Advertisement

patna

  • Feb 3 2016 3:11PM

दीघा रेल पुल से गुजरी पहली ट्रेन सोनपुर पहुंचने में लगे 6 घंटे 20 मिनट

दीघा रेल पुल से गुजरी पहली ट्रेन सोनपुर पहुंचने में लगे 6 घंटे 20 मिनट

पटना : उत्तर बिहार और बिहार के लाखों लोगों को अर्से से इंतजार था कि दीघा पुल से ट्रेन गुजरे और पटना से सोनपुर की दूरी कम हो जाये. आज लोगों का यह इंतजार खत्म हो गया और पहली सवारी गाड़ी सुबह 8 बजकर 55 मिनट पर ट्रेन पाटलिपुत्र स्टेशन से खुली. ट्रेन में भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश के नेता प्रेम कुमार, नंद किशोर यादव, संजीव चौरसिया, नितिन नवीन और मंगल पांडेय भी बैठे थे. जैसे ही ट्रेन पहलेजा घाट स्टेशन पहुंची वहां ट्रेन को प्रदर्शनकारियों ने रोक दिया और स्टेशन का नाम बदलने की मांग करने लगे.

स्थानीय लोगों का कहना था कि स्टेशन का नाम बदलकर भरपुरा किया जाये. बाद में बीजेपी नेताओं और डीआरएम के अलावा जिलाधिकारी के समझाने के बाद किसी तरह पहलेजा घाट पर लोगों ने ट्रेन को आगे बढ़ने दिया. लोगों से रेलवे प्रशासन ने दस दिनों की मोहलत मांगी और स्टेशन का नाम भरपुरा और पहलेजा दोनों रखने पर विचार करने का आश्वासन दिया. उनसे बाद ट्रेन 2 बजकर 10 मिनट पर सोनपुर पहुंची इस बीच प्रदर्शन की वजह से 9.30 बजे से 1.40 तक ट्रेन पहलेजा घाट पर खड़ी रही.

इस ट्रेन के शुरू हो जाने से सोनपुर और हाजीपुर के अलावा उत्तर बिहार में जाने वाले लोगों को बहुत बड़ी राहत मिल जायेगी. बरौनी होकर उत्तर बिहार की ओर जाने वाले लोग अब पाटलिपुत्र स्टेशन से  सोनपुर और हाजीपुर जायेंगे जिससे उन्हें 60 से 100 किलोमीटर की दूरी कम तय करनी पड़ेगी. गौरतलब हो कि इस रेल पुल के शुरू कर देने से उत्तर बिहार के लोग कम समय में आ- जा सकेंगे. इस पुल का शिलान्यास तत्कालीन प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने किया था. इस पुल के शुरू हो जाने से हाजीपुर,मुजफ्फरपुर और छपरा सीवान के लोगों को काफी सुविधा होगी.




 

Advertisement

Comments

Advertisement