वे लिंक रोड के माध्यम से महात्मा गांधी सेतु से भी जुड़ा होगा. इससे उत्तर बिहार से पश्चिमी पटना आने वालों को अशोक राजपथ, ओल्ड बाइपास या न्यू बाइपास के जाम को झेलना नहीं पड़ेगा. पश्चिमी पटना के लोगों को हाजीपुर होकर उत्तर बिहार की ओर जाने में सुविधा होगी.
 
एम्स दीघा एलिवेटेड रोड गंगा पाथ वे और जेपी सेतु- गांधी सेतु से मिलकर यह एक ऐसा थ्रू वे बनाएगा, जिससे पूर्वी पटना व पटना से बाहर आना जाना बहुत आसान हो जायेगा.  अरुण कुमार, डीजीएम, बीएसआरडीसी 
 
Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement