Advertisement

patna

  • Oct 15 2017 7:52AM

पटना : पटाखे की एक-दो दुकानें खुलीं, मंडी में सन्नाटा

पटना सिटी : खाजेकलां थाना क्षेत्र में स्थित आतिशबाजी की दुकानों में प्रशासन की नकेल अब भी कसी हुई है. हालांकि, प्रशासन की ओर से बीते वर्ष चार अक्तूबर को सील की गयी दुकानों में दो दुकानों को पटना उच्च न्यायालय की ओर से खोलने की अनुमति दी गयी है. वहीं, मौसमी कारोबार से जुड़े खुदरा दुकानदारों अब भी प्रशासन की ओर से दिये जाने वाले अस्थायी लाइसेंस का इंतजार है. 
 
लाइसेंस मिलने के बाद ही खुदरा दुकानदार दुकानों को खोल पायेंगे. अब जबकि दीपावली में महज पांच दिनों का समय रह गया है, ऐसे में पटाखा विहिन दीपावली इस बार मन सकती है. हालांकि, फुटकर दुकानदारों ने अस्थायी लाइसेंस के लिए आवेदन अनुमंडल कार्यालय में दिया है, लेकिन अब तक अनुमति नहीं मिली है. यह दूसरा वर्ष होगा, जब प्रशासन की ओर से पटाखा कारोबारियों पर नकेल कसी गयी है. 
 
बताते चलें कि खाजेकलां थाना क्षेत्र में  पश्चिम दरवाजा से लेकर खाजेकलां के बीच में  आधा दर्जन थोक व लगभग 50 से भी अधिक खुदरा दुकानदार हैं, जो पटाखा का कारोबार मौसमी तौर पर करते हैं. एक अनुमान के मुताबिक पटाखा का लगभग पंद्रह करोड़ रुपये का कारोबार होता है.  
 

Advertisement

Comments