Advertisement

patna

  • Jun 13 2019 8:14AM
Advertisement

पटना : 14 लाख रुपये रिश्वत लेने का मामला, टीम बनी, भ्रष्ट इंजीनियर से जेल में होगी पूछताछ

पटना : 14  लाख रुपये रिश्वत लेने का मामला, टीम बनी, भ्रष्ट इंजीनियर से जेल में होगी पूछताछ
पटना : बिहटा- सरमेरा सड़क निर्माण में ठेकेदार से 14  लाख रुपये रिश्वत लेने के मामले में गिरफ्तार पथ निर्माण विभाग के कार्यपालक अभियंता सुरेश प्रसाद सिंह के खिलाफ जारी कार्रवाई में विजिलेंस ने एक कदम और बढ़ा दिया है.  
 
इंजीनियर के नाेयडा, झारखंड, पटना के करीब एक दर्जन बैंक खातों को पहले ही फ्रीज किया जा चुका है. चल और अचल संपत्ति के जितने भी दस्तावेज मिले हैं. उनका सत्यापन कराया जा रहा है. इसके लिये एसबीआइ, सहारा, बीओआइ, आइसीआइसीआइ सहित निबंधन कार्यालयों को भी पत्र लिखा गया है. वह  15 से बीस करोड़ की संपत्ति का मालिक बताया जा रहा है.  
 
बैंक खातों में करीब 70 लाख कैश बताया जा रहा है. बक्सर  में पैतृक घर है. बक्सर , पटना, नोयडा आदि शहरों में अचल संपत्ति की जांच  चल रही है. निगरानी के एक अधिकारी ने बताया कि धावा दल की कार्यवाही पूरी हो गयी है. अब आय से अधिक संपत्ति का केस दर्ज होने की प्रक्रिया शुरू कर दी गयी है. प्रारंभिक जांच के लिये अनुसंधान पदाधिकारी नियुक्त कर दिये गये हैं. 
 
उनकी जांच रिपोर्ट से तय होगा कि कार्यपालक अभियंता के खिलाफ आय अधिक कितनी संपत्ति का मामला चलेगा. सूत्रों से मिली जानकारी के निगरानी ने   इंजीनियर और उसके एकाउंटेंट की रिमांड मांगी थी लेकिन कोर्ट ने दोनों को  न्यायिक हिरासत में भेज दिया. अनुसंधान पदाधिकारी जरूरत पर रिमांड के लिये  आवेदन करेंगे.  आरोपियों से जेल में पूछताछ की जा सकती है.
Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement