Advertisement

patna

  • Sep 21 2019 9:13AM
Advertisement

बिहार की लेखिका उषा किरण को मिला उत्तर प्रदेश का प्रतिष्ठित भारत-भारती सम्मान

बिहार की लेखिका उषा किरण को मिला उत्तर प्रदेश का प्रतिष्ठित भारत-भारती सम्मान

पटना : उत्तर प्रदेश हिंदी संस्थान ने हिंदी-मैथिली की सुप्रसिद्ध लेखिका उषाकिरण खान को बहुप्रतिष्ठित भारत-भारती सम्मान देने की घोषणा की है. उत्तर प्रदेश हिंदी संस्थान के कार्यकारी अध्यक्ष डॉ सदानंद प्रसाद गुप्त की अध्यक्षता में गठित पुरस्कार समिति ने राजधानी पटना निवासी लेखिका डॉ उषा किरण खान को पांच लाख रुपये की राशि के साथ भारत-भारती पुरस्कार से नवाजा गया. पद्मश्री से सम्मानित डॉ उषा किरण खान ने हिंदी के साथ-साथ मैथिली में भी दर्जनों उपन्यास व कहानियां लिखी हैं. मैथिली में लेखन के लिए डॉ खान को साहित्य अकादमी पुरस्कार मिल चुका है. 

परिचय

उषा किरण खान का जन्म सात जुलाई 1945 को दरभंगा जिले के लहेरियासराय में हुआ था. हिंदी और मैथिली में लिखनेवाली उषा किरण खान ने कई उपन्यास, कहानी और नाटक लिखे हैं. उन्होंने बाल उपन्यास और बाल नाटक भी लिखे हैं. मैथिली में रचना के लिए उन्हें साहित्य अकादमी पुरस्कार भी मिल चुका है. पद्मश्री से सम्मानित डॉ खान को बिहार सरकार के राजभाषा विभाग की ओर से दिये जानेवाले हिंदी सेवी सम्मान के अलावा महादेवी वर्मा सम्मान भी मिल चुका है. अन्य सम्मान में दिनकर राष्ट्रीय पुरस्कार, कुसुमांजली पुरस्कार और विद्यानिवास मिश्र पुरस्कार शामिल हैं.

Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement