Advertisement

patna

  • Feb 11 2019 7:55AM
Advertisement

मुथूट फाइनेंस से लूटा गया आठ करोड़ का सोना बरामद, तीन लुटेरे गिरफ्तार, कंपनी देगी 30 लाख का पुरस्कार

मुथूट फाइनेंस से लूटा गया आठ करोड़ का सोना बरामद, तीन लुटेरे गिरफ्तार, कंपनी देगी 30 लाख का पुरस्कार
मुजफ्फरपुर/हाजीपुर/पटना : मुथूट फाइनेंस कंपनी से तीन दिन पहले लूटे गये 10 करोड़ (32 किलो) के सोना में से आठ करोड़ (26. 5 किलो) का सोना विशेष पुलिस टीम ने बरामद कर लिया है. पुलिस टीम ने गिरोह के सरगना विकास उर्फ गोरका के भाई अभिषेक झा समेत तीन लुटेरों को भी गिरफ्तार किया है. 
 
एक लुटेरा प्रोफेसर का बेटा है. सोना की बरामदगी के लिए पुलिस टीम लगातार 72 घंटे से मुजफ्फरपुर, समस्तीपुर, वैशाली, बेगूसराय व पटना में छापेमारी कर रही थी. उधर, मुथुट फाइनेंस कंपनी ने सोने की बरामदगी पर खुशी जाहिर करते हुए छापेमारी टीम के लिए 30 लाख रुपये के इनाम की घोषणा की है.  
 
बुधवार को अपराधियों ने यहां भगवानपुर चौक स्थित मुथूट फाइनेंस कंपनी के कार्यालय से करीब 32 किलो सोना लूट लिया था. इसकी कीमत करीब दस करोड़ रुपये है. एसएसपी मनोज कुमार ने कांड के उदभेदन के लिए विशेष टीम का गठन किया था.
 
सीसीटीवी फुटेज में दिखे बदमाशों के हुलिया की पहचान होने व सर्विलांस टीम की मदद से विशेष पुलिस टीम ने छापेमारी कर बरामदगी की. बिहार की सबसे बड़ी सोने की लूट कांड का उद्भेदन करने में पटना एसटीएफ, सीआइडी व क्राइम ब्रांच के अधिकारियों का काफी सहयोग मुजफ्फरपुर पुलिस को मिला. डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय एसआइटी समेत पूरी पुलिस टीम की कार्रवाई की मॉनीटरिंग कर रहे थे. मुजफ्फरपुर पुलिस के साथ समस्तीपुर जिले के डीआइयू प्रभारी विक्रम व वैशाली जिले के डीआइयू प्रभारी आलोक ने भी छापेमारी में सहयोग किया.
 
मुथूट फाइनेंस देगी 30 लाख का पुरस्कार
 
मुथूट फाइनेंस के चेयरमैन ने मुजफ्फरपुर पुलिस को 30 लाख रुपये पुरस्कार देने की घोषणा की है. लूटे गये सोना में से 80 प्रतिशत से अधिक बरामद होने की वजह से यह घोषणा की गयी है. यह राशि पुलिस मुख्यालय के माध्यम से टीम में शामिल पुलिसकर्मियों को दी जायेगी. बिहार की सबसे बड़ी लूट की घटना के बाद यह देश की सबसे बड़ी रिकवरी बतायी जा रही है.

बैग फटा तो गोबरसही में नयी ट्रॉली खरीद सोना रखा

कुछ राहगीरों ने भी पैकेट उठा लिये
 
एसएसपी ने बताया कि लूट के बाद भागने के क्रम में अपराधियों का बैग फट गया था. गोबरसही चौक पर बाइक रोक एक दुकान से नीले रंग की ट्रॉली बैग खरीदी थी. इसके बाद उसमें सोना शिफ्ट करके अपराधी भागे थे. उस बैग के साथ पूरा सोना बरामद कर लिया गया. 
 
अपराधियों के भागते समय बाइक से गिरने पर उनके बैग से सोने के कुछ पैकेट गिर गये, जिसे सड़क से गुजर रहे बाइक सवारों ने उठाया था. एसएसपी ने बताया कि उनकी तस्वीर फुटेज में कैद है. उनका बाइक नंबर भी सामने आ गया है. वे अच्छे नागरिक का परिचय देते हुए सोने का पैकेट सिटी एसपी राकेश कुमार के कार्यालय में आकर जमा कर दें, नहीं तो उनके खिलाफ भी कानूनी कार्रवाई की जायेगी.

इन पुलिसकर्मियों को किया जायेगा सम्मानित
 
सिटी एसपी राकेश कुमार, एएसपी अभियान विमेश चंद्र झा, नगर डीएसपी मुकुल कुमार रंजन, डीएसपी पूर्वी गौरव पांडेय, डीएसपी पश्चिमी कृष्ण मुरारी प्रसाद, नगर थानेदार धनंजय कुमार, काजीमोहम्मदपुर थानेदार मो. सुजाउद्दीन, इस्पेक्टर सुनील कुमार रजक, क्यूआरटी प्रभारी आरपी गुप्ता, सर्विलांस प्रभारी मणिभूषण कुमार, सरोज कुमार, नरेंद्र कुमार, मदुसूदन पासवान, मुशहरी थानेदार दारोगा धर्मेंद्र कुमार, मदुसूदन पासवान.
 
प्रोफेसरपुत्र के पास से 24.5 किलो सोना बरामद
 
इसके बाद वैशाली जिले के महुआ थाना क्षेत्र के चकमुजाहिद गांव में अभिषेक कुमार के घर पर छापेमारी कर एक काले रंग के ट्रॉली बैग से 24. 5 किलो सोना बरामद किया गया. अभिषेक को भी टीम ने गिरफ्तार कर लिया. वह प्रोफेसर का पुत्र है. 
 
घर में ईंट के नीचे छिपा रखा था दो किलो सोना 
 
पुलिस ने पहले समस्तीपुर के शहपुर पररा गांव में विकास उर्फ गोरका के घर पर छापेमारी की. वहां से उसके भाई सुभाष झा को गिरफ्तार किया. टीम ने ईंट के नीचे रखे करीब दो किलो सोना बरामद किया. सुभाष की निशानदेही पर बेगूसराय के समसा गांव के आलोक कुमार की गिरफ्तारी हुई.
 
मुथूट फाइनेंस कंपनी में डकैती का 72 घंटे के अंदर खुलासा कर दिया गया है. बेगूसराय, मुजफ्फरपुर, समस्तीपुर और वैशाली में छापेमारी की गयी. वैशाली के महुआ थाने के चक मुजाहिद गांव से 24.5 किलो सोना बरामद किया गया है.
-कुंदन कृष्णन, एडीजी, मुख्यालय
 

Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement