Advertisement

patna

  • Jan 11 2019 5:45PM
Advertisement

बिहार में पहले ही मिलने लगा था गरीब सवर्णों को आरक्षण : वशिष्ठ नारायण सिंह

बिहार में पहले ही मिलने लगा था गरीब सवर्णों को आरक्षण : वशिष्ठ नारायण सिंह

पटना : जदयू की ओर से शुक्रवार को जदयू मिलन समारोह का आयोजन किया गया. इस अवसर पर वैशाली के पूर्व राजद नेता जगदीश्वर राय ने अपने समर्थकों के साथ जदयू की सदस्यता ग्रहण की. जदयू के मिलन समारोह के दौरान प्रदेश अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह के सामने वैशाली के जगदीश्वर राय ने अपने करीब 400 साथियों के साथ पार्टी की सदस्यता ली. इससे पहले उन्होंने राजद की टिकट पर वर्ष 2010 का विधानसभा चुनाव वैशाली से लड़ा था. बाद में वर्ष 2015 में उन्हें राजद ने टिकट नहीं दिया जिससे वे चुनाव नहीं लड़ सके. बाद में उन्हें राजद ने पार्टी विरोधी गतिविधियों में शामिल रहने का आरोप लगाकर छह वर्षों के लिए पार्टी से निष्कासित कर दिया था. राजनीति में आने से पहले वे बिहार सचिवालय कर्मचारी संघ का अध्यक्ष रह चुके हैं.

जदयू के प्रदेश अध्यक्ष ने कहा है कि बिहार में पहले ही गरीब सवर्णों को आरक्षण मिलने लगा था. इसकी शुरुआत तत्कालीन मुख्यमंत्री कर्पूरी ठाकुर ने की थी. उन्होंने गरीब सवर्णों को तीन फीसदी आरक्षण दिया था. वशिष्ठ नारायण सिंह ने यह बातें शुक्रवार को जदयू मिलन समारोह के अवसर पर संवाददाता सम्मेलन के दौरान कहीं. वशिष्ठ नारायण सिंह ने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भी सवर्ण आयोग बनाया था. जब केंद्र सरकार गरीब सवर्णों के आरक्षण के लिए संसद में विधेयक लायी तो जदयू सहित अधिकांश पार्टियों ने इसका समर्थन किया. यह सरकार का अच्छा कदम है. उन्होंने जदयू में शामिल होने पर जगदीश्वर राय के कामकाज की तारीफ की और कहा कि वैशाली सहित मुजफ्फरपुर में जदयू मजबूत होगी.

Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement