Advertisement

patna

  • Nov 9 2018 7:33AM

पटना : अब नौकरी ज्वाइनिंग से पहले भी बायोमेट्रिक जांच से गुजरना होगा

पटना : अब नौकरी ज्वाइनिंग से पहले भी बायोमेट्रिक जांच से गुजरना होगा
फर्जीवाड़ा रोकने को बिहार कर्मचारी चयन आयोग ने की है नयी व्यवस्था
 
पटना : सरकारी नौकरी की प्रक्रिया में होने वाले फर्जीवाड़े को लेकर बिहार सरकार सचेत हो गयी है. प्रतियोगिता परीक्षा में होने वाली गड़बड़ियों से निबटने के तमाम नये और अत्याधुनिक उपायों पर काम हुआ है तो कुछ पर काम चल रहा है. 
 
इसी क्रम में बिहार कर्मचारी चयन आयोग ने नयी व्यवस्था की है. सभी तरह की प्रतियोगिता परीक्षा और साक्षात्कार आदि की प्रक्रिया पूरी कर सफल होने वाले छात्रों को नियुक्ति से पहले एक बार और बायोमेट्रिक प्रणाली की जांच से गुजरना होगा. 
 
इससे सफल अभ्यर्थियों के बीच किसी भी फर्जी अभ्यर्थी के ज्वाइन करने की गुंजाइश बिल्कुल ही खत्म हो जायेगी. पूर्व में कई घटनाओं से सबक लेते हुए इस तरह की व्यवस्था की गयी है. बता दें कि लिखित परीक्षा, शारीरिक परीक्षा या साक्षात्कार के दौरान पहले से ही बायोमेट्रिक मशीन की मदद ली जाती है. अब सबकुछ फाइनल होने के बाद ज्वाइनिंग से पहले इस जांच से गुजरना होगा. 
 
पूर्व में फर्जी अभ्यर्थियों की ज्वाइनिंग के मामले आ चुके हैं सामने

करीब तीन साल पहले फायरमैन की भर्ती के बाद हुई थी गड़बड़ी
 
सूत्रों की मानें तो करीब तीन साल पहले 900 फायरमैन की भर्ती प्रक्रिया पूरी गयी थी. इनकी ज्वाइनिंग कई क्रम में हुई. इसी दौरान रोज कोई न कोई फर्जी अभ्यर्थी का मामला सामने आ रहा था. करीब 26 लोग इस दौरान पकड़े गये थे. ये ऐसे लोग थे, जो फर्जीवाड़ा करते हुए नौकरी ज्वाइन करने पहुंचे थे.
 
लिखित से लेकर अन्य परीक्षाओं में इनका कोई रिकॉर्ड नहीं था. इसमें इन अभ्यर्थियों के खिलाफ रिपोर्ट भी दर्ज करायी गयी थी. इस तरह की घटनाएं कुछ अन्य विभागों में भी सामने आयी थीं. इसके बाद सरकार ने इन सब से निबटने की अलग से व्यवस्था बनाने का निर्णय लिया था. इसी के बाद विभिन्न स्तरों पर सुरक्षा व्यवस्था और पुख्ता करने को लेकर लगातार काम चल रहा है.
 
होमगार्ड और फायर ब्रिगेड में चल रही यह प्रक्रिया 
 
हाल ही में फायर और होमगार्ड डिपार्टमेंट में बिहार कर्मचारी चयन आयोग की नयी व्यवस्था के तहत प्रक्रिया चल रही है. जानकारी के मुताबिक कुल 17 अभ्यर्थियों का चयन दो पदों के लिए हुआ है. इसमें छह अभ्यर्थी होम गार्ड में सब इंस्पेक्टर रैंक में चयनित हुए हैं. 
 
11 अभ्यर्थियों का चयन फायर के लिए स्टेशन ऑफिसर के पद पर हुआ है. इनकी ज्वाइनिंग होनी है. इसके लिए बिहार कर्मचारी चयन आयोग ने पूरा दिश-निर्देश जारी किया है. इसके तहत सफल अभ्यर्थियों को ज्वाइन कराने से पहले बायोमेट्रिक प्रणाली से गुजरना होगा. निजी एजेंसियों से बायोमेट्रिक मशीन ली जायेगी. परंतु इसके लिए भी खास सावधान बरतनी है. 
 
आयोग ने बायोमेट्रिक मशीन का स्पेसीफिकेशन भी तय किया है. उसी के अनुसार मशीन होनी चाहिए. ताकि किसी भी अभ्यर्थी का डाटा लीक न हो सके. सभी अभ्यर्थियों का थंब इंप्रेशन का फॉर्मेट सीडी में बाकायदा आयोग संबंधित विभागों को भेज देता है.
 

Advertisement

Comments

Advertisement