मुलायम सिंह यादव को पीजीआई में भर्ती कराया गया
Advertisement

patna

  • Apr 15 2019 2:50PM

BPSC कार्यालय के सामने धरने पर बैठे PT के अभ्यर्थी, कहा- 'न्याय नहीं, तो वोट नहीं'

BPSC कार्यालय के सामने धरने पर बैठे PT के अभ्यर्थी, कहा- 'न्याय नहीं, तो वोट नहीं'

पटना : बिहार लोक सेवा आयोग (बीपीएससी) की प्रारंभिक परीक्षा के परिणाम में धांधली का आरोप लगाते हुए अभ्यर्थियों ने सोमवार को आयोग के समक्ष विरोध जताते हुए धरने पर बैठ गये. 24 फरवरी को पीटी रिजल्ट आने के बाद से ही अभ्यर्थी धांधली का आरोप लगाते हुए विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं. 

अभ्यर्थी हाथों में बैनर-पोस्टर लेकर बिहार लोक सेवा आयोग के समक्ष सोमवार को धरने पर बैठ गये. उन्होंने कहा कि हमारे साथ न्याय नहीं किया जा रहा है. 'न्याय नहीं तो वोट नहीं' का बैनर लेकर धरने पर बैठे अभ्यर्थियों ने कहा कि अगर सरकार हमें न्याय नहीं देती है तो हम वोट का बहिष्कार करेंगे. वहीं, कुछ अभ्यर्थियों ने न्याय नहीं मिलने पर 'नोटा' का बटन दबाने की बात कही.  

मालूम हो कि अभ्यर्थियों ने बीपीएससी पर लगाया है कि पीटी परीक्षा में कुल 150 वस्तुनिष्ठ प्रश्न पूछे गये थे, जिनमें कई प्रश्न गलत पूछे गये थे. इनमें 15 सवालों के उत्तर गलत दिये गये हैं. अभ्यर्थियों ने कहा कि 'एनसीईआरटी ना बीटीबीसी ना सरकारी रिपोर्ट, बीपीएससी जो कहे, वही सही' कैसे हो सकता है. अभ्यर्थियों ने एनसीआरटी की उत्तर पुस्तिका को आधार बताते हुए बीपीएससी पर आरोप लगाया. साथ ही प्रतियोगी परीक्षाओं में धांधली बंद करने की बात कही.


Advertisement

Comments

Advertisement