Advertisement

patna

  • Apr 16 2019 8:23AM

पटना : अगले 48 घंटे बिगड़ा रहेगा मौसम, कभी तेज धूप, तो कभी बारिश से होगा सामना

पटना : अगले 48 घंटे बिगड़ा रहेगा मौसम, कभी तेज धूप, तो कभी बारिश से होगा सामना
पटना : पटना का मौसम अगले 48 घंटे तक बिगड़ा रहेगा. इस दौरान तापमान सामान्य से दो से तीन डिग्री अधिक रहेगा. 16 से 18 अप्रैल तक मौसम में काफी बदलाव होंगे. कभी बरसात होगी, तो कभी तेज हवा बहेगी. इस दौरान गर्मी भी जोर मारती रहेगी. हालांकि यह प्रभाव पूरे बिहार की मौसमी दशाओं में देखने को मिलेगा. मौसम विज्ञान विभाग का कहना है कि 18 अप्रैल के बाद गर्मी नियमित हो जायेगी. 
 
दोपहर के समय वाहन दिखे कम : गर्मी का असर सड़कों पर भी देखने को मिला. शहर की लाइफ लाइन मानी जाने वाली बेली रोड पर दोपहर में बहुत कम वाहन देखने को मिले. शाम को छह बजे तक शहर में 37 से 38 डिग्री सेल्सियस तक तापमान  रहा.  गर्मी की वजह से ओजोन की मात्रा भी रोज की अपेक्षा सोमवार को ज्यादा रही. सोमवार को शहर में ओजोन की मात्रा  60 माइक्रोग्राम प्रति क्यूबिक मीटर  से ऊपर रही. जानकारी के मुताबिक अप्रैल माह में लगातार पड़ रही गर्मी के चलते ओजोन मुख्य प्रदूषणकारी बन गया है. ओजोन गैस का सबसे अधिक उत्सर्जन वाहनों के इंजन से निकलने वाली ऊष्मा के गर्म वातावरण से रिएक्शन से होता है. ओजोन सांस के जरिये शरीर में पहुंच कर नुकसान पहुंचाता है.  

पटना : 470 मेगावाट पर पहुंचा पेसू का लोड बार-बार बिजली कटने से लोग परेशान
 
पटना : गर्मी  बढ़ने से पेसु का लोड भी बढ़ कर अपने उच्चतम विंदु की ओर जाने लगा है. पंखा के साथ साथ कूलर और एसी के लगातार चलने के कारण सोमवार की सुबह छह बजे लोड बढ़ कर  470 मेगावाट पर पहुंच गया. 
 
इससे कई क्षेत्रों  में ब्रेकडाउन हुआ. फ्यूज कॉल सेंटर पर भी दिनभर बिजली कटने के कॉल आते रहे. जिन सेंटरों पर दिनभर में पांच से सात कॉल आते थे, वहां भी इनकी संख्या बढ़ कर 10-12 तक पहुंच गयी. सीडीए कॉलोनी, एजी कॉलोनी, शास्त्रीनगर, चांदमारी रोड, कंकड़बाग आदि क्षेत्रों के कई मुहल्लों में तो डेढ़ से दो घंटे तक लाइन गुल रही. जिन मोहल्लों में रात में बिजली गुल हुई, वहां गर्मी के कारण लोगों का सोना भी मुहाल हो गया.
 
42.6 डिग्री पार कर गया था पारा
 
सोमवार को दोपहर में राजधानी का एंबिएंस टेंप्रेचर (एक खास समय पर अधिकतम तापमान) 42़ 6  डिग्री पार कर गया. हालांकि पूरे दिन का औसत अधिकतम तापमान 41 डिग्री सेल्सियस रहा. इस दौरान दिन में हवा की गति कम रही. दोपहर के समय हवा की गति 0़  2 मीटर प्रति सेकेंड रही. पिछले रोज तक हवा की गति तीन से पांच किलोमीटर प्रति घंटा तक थी. आर्द्रता भी सामान्य से काफी कम रही. दरअसल सोलर रेडिएशन (सौर विकिरण) की मात्रा सामान्य से चार गुना अधिक 450 वाट्स प्रति वर्ग मीटर तक पहुंचने से गर्मी का एहसास सोमवार को  कई गुना बढ़ गया. 
 
गर्मी में बारिश ने तोड़ा रिकार्ड
 
पटना जिले में गर्मी में होनेवाली बारिश इस साल  अभी तक  दो दशकों में सबसे ज्यादा हुई है. मौसम विज्ञान विभाग की आधिकारिक रिपोर्ट के मुताबिक  एक मार्च से 15 अप्रैल तक 23़ 2  मिलीमीटर बारिश हो चुकी है. जबकि इससे पहले के सालों में अधिकतम 12़ 9 मिलीमीटर रही थी. बात साफ है कि इस साल की मौसमी दशाएं पिछले साल से काफी हद तक अलग रही हैं.
 

Advertisement

Comments

Advertisement